RTPCR टेस्ट क्षमता होगी दो गुनी..सिम्स को SECL से करीब 33 लाख की मदद..नई मशीन स्थापना के साथ…लैब को किया जाएगा अपग्रेड

बिलासपुर—-एसईसीएल प्रबंधन ने बताया कि जल्द ही कुछ ही दिनों के भीतर सिम्स में आरटीपीसीआर टेस्ट क्षमता दो गुनी हो जाएगी। एसईसीएल ने सीएसआर मद से करीब 32  लाख 90 हजार रूपया का एलान किया है। इस राशि को टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने  को लेकर लैब को  सर्वसुविधायुक्त बनाया जाएगा।

                                  एसईसीएल ने सीएसआर मद से सिम्स में आरपीसीआर टेस्ट क्षमता बढाए जाने को लेकर 32 लाख 90 हजार रूपए देने का एलान किया है। राशि को लैब को बेहतर और क्षमता वान  बनाया जाएगा। इसके बाद सिम्स में आरटीपीसीआर टेस्ट क्षमता दुगुनी हो जाएगी।

            जानकारी देते चलें कि वर्तमान में संस्थान के मोलेक्यूलर वायरोलोज़ी लैब में लगभग 700-800 सैंपल प्रतिदिन  जाँच हो रही है । एसईसीएल ने सीएसआर मद से 32.90 लाख रुपए स्वीकृत किए गए हैं। इस राशि से एक आरटी पीसीआर सिस्टम (कम्प्यूटर एवं यूपीएस सहित) एवं -70-80 डिग्री एवं –200 डिग्री के डीप फ़्रीज़र उपलब्ध कराए जाएँगे।

                  इससे सैम्पल जाँच में तेज़ी  आएगी। डीप फ्रिज़र के उपयोग से सैंपल के संग्रहण में भी सहूलिहत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *