इंडिया वाल

Shani देव करेंगे प्रिय राशि कुंभ में प्रवेश, इन राशियों की चमक सकती है किस्मत, करियर- कारोबार में तरक्की के योग

Saturn Planet Gochar In Kumbh: वैदिक पंंचांग के अनुसार शनि देव 17 जनवरी को कुंभ राशि में प्रवेश (Shani Planet Transit in Kumbh) करने जा रहे हैं। कुंभ राशि शनि देव की मूल त्रिकोण राशि मानी जाती है। मतलब शनि देव कुंभ में शुभ फल प्रदान करते हैं। इसलिए शनि के गोचर से इन राशियों को धनलाभ और तरक्की के योग बन रहे हैं। आइए जानते हैं ये राशियां कौन सी हैं…

धनु राशि (Dhanu Zodiac)

शनि देव का गोचर धनु राशि के जातकों को लाभप्रद हो सकता है। क्योंकि शनि देव के गोचर करते ही आपको साढ़ेसाती से मुक्ति मिल जाएगी। वहीं शनि देव आपकी गोचर कुंडली के तीसरे भाव में गोचर करेंगे। जो अभी धन स्थान में हैं। इसलिए इस अवधि में उन लोगों को विशेष लाभ होगा जिनका व्यापार विदेश से जुड़ा हुआ है या जो विदेश में जाकर धनार्जन करना चाहते हैं। वहीं जिनका काम टूर एंड ट्रैवल्स, लोहा का है। उनको इस समय विशेष धनलाभ होगा। साथ ही अगर आप कोई कला के क्षेत्र, सिंगर हैं, तो यह समय आपको शानदार सिद्ध हो सकता है। आत्म विश्वास बढ़ेगा। साहस- पराक्रम में वृद्धि होगी।

मकर राशि (Makar Zodiac)

आप लोगों के लिए शनि देव का राशि परिवर्तन शुभ साबित हो सकता है। क्योंकि आप पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है और 17 जनवरी से शनि देव उतरने शुरू हो जाएंगे। साथ ही आपकी गोचर कुंडली के धन भाव में गोचर करेंगे। इसलिए इस समय आप आर्थिक रूप से मजबूत होंगे। साथ ही परिवार के साथ मतभेद हो सकते हैं। साथ ही जो लोग अविवाहित हैं, उनको विवाह का प्रस्ताव आ सकता है। नौकरी की तलाश में लोगों को जॉब मिल सकती है।

'भूल भुलैया 2' में अक्षय के किरदार में दिखेंगे कार्तिक, इस दिन होगी रिलीज

कुंभ राशि (Kumbh Zodiac)

शनि का गोचर कुंभ राशि के जातकों को लाभप्रद सिद्ध हो सकता है। क्योंकि यह राशि शनि देव की प्रिय राशि है। वहीं 17 जनवरी को शनि देव साढ़ेसाती का पहला फेस कंपलीट कर लेंगे और दूसरा फेस शुरू हो जाएगा। इस दूसरे फेज में शश नामक राजयोग बनेगा। जिससे मान- सम्मान की प्राप्ति होगी। साथ ही कार्यों में सिद्धि होगी। वहीं जो लोग राजनीति से जुड़े हुए हैं, वो चुनाव जीत सकते हैं। उनको किसी पद की प्राप्ति हो सकती है।

मिथुन राशि (Mithun Zodiac)

आप लोगों के लिए शनि का राशि परिवर्तन अनकूल साबित हो सकता है। क्योंकि शनि के गोचर करते ही आप लोगों को ढैय्या से मुक्ति मिल जाएगी। साथ ही इस समय आपको किस्मत का साथ मिलेगा। कार्य में सिद्धि मिलेगी। धर्म के कार्यों में आपकी रूचि बढ़ेगी। साथ ही अगर घर में किसी बुजुर्ग की सेहत खराब चल रही थी, उसमें सुधार आएगा। वहीं आपकी सेहत में भी सुधार आएगा। साथ ही पिता के साथ संबंध मजबूत होंगे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS