मेरा बिलासपुर

फर्जी दस्तावेज से जमीन मालिक से ही किया सौदा…आरोपियों ने दिखाया मुख्यतारनामा..फिर..पुलिस ने तीनों को किया गिरफ्तार

बिलासपुर—फर्जी दस्तावेज तैयार कर जमीन का सौदा करने वाले आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा है। मामले में सुमीत गुप्ता ने सिविल लाइन थाना में शिकायत दर्ज कराया था। शिकायत के अनुसार आरोपियों ने पर्जी मुख्तयारनामा कर सुमीत की जमीन की बिक्री किया। फर्जीवाड़ा में शामिल तीन आरोपियों को पुलिस ने आईपीसी की धारा 420, 467 468 420 511 120 (बी) के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय के सामने पेश किया। आरोपियों का नाम जगन्नाथ गुप्ता,रविशंकर मानिकपुरी और संजय मेहर है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

सिविल लाइन पुलिस के अनुसार हटरी बाजार बिल्हा निवासी सुमीत गुप्ता ने लिखित आवेदन पेश किया। सुमीत ने बताया कि बिनौरी स्थित पटवारी हल्का नम्बर  46 की खसररा नम्बर  353/1, 353/2 जमीन उसकी है। दोनो खसरा में 0.36 0.36 एकड यानी कुल 72 डिसमील  एकड जमीन है।

कुछ दिन पहले एक मित्र ने बताया कि कोई व्यक्ति फर्जी दस्तावेज बनाकर जमीन विक्रय का प्रयास कर रहा है। इसके बाद मित्र के साथ रणनीति के तहत फर्जीवाड़ा करने वाले व्यक्ति से जमीन खरीदने के लिए सम्पर्क किया। 17 मई 2024 को उसके मित्र के आफिस में कमल प्रसाद पटेल को बुलाकर जमीन खरीदने की बात किया। उसने सभी दस्तावेज को दिखाया। इस दौरान इस बात की पुष्टि हो गई कि कमल प्रसाद पटेल अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार किया है।

 आरोपियों ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर जमीन का पावर आफ एटर्नी यानी मुख्तियारनामा रजिस्ट्री आफिस बिलासपुर के माध्यम से तैयार किया है। पुलिस ने सुमित की शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज किया। मामले में पुलिस कप्तान रजनेश सिंह ने फर्जीवाड़ा करने वालों को तत्काल गिरफ्तारी का आदेश दिया।

अतिरिक्त पुलिस कप्तान उमेश कश्यप ने बताया कि तत्काल टीम तैयार कर आरोपियों को आईपीसी की धारा 467 468 420 511 120 (बी) के तहत गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए तीनों आरोपी जगन्नाथ गुप्ता ग्राम सिलतरा,रविशंकर मानिकपुरी महामाया गली और संजय मेहर ग्राम निगारबंद थाना तखतपुर का रहने वाला है।

                   

Back to top button
close