धरमलाल बताएं..आपने 5 साल क्या किया.. FIR भी दर्ज नहीं होने दिया..अब बहा रहे घड़ियाली आंसू..सरकार कर रही वादा पूरा

BHASKAR MISHRA
4 Min Read
बिलासपुर—-पर्यटन बोर्ट चैयरमेन अटल श्रीवास्तव ने विधानसभानेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के छत्तीसगढ़ में बढ़ते अपराध और शराब बिक्री के बयान पर प्रतिक्रिया दी है। अटल ने कहा कि शराब को उच्च शिखर स्तर पर पहुचाने वाले अब पद जाते ही चिंतित हो रहे हैं। यदि पहले ही चिंता कर लेते तो शायद प्रदेश का कल्याण हो जाता और पद पर बने रहते।
 
                   छत्तीसगढ़ पर्यटन मण्डल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव और जिला सहकारी केंद्रीय बैंक अध्यक्ष प्रमोद नायक ने कहा कि भाजपा ने 2014 के अपनी घोषणा पत्र में शराब बंदी की बात की। लेकिन जैसे ही सत्ता में आए तो शराबबन्दी के वादे से पीछा छुड़ा लिया। लोगों का ध्यान भटकान  कमेटी का गठन कर जन भावनाओं से खेलते रहे। पांच वर्ष बीत जाने के बाद रिपोर्ट नही आई और न ही शराब बंदी के लिए कोई ठोस पहल ही किया गया। 
 
               अटल ने कहा कि कांग्रेस ने 2000–01 में छत्तीसगढ़ को 32.61करोड़ शराब से आय होती थी। भाजपा सरकार ने 15 वर्षो के कार्यकाल में शराब को ही आय का साधन बना लिया। इन 15 वर्षों में शराब बिक्री से 100 प्रतिशत से ज्यादा लाभ लेने के चक्कर में रहे। 2018 में डॉ रमन सिंह ने बाकायदा लक्ष्य निर्धारित करते हुए ,शराब की बिक्री से आय को 3800 करोड़ रखा। जबकि इसके पहले वर्ष में मात्र 3200 करोड़ की बिक्री हुई थी।
 
                      कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा ने अवैध बिक्री का बहाना बनाकर शराब के निगम बनाकर सरकारीकरण किया। शराबियो को आकर्षित करने के लिए हाई टेक् दुकाने संचालित करने लगी।अटल ने बताया कि शराब बिक्री को लेकर डॉ रमन सिंह ने मुख्यमंत्री के रूप में कहा था कि सरकार ने जनहित में निर्णय लिया है। किसी के धरने-प्रदर्शन से कोई फर्क नही पड़ेगा। इसी तरह तत्कालीन आबकारी मंत्री अमर अग्र्रवाल ने कहा था कि ” सरकार शराब बेचेगी तो अवैध तरीके से बिकने वाली शराब पर रोक लगेगी ।
 
              अटल ने बताया कि ऐसे गैर जिम्मेदाराना बयान के साथ खड़े रहने वाले नेता प्रतिपक्ष को को छत्तीसगढ़ में शराब के कारण बढ़ते अपराध पर चिंतित है लेकिन नेता प्रतिपक्ष ये भूल जाते है कि उन्ही की पार्टी के पूर्व मंत्री स्वर्गीय बलिहार सिंह और उनके परिवार पर दारू लॉबी ने कातिलाना हमला किये थे? इसी प्रकार सिलयारी रायपुर में अवैध शराब के विरोध करने पर कांग्रेस नेता कन्हैया यादव और प्रकाश सिंह ठाकुर पर गुर्गे कातिलाना हमला कर जान से मारने की कोशिश किए। भाजपा सरकार ने एफआईआर तक होने नही दिया ।
 
            कांग्रेस नेता ने कहा कि भूपेश सरकार अपनी घोषणा पत्र में किये वादों को पूरा कर रही है। छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ की जनता के लिए उनके हित मे ही निर्णय लेंगे । कांग्रेस ने कौशिक से पूछा कि भाजपा ने 2014 में अपनी घोषणा पत्र में शराबबंदी की बात की ,वो पूर्ण क्यो नही किया गया?  
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close