मेरा बिलासपुर

65 लाख का टन्डर संयुक्त संचालक ने किया निरस्त.. मल्हार नगर पंचायत का मामला..आजाद मंच के नेता ने कहा..अधिकारियों के खिलाफ भी प्रशासन करे कार्रवाई

बिलासपुर—मल्हार स्थित नगर पंचायत में ळाखों रूपयों का टेन्डर घोटाला उजागर होने के बाद संयुक्त संचालक ने 65 लाख का टेन्डर निरस्त कर दिया है। मामले को लेकर आजाद मंच के नेता विक्रांत ने खुशी जाहिर किया है। विक्रांत ने बताया कि फाइट अगेस्ट करप्शन मुहिम को सफलता मिली है। मल्हार नगर पंचायत में विवादित निविदा क्रमांक 1839  में नगर पंचायत स्टाफ ने मिलीभगत कर 65 लाख का टेन्डर नियम विरुद्ध जारी किया है। आने वाले समय में हमारा अभियान लगातार जारी रहेगा।
          
                  आजाद मंच के नेता विक्रांत तिवारी ने बताया कि फाइट अगेंस्ट करप्शन मुहिम के प्रयास से संयुक्त संचालक ने मल्हार नगर पंचायत से जारी निविदा क्रमांक 1839 को निरस्त कर दिया है। 9 दिसंबर 2022 को पत्रकार वार्ता में आजाद मंच ने खुलासा किया था कि मल्हार नगर पंचायत के निविदा क्रमांक 1839 में नगर पंचायत स्टाफ मिलिभगत कर 65 लाख के भ्रष्टाचार को अंजाम दिया है। आजाद मंच के कार्यकर्ताओं ने भ्रष्टाचार के खइलाफ संयुक्त संचालक का घेराव भी किया था। हमने लिखित शिकायत कर बताया था भ्रष्टाचार में शामिल सीएमओ, सब इंजीनियर और बाबू पर कड़ी कार्यवाही की जाए। संयुक्त संचालक ने कार्यवाही कर निविदा को निरस्त कर दिया है I 
 
                     विक्रांत तिवारी ने कहा कि हमारी मांग सिर्फ विवादित निविदा को निरस्त करना ही नहीं बल्कि  निविदा को विवादित बनाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। यदि अगर मल्हार सीएमओ और उपअभियंता को बचाने का प्रयास किया गया तो हम संयुक्त संचालक कार्यालय का घेराव करेंगे। भ्रष्ट अधिकारियों को संरक्षण देना भी भ्रष्टाचार को बढ़ावा देना है। 
 
            आजाद मंच के नेता ने कहा कि हमारे पास कई विभागों से भ्रष्टाचार की शिकायतें मिली है। संतुष्ट होने पर विभागों की कारगुजारियों का समय पर खुलासा करेंगे। फिलहाल हमारा प्रयास होगा कि मल्हार नगर पंचायत में निविदा के साथ छेड़छाड़ करने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो।

इस दिवाली गोबर से बने रंग बिरंगे दिये से रोशन होगा घर - आंगन
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS