इंडिया वाल

Astrology: 30 साल बाद बन रहे अद्भुत योग,शनि-शुक्र की युति से 4 राशि के जातकों को हो सकता है फायदा

Shani- Shukra Gochar: दो शुभ ग्रहों की युति 30 वर्ष बाद बन रही है। ऐसे में कुछ राशि के जातकों के लिए यह योग बहुत ही शुभ है।

Astrology- Saturn Venus Transit: जब दो ग्रह एक साथ एक ही राशि में होते हैं तो उसे ज्योतिष शास्त्र में युति कहा जाता है। न्यायाधीश शनिदेव 17 जनवरी को कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। वहीं, शुक्र भी 22 जनवरी रविवार को दोपहर 02 बजकर 23 मिनट पर कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। ज्योतिष शास्त्र में शनि और शुक्र को मित्र माना गया है। दोनों एक दूसरे की प्रभावशीलता को बढ़ाते हैं।

वहीं, शनि की मूल राशि कुंभ है। मूलत्रिकोण राशि में सभी ग्रह अपना पूर्ण प्रभाव देते हैं। दिलचस्प बात यह है कि कुंभ राशि में इन दोनों अनुकूल ग्रहों की युति 30 साल बाद बनी है। ऐसे में कुछ राशि के जातकों के लिए यह योग बहुत ही शुभ है। तो आइए जानें कि शनि और शुक्र की युति से किन राशि वालों को शुभ फल मिलेंगे-

मेष राशि के जातकों पर शनि-शुक्र के गोचर का प्रभाव

शनि और शुक्र की युति आपके लिए बहुत लाभदायक हो सकती है। यह युति आपकी कुंडली के एकादश भाव में होगी। इसे आय का भाव माना जाता है। तो इस अवधि में आपका खोया हुआ पैसा वापस मिलेगा या निवेश किया हुआ पैसा आपको अच्छा खासा मुनाफ़ा देगा। कार्यस्थल पर की गई कड़ी मेहनत का आर्थिक लाभ मिलने का समय आ गया है। नौकरी में प्रमोशन या बढ़ोतरी की संभावना है, वहीं व्यापार में बड़ा मुनाफा मिल सकता है। इस अवधि में आपके सुख-समृद्धि में वृद्धि होगी।

वृषभ राशि के जातकों पर शनि-शुक्र के गोचर का प्रभाव

इस राशि के लोगों के लिए शनि और शुक्र की युति सबसे अधिक फलदायी है। ये दोनों आपके दशम भाव में गोचर कर रहे हैं। यानी कार्यक्षेत्र में आपको अपनी मेहनत का पूरा फल मिलेगा। शनि की कृपा से नौकरी में तरक्की की संभावना है। आपको कोई नया और बेहतर जॉब ऑफर भी मिल सकता है। साथ ही आपके सुख-सुविधाओं में वृद्धि होगी। आप किसी नए स्थान पर जाएंगे और सभी सुख-सुविधाओं का आनंद लेंगे। व्यापार के क्षेत्र में आपको अच्छा लाभ मिलेगा। निवेश के नए अवसर मिलेंगे और व्यापार के विस्तार के लिए यह सही समय होगा।

CG-दुर्ग से प्रमोशन लिस्ट हुई जारी…देखिये पूरी सूची

सिंह राशि के जातकों पर शनि-शुक्र के गोचर का प्रभाव

इस राशि के लिए शनि और शुक्र अपने सप्तम भाव में युति कर रहे हैं। शुक्र को सप्तम भाव का स्वामी माना गया है। इस अवधि में आपका वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा। प्रेम संबंधों में मधुरता आएगी और विवाह की बात चल रही है तो विवाह होने की संभावना है। इस अवधि में आपकी नए लोगों से मुलाकात होगी, नए संबंध बनेंगे या व्यापारिक साझेदारियां शुरू होंगी। इस दौरान आपको अपनी पत्नी का पूरा सहयोग मिलेगा और आपसी रिश्ते प्रगाढ़ होंगे। व्यापार से जुड़े जातकों के लिए यह अवधि बहुत ही लाभदायक रहेगी।

मकर राशि वालों के लिए शनि और शुक्र की युति बहुत फायदेमंद हो सकती है। यह युति आपकी राशि से दूसरे भाव में बन रही है। यह धन का भाव है। आपको विभिन्न स्रोतों से आय प्राप्त होगी और आपके बैंक बैलेंस में वृद्धि होगी। पैतृक या पारिवारिक धन प्राप्ति की भी संभावना है। इस दौरान परिवार का पूरा सहयोग रहेगा और आपको पारिवारिक समय मिलेगा। अपनी वाणी का सदुपयोग करें, आपको तुरंत परिणाम मिलेगा। आप किसी का भी दिल जीत सकते हैं। मार्केटिंग, सेल्स आदि से जुड़े लोगों को विशेष लाभ मिलेगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS