हमार छ्त्तीसगढ़

हथबंद में खुलेगा स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल

रायपुर/ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राज्य सरकार जनता से किया हर वायदा पूरा कर रही है। भेंट-मुलाकात कार्यक्रम देश का पहला कार्यक्रम है जिसमें मुख्यमंत्री स्वयं जनता के बीच जाकर योजनाओं की जमीनी हकीकत जानते हैं। भेंट मुलाकात कार्यक्रम 4 मई से शुरू हुआ है, अब तक दो तिहाई से ज्यादा विधानसभा में इस कार्यक्रम का आयोजन हो चुका है।

उन्होंने कहा कि हमने जनता से जो भी वायदा किया है, वो सब पूरा कर रहे हैं। जनता के हित में ऐसी अनेक कल्याणकारी योजना को भी लागू किया गया है, जिनका वायदा नहीं किया था। मुख्यमंत्री आज बलौदाबाजार विधानसभा के ग्राम पुरैना-खपरी में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे भेंट-मुलाकत कार्यक्रम में सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन की जानकारी लेने, हितग्राहियों से मिलने, आमजनों का हालचाल जानने के लिए पुरैना-खपरी आए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार बनते ही सबसे पहले हमने किसानों की ऋण माफी की।

छत्तीसगढ़ सबसे पहला राज्य है, जहां किसानों को समर्थन मूल्य और इनपुट सब्सिडी मिलाकर धान का सबसे ज्यादा मूल्य मिल रहा है। अभी तक राजीव गांधी किसान न्याय योजना के 3 किस्त दी जा चुकी है और चौथा किस्त 31 मार्च के पहले दी जाएगी। छत्तीसगढ़ धान खरीदी में रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बनाए जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम स्थल में छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र में पुष्प अर्पित कर, राज्यगीत अरपा पैरी के धार के गायन से भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरुआत की। यहां उन्होंने विभिन्न हितग्रहियों को सामग्री और सहायता राशि के चेक वितरित किए। इस दौरान पूर्व सासंद छाया वर्मा, संसदीय सचिव द्वय कसडोल विधायक शकुंतला साहू और बिलाईगढ विधायक चंद्रदेव राय, छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष शैलेष नितिन त्रिवेदी भी उपस्थित थे।

स्वतंत्रता दिवस पर शहीदों के परिजनों का हुआ सम्मान

मेघनाथ ने कहा- ट्रैक्टर भूपेश कका का चिन्हा है

भेंट-मुलाकात में किसान मेघनाथ यादव ने बताया कि 10 एकड़ जमीन है। भर्री में सब्जी लगाते हैं। 4 लाख 38 हजार रुपये ऋण लिया था जिसमे 3 लाख रुपये माफ हुआ। कर्ज माफ होने के बाद ट्रैक्टर खरीदा। किसान ने कहा ट्रैक्टर भूपेश कका का चिन्हा है।

बहू के लिए गहना लिया। चन्नूलाल ने बताया कि 6 एकड़ में धान की बोवाई किया है। लेकिन परिवारिक विवाद के कारण शासन की योजनाओं का लाभ नहीं मिला। मुख्यमंत्री ने नियमानुसार प्रकरण का निराकरण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

किसान न्याय योजना की किस्त से रमेश ने लगावाए दो ट्यूबवेल-

भेंट-मुलाकात में रमेश मिश्रा ने बताया 35 एकड़ में खेती है। 4 लाख का कर्ज माफी हुआ है। उसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद। वर्तमान में राजीव गांधी किसान न्याय योजना की किस्त भी मिल रही है। खेत में दो ट्यूबवेल कराया हूँ। आपके योजनाओ के लिए बहुत बहुत आभार। मुख्यमंत्री ने कहा हमारी योजनाओं से खेती के रकबा में बढ़ोत्तरी हुई है साथ ही उत्पादन में बहुत अधिक बढ़ोत्तरी हुई है। अभी 103 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई है। अभी 31 जनवरी तक खरीदेंगे, 110 लाख मीट्रिक टन खरीदेंगे ऐसा अनुमान है।

किसान हमारे अन्नदाता हैं-

मुख्यमंत्री ने कहा कि सबको राशन मिले इसके लिए सबके लिए राशन कार्ड बनाया गया है। वैजयंती ने बताया कि घर में 4 सदस्य है। 35 किलो चावल फ्री में मिलता है। नमक और शक्कर भी मिलता है। स्वास्थ्य खराब होने के कारण इलाज में 80-90 हजार रुपया लग गया। आर्थिक सहायता हेतु निवेदन किया। मुख्यमंत्री ने उन्हें एक लाख रुपये देने की घोषणा की।

पेंशनरो के लिए आधार की अनिवार्यता नहीं

श्रीमती केशरी ध्रुव ने बताया कि परिवार में 3 सदस्य है। 35 किलो चावल मिल रहा है। पहले संयुक्त राशन कार्ड था सास के साथ। अब राशन कार्ड अलग होने से पर्याप्त चावल मिल रहा है। चावल खरीदने के जो पैसा बच रहा है उससे घर के खर्च चल जा रहा है। आपके दया से हमे राशन मिल रहा है आप हमारे लिए अन्नदाता है आपका आभार। मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्नदाता मैं नहीं, मेरे सामने बैठे सभी किसान अन्नदाता हैं।

राजेन्द्र वर्मा ने बताया उन्होंने मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना से डेयरी खोला है। गोधन न्याय योजना से लाभ भी लिया। गोधन न्याय योजना से आश्रित गांव के हितग्राहियों से गोबर नही खरीदने की शिकायत की। मुख्यमंत्री ने तुरंत गोबर खरीदने अधिकारियों को आदेशित किया। किशन लहरे ने बताया राशन कार्ड नहीं बन पा रहा है 3 माह से चक्कर लगा रहा हू। मुख्यमंत्री ने कहा कि वेरिफिकेशन के बाद कार्ड बनेगा। मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत सचिव की शिकायत की जांच के निर्देश अधिकारियों को दिए।

स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल की 11वी की छात्रा अनमोल पांडे ने मुख्यमंत्री से बातचीत की । छात्रा ने उत्कृष्ट स्कूल के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने ने अपने स्कूल के बारे में विस्तार से जानकारी दी और सभी बच्चों की तरफ से धन्यवाद दिया। साथ ही ऑटोग्राफ के लिए निवेदन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे बच्चे इतना सुग्घर अंग्रेजी बोल रहे हैं, बहुत अच्छा लगता है।

चमेली निषाद अपने समूह के साथ वर्मी कम्पोस्ट बनाती हैं, अब तक 623 क्विंटल बना चुकी हैं, 2 लाख 40 हजार रूपए का बेच चुकी है। उन्होंने बताया इस साल मुझे 10 हजार रूपए मिला, पिछले साल 15 हजार मिला था। नव शक्ति स्व-सहायता समूह की सदस्य ने बताया 60 हजार ऋण लिए है। सब्जी-भाजी लगा कर वर्मी कम्पोस्ट से खेती कर रहे हैं। योजना के लिए उन्होंने धन्यवाद दिया।

स्कॉर्पियो चोर चढ़ा पुलिस के हत्थे,प्रेस वार्ता में SP ने किया खुलासा

हाट बाजार क्लीनिक योजना की हितग्राही दुलरवी वर्मा ने बताया शुक्रवार को गाड़ी आती है, पूरी बस्ती इलाज कराती है। बीपी, शुगर, सर्दी बुखार सबका चेक होता है, निशुल्क दवाई मिलती है। परिवार में 2 लोग है बेटी विकलांग है आने जाने में बहुत ज्यादा तकलीफ होता है, आपके योजना के कारण हमें बहुत सहूलियत हो रही है। इसके लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

भेंट-मुलाकात में मुख्यमंत्री की घोषणाएं-

मुख्यमंत्री ने पुरैना-खपरी में जनप्रतिनिधियों और आम जनता की मांग पर अनेक घोषणाएं की। उन्होंने पुरैना-खपरी की प्राथमिक शाला के माध्यमिक शाला में उन्नयन, पुरैना खपरी में सर्व समाज के लिये भवन के निर्माण, पड़कीडीह- रावन-हिरमी सड़क के निर्माण, ग्राम हिरमी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने, लटुआ एवं सलौनी के हाईस्कूल का हायर सेकेंडरी में उन्नयन, हथबंद में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल प्रारंभ करने, शासकीय दाऊ कल्याण महाविद्यालय बलौदाबाजार के नवीन भवन के निर्माण, बलौदाबाजार-हिसदा बायपास मार्ग लंबाई 7 किलोमीटर का 17 करोड़ 61 लाख रुपए की राशि से निर्माण कराने की घोषणा की।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS