मेरा बिलासपुर

खुद के खर्च पर शिक्षकों की टीम महाराष्ट्र रवाना ..कोविड काल में आनलाइन पठन पाठन का करेंगे अध्ययन..प्रदेश लौटने पर करेंगे अनुभवों को साझा

बिलासपुर– कोरोना काल में आनलान पठन पाठन का छात्रों पर पड़ने वाले प्रभाव का असर देखने शिक्षकों का समूह महाराष्ट्र के लिए शनिवार को रवाना हुई। इस दौरान सभी शिक्षक शैक्षणिक गतिविधियों के अलावा धार्मिक यात्रा में भी शामिल होंगे।
 
                    छत्तीसगढ़ बिलासपुर से शिक्षको का 6 सदस्यीय टीम पांच दिवसीय यात्रा पर शनिवार को महाराष्ट्र के लिए रवाना हुई। शिक्षक दल के सदस्य महेन्द्र साहू ने बताया कि महाराष्ट्र के चुनिन्दा स्कूल पहुंचकर छात्रों के बीच संवाद करेंगे। कोरोना काल के दौरान महाराष्ट्र में पठन पाठन की जानकारी लेंगे। आनलाइन पढ़ाई को लेकर छात्रों पर पड़ने वाले प्रभाव का भी अध्ययन करेंगे। 
 
                                 महेन्द्र साहू ने बताया कि इस दौरान शिक्षा व्यवस्था और शासन के प्रयास से उठाए गए कदमों को समझने का प्रयास करेंगे। साथ ही छत्तीसगढ़ की शिक्षा व्यवस्था से तुलनात्मक अध्ययन भी करेंगे।साहू ने बताया कि कोरोना महामारी का सबसे ज्यादा दंश महाराष्ट्र के लोगों ने झेला है। धीरे धीरे अब परिस्थितियां सामान्य हुई हैं। कोरोना काल का  लोगों के रहन सहन, दैनिक दिनचर्या और स्कुल की पढ़ाई पर क्या असर पड़ा है। शिक्षकों की टीम सभी पहलुओं पर गंभीरता के साथ अध्ययन करेगी। इन दो सालों में वहां के लोगों की सोच और स्वास्थ्य के प्रति नजरिए में क्या परिवर्तन आया है…अध्ययन के दौरान इस बात पर भी गौर किया जाएगा।
 
                 शासन की शिक्षा के विकास के लिए कौन कौन से कदम उठाए गए हैं? धार्मिक स्थलों में लोग कितना कोरोना गाइड लाइन का पालन किया जा रहा है। पालक और जनप्रतिनिधियों का सहयोग कितना मिल रहा है । इन सभी बातों को समझने छत्तीसगढ़ से शिक्षकों का दल 5 दिवसीय शैक्षणिक एवं धार्मिक यात्रा पर रवाना हुआ। महेन्द्र साहू ने बताया कि यात्रा की शुरुआत शिरडी में साईं बाबा के दर्शन से शुरू होगा। सभी शिक्षक शनि शिंगणापुर पहुंचकर भगवान शनिदेव का भी आशीर्वाद लेंगे। ऐतिहासिक एलोरा की गुफाओं और दौलताबाद के किलों के साथ औरंगाबाद स्थित मिनी ताजमहल की वास्तुकला का भी अवलोकन करेंगे। इस दौरान सभी स्कूलों का भ्रमण भी करेंगे।यात्रा के दौरान  भगवान शिव के तीनों ज्योतिर्लिंग घृष्णेश्वर, भीमाशंकर और त्रयंबकेश्वर के दर्शन भी करेंगे। और प्रदेश के लिए सुख समृद्धि का आशीर्वाद लेंगे। अवकाश के दिनों का शैक्षणिक गतिविधियों में उपयोग करते हुए बिलासपुर से रवाना हुए सभी 6 शिक्षक महाराष्ट्र की यात्रा से लौटकर अपने अनुभवों को सभी छात्रों और स्कूल प्रबंधन से साझा करेंगे।
 
                                      महाराष्ट्र यात्रा पर रवाना होने वाले 6 सदस्यीय शिक्षकों की टीम में व्याख्याता शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तिफरा से जय कौशिक, संकुल समन्वयक सेंदरी से विजय तिवारी, सहायक शिक्षक मुढ़ीपार बिल्हा डा.महेंद्र साहू, जिला पंचायत बिलासपुर अध्यक्ष के निज सहायक बलभद्र वर्मा, विकास खण्ड शिक्षा कार्यालय बिल्हा से लिपिक  धनंजय कर्ष और सहायक शिक्षक लालजी साहू  शामिल हैं।

जोगी का भैंसा और तिल्दा में विशाल जनसभा...कहा..सरकार बनते ही पूंजीपतियों से छीनेंगे पानी का अधिकार
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS