प्रदेश मुखिया भूपेश ने बताया..सरकारी संपत्ती बेच रही केन्द्र सरकार..आवाज उठाने वालों का किया जा रहा दमन..लेकिन कांग्रेस के सिपाही झुकेंगे नहीं

बिलासपुर–बढ़ती हंगाई के विरोध में प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने राजभवन घेराव किया। राज्यपाल के नाम राष्ट्रपति को ज्ञापन दिया। इसके पहले कांग्रेस नेताओं ने अम्बेडकर चौक पर विशाल धरना को संबोधित किया। महंगाई के लिए केन्द्र सरकार की गलत नीतियों और पूंजीपतियों की साजिश को बताया।
                      रायपुर स्थित अम्बेडकर चौक में प्रदेश कांग्रेस ने महंगाई, बेरोजगारी के खिलाफ विशाल धरना दिया। इस दौरान उपस्थित लोगों को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से संबोधित किय। कांग्रेसियों ने केन्द्र सरकार पर तानाशाही का आरोप भी लगाया। प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल और पीसीसी प्रमुख  मोहन मरकाम की अगुवाई में प्रदेश कांग्रेस नेताओं ने अम्बेडकर चौक से राजभवन तक मार्च किया। राजभवन का घेराव कर राज्यपाल  को ज्ञापन दिया। साथ ही महंगाई को लेकर आक्रोश भी जाहिर किया।
            धरना और राजभवन घेराव कार्यक्रम में बिलासपुर जिला कांग्रेस कमेटी शहर और  ग्रामीण कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शिरकत किया। कार्यक्रम में सैकड़ों पदाधिकारियों के अलावा तखतपुर विधायक संसदीय सचिव रश्मि सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष ग्रामीण विजय केशरवानी, जिला कांग्रेस शहर अध्यक्ष विजय पाण्डेय, प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय, पूर्व विधायक दिलीप लहरिया, प्रदेश अनुसुचित जनजाति के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार अंचल, ब्लाक अध्यक्ष विनोद साहू, शहर कांग्रेस कोषाध्यक्ष नसीम खान, पार्षद अब्दुल खान, जिला कांग्रेस महिला अध्यक्ष सीमा घृतेश, सेवादल के मोहम्मद अयुब, अजय काले, बिंदु जायसी, जिला पंचायत सदस्य किरण यादव, आईटी सेल के रोहितास, करम गोरख, उमेश कश्यप, पूर्व पार्षद तैयब हुसैन ने शिरकत किया।
           धरने को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि केन्द्र सरकार की गलत नीतियों का खामियाजा गरीब जनता को महंगाई  के रूप में भुगतना पड़ रहा है। सरकार लगातार सरकारी सम्पत्तियों को बेच रही है।संसेक्स की तरह बेरोजगारी दर दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। केन्द्र सरकार युवाओं के साथ मजाक कर रही है। अव्यवस्था के खिलाफ आवास उठाने वाले विपक्षी पार्टी के नेताओं का दमन किया जा रहा है। लेकिन कांग्रेस डरने वाली पार्टी नहीं है।
             प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि जिनको आजादी की लड़ाई के समय तिरंगा पकड़ने की याद नहीं है। आज वही लोग तिरंगे की बात कर रहे हैं। मोहन मरकाम ने बताया कि कांग्रेस का कार्यकर्ता मुख्यमंत्री भूपेश्ज्ञ बघेल और प्रदेश कांग्रेस के नेतृत्व में सोनिया और राहुल गांधी के साथ खड़ा है। उन्होने कहा कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को राष्ट्रीय ध्वज डाक से भेजा गया है। साथ ही पत्र लिखकर बताया गया है कि ध्वज को पहले नागपुर के आरएसएस कार्यालय में फहराये। इसके बाद जनता से अपील करें।
                 राजभवन जाने वाले प्रतिनिधि मण्डल में जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी और  जिला अध्यक्ष विजय पाण्डेय ने धरना और राजभवन घेराव कार्यक्रम में अग्रणी भूमिका का निर्वहन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *