आपणो राजस्थान

बढ़ती महंगाई का जवाब है इस बार का Budget

Budget News/जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से इस वर्ष बचत-राहत- बढ़त थीम पर प्रस्तुत किए गए ऎतिहासिक बजट की महत्वपूर्ण घोषणाओं और सरकार की उपलब्धियों के साथ महंगाई से राहत पर शनिवार, 04 मार्च को मंत्रियों व विधायकों ने अपने प्रभार वाले जिलों में आयोजित प्रेसवार्ताओं में मीडिया से संवाद किया।  
दौसा ः मंत्री श्री विश्वेंद्र सिंह बोले, क्रियान्वयन में कोताही पर होगी कठोर कार्रवाई 
जिला प्रभारी मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कलेक्ट्रेट सभा भवन में आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित करते हुए सर्वप्रथम ऎतिहासिक बजट के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत को धन्यवाद दिया और कहा कि जिले में आमजन को समय पर आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिये सभी विभागीय अधिकारी सक्रिय रहकर कार्य करें। आमजन की समस्याओं के समाधान व योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में कोताही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में आमजन को समय पर पेयजल सुविधा उपलब्ध करवाने के प्रयास किये जा रहे हैं। जिले में सड़कों के निर्माण व बजट घोषणाओं के समय पर क्रियान्वयन के लिये प्रयास चालू कर दिये गये हैं। इस अवसर पर जिला कलक्टर कमर चौधरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर सुरेश कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. लालचन्द कायल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामकिशोर मीना, उपखंड अधिकारी नीतू करोल सहित अन्य अधिकारी एवं प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया के संवाददाता उपस्थित थे।
बीकानेरः मंत्री श्री मेघवाल ने कहा, मुख्यमंत्री गहलोत ने राजस्थान को दिया सर्वश्रेष्ठ बजट
आपदा प्रबंधन एवं सहायता विभाग मंत्री श्री गोविंद राम मेघवाल ने कहा कि राज्य का वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट ऎतिहासिक है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने राजस्थान को देश का सर्वश्रेष्ठ बजट दिया है, जिसकी चर्चा पूरे देश में है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश को 19 हजार करोड़ रुपए से अधिक राशि का ’महंगाई राहत पैकेज’ दिया है, जिससे आमजन को राहत मिलेगी। उन्होंने बताया कि गत चार वर्ष की जिले से संबंधित 129 में से 64 घोषणाओं का क्रियान्वयन किया जा चुका है। अन्य 51 प्रगतिरत हैं। मुख्यमंत्री ने बजट घोषणाओं में बीकानेर का विशेष ध्यान रखा है। भड़ला में 400 केवी, पूगल में 132 केवी और मेउसर, भानसर और उड़सर में 33 केवी जीएसएस स्थापित किए जाएंगे। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में गंगाशहर, मोमासर और गोडू में राजकीय महाविद्यालय तथा नापासर और मुरलीधर व्यास कॉलोनी में राजकीय कन्या महाविद्यालय खोले जाएंगे। राजकीय डूंगर महाविद्यालय में ऑडिटोरियम और पॉलिटेक्निक कॉलेज में केमिकल ब्रांच शुरू की जाएगी। उन्होंने बताया कि श्रीडूंगरगढ़ के निवासियों की ट्रोमा सेंटर की मांग इस बजट ने पूरी कर दी है। मंत्री ने कहा कि बीकानेर में एग्रो पार्क की स्थापना, नोखा में सहायक निदेशक कृषि विस्तार कार्यालय खोलना, खाजूवाला में कपास मंडी और गिराजसर में गौण मंडी बनाना तथा जैसी घोषणाएं किसानों के लिए लाभदायक रहेंगी। प्रेस वार्ता के दौरान जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल, पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (प्रशासन) ओमप्रकाश सहित अन्य अधिकारी गण मौजूद रहे।
जालोर ः प्रभारी मंत्री श्री अर्जुनिंसह बामनिया ने जिले को मिली सौगातों पर दी जानकारी
राज्य के जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री अर्जुनिंसह बामनिया ने राज्य व जिले से संबंधित महत्वपूर्ण उपलब्धियों के संबंध में मीडियाकर्मियों से संवाद किया। उन्होंने राज्य सरकार के वर्ष 2023-24 के बजट को ऎतिहासिक बताते हुए कहा कि इस बार के बजट में जालोर जिले में मोबाइल टेस्टिंग लैब उपलब्ध करवाने के साथ ही सीएचसी सांचौर को उप जिला अस्पताल में क्रमोन्नत करने एवं उम्मेदपुर, उण (आहोर) व डावल (सांचौर) में नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोले जाने की सौगात दी गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा जालोर जिले में मेडिकल कॉलेज खोले जाने की महत्वपूर्ण घोषणा की गई है। इसी प्रकार जिले में 140 करोड़ 52 लाख रूपयों की लागत से क्षतिग्रस्त सड़कों का मेजर रिपेयर एवं उन्नयन कार्य करवाया जायेगा। जिले में वैदिक संस्कृतिक के प्रोत्साहन एवं संरक्षण के लिए जिले में वेद विद्यालय खोला जायेगा तथा उच्च शिक्षा के विस्तारण के लिए बागोड़ा में राजकीय महाविद्यालय व संस्कृत शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए जिला मुख्यालय पर संस्कृत महाविद्यालय खोला जायेगा। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय पर विवेकानन्द यूथ हॉस्टल बनाने के साथ ही जिले में उच्च स्तरीय खेल सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए रानीवाड़ा में खेल स्टेडियम की स्थापना के साथ-साथ विभिन्न खेल सुविधाएँ विकसित की जायेगी। इसी प्रकार जिले में बागोड़ा व रानीवाड़ा में औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना की जायेगा।  जिले के लिए महत्वपूर्ण माही नदी को लूणी नदी से जोड़ने के साथ माही बाँध एवं नर्मदा नहर की संयुक्त परियोजना का सर्वे करवाकर पश्चिमी राजस्थान कैनाल परियोजना की डीपीआर बनायी जायेगी। वहीं, ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए कालाघाटा-जालोर में लव-कुश वाटिका विकसित करने की घोषणा की गई है। इस दौरान पूर्व प्रधान भंवरलाल मेघवाल, उमसिंह चांदराई सहित विभिन्न संस्थाओं से मीडियाकर्मी उपस्थित रहे। 
टोंकः केश कला बोर्ड के अध्यक्ष श्री महेन्द्र गहलोत ने दी बजट घोषणाओं व क्रियान्वयन की जानकारी
केश कला बोर्ड के अध्यक्ष श्री महेन्द्र गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा है, जिसकी चर्चा पूरे देश में हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के बेहतर वित्तीय प्रबंधन के कारण राज्य की विकास दर 11.04 फीसदी है, जिसके कारण राज्य तेजी से विकास की ओर बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि बजट घोषणाओं से टोंक जिले के विकास को पंख लगेंगे। टोंक में अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालय खोला जाएगा। जिले की 5 महत्वपूर्ण सड़काें के रिपेयर कार्य 171 करोड़ रुपये की लागत से कराए जायेंगे। ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए दूधिया के बालाजी में लवकुश वाटिका की स्थापना की जाएगी। निवाई में देवधाम जोधपुरिया में पैनोरमा निर्माण एवं विकास कार्य करवाए जाएंगे। जिले में सरसों की पैदावार को देखते हुए मधुमक्खी पालन को प्रोत्साहित करने के लिए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर एपीकल्चर स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा, नगरफोर्ट में कन्या महाविद्यालय, सभी ब्लॉक मुख्यालय पर सावित्री बाई फूले वाचनालय मय डिजिटल लाईब्रेरी स्थापित की जाएगी। प्रशासनिक तंत्र को मजबूत करने के लिए मालपुरा में एडीएम कार्यालय, दूनी में नगर पालिका की स्थापना, सिरस को उप तहसील एवं अलीगढ़ में नवीन तहसील कार्यालय खोला जाएगा। साथ ही, ग्राम पंचायत उनियाराखुर्द एवं रानोली में नई पुलिस चौकी स्थापित की जाएगी तथा पुलिस चौकी मोर को पुलिस थाने में क्रमोन्नत किया जाएगा। टोंक में वाणिज्यिक न्यायालय, वरिष्ठ सिविल न्यायाधीश एवं अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट न्यायालय खोला जाएगा। इस दौरान जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी देशलदान, अतिरिक्त जिला कलेक्टर शिवचरण मीणा सहित अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।
धौलपुर ः जिले पर बजट में हुई सौगातों की बरसात- श्री जुबेर खान 
मेवात क्षेत्रीय विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री जुबेर खान ने शनिवार को जिला कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राज्य बजट को ऎतिहासिक बताया। उन्होंने कहा कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। उन्होंने बताया कि महंगाई से राहत के रूप में 19 हजार करोड़ रुपए का पैकेज, गरीब परिवारों के लिए प्रत्येक एनएफएसए परिवार को फ्री गेहूं के साथ एक किलो दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल एवं मसाले निशुल्क, प्रत्येक उज्ज्वला परिवार को गैस सिलेंडर 500 रुपए में उपलब्ध करवाना, सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली फ्री, किसानों को हर महीने 2 हजार यूनिट बिजली फ्री, बुजुर्गों, विधवाओं, अनाथों एवं दिव्यांगों की न्यूनतम पेंशन 1 हजार रुपए, लंपी महामारी से मारी गईं दुधारू गायों के लिए 40 हजार रुपए प्रति गाय एवं सरकारी भर्तियों के लिए युवाओं द्वारा एक बार रजिस्ट्रेशन करवाने के पश्चात भविष्य में कोई भी परीक्षा में शुल्क नहीं लिया जाएगा। श्री खान ने बताया कि बजट में धौलपुर जिले के लिए भी माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने अनेक घोषणाएं कीं, जिनमे धौलपुर जिले में मिनी फूड पार्क स्थापित करना भी शामिल है। अन्य महत्वपूर्ण घोषणाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि राजस्थान सूक्ष्म सिंचाई मिशन के अन्तर्गत आगामी 3 वर्षों में धौलपुर के ओवर एक्सप्लॉईटेड भूजल ब्लॉक्स के क्षेत्र को सम्पूर्ण रूप से सूक्ष्म सिंचाई के तहत सम्मिलित किया जायेगा। मधुमक्खी पालन को प्रोत्साहित करने हेतु धौलपुर जिले के किसानों को लाभान्वित किया जायेगा। धौलपुर में कृषि महाविद्यालय खोला जायेगा। बाघों को बेहतर इको सिस्टम उपलब्ध कराने के लिए टाईगर रिजर्व मुकुन्दरा हिल्स कोटा, धौलपुर के क्षेत्रों में कार्य करवाये जायेंगे। ईको-टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए लगभग 2 करोड़ रुपये की लागत से मदनपुर-धौलपुर में वन क्षेत्र तथा समीप के क्षेत्र को सम्मिलित करते हुए एक लव कुश वाटिका विकसित की जायेगी। धौलपुर में जिला स्तर पर 24 घण्टे सातों दिन काम करने हेतु विशेष तकनीकी योग्यता रखने वाली क्विक इन्वेस्टिगेशन डिस्पोजल टीम गठित की जायेंगी। सैंपऊ में औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना की जायेंगी। राजाखेडा में अतिरिक्त जिला एवं सैशन न्यायालय खोला जायेगा। 822 करोड़ रुपये की लागत से चम्बल नदी आधारित कालीतीर परियोजना-बाड़ी, बिसेड़ी धौलपुर, बयाना, भरतपुर वृहद पेयजल योजना के माध्यम से सस्टेंड वाटर सप्लाई उपलब्ध कराया जायेगा। बसई एवं नादनपुर में उप तहसील खोली जायेंगी। जिला मुख्यालय पर एक आईटीआई को सेन्टर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में विकसित किया जायेगा। युवाओं को शराब एवं नशे की लत जैसे व्यसनों से मुक्ति दिलाने की दृष्टि से धौलपुर में नशामुक्ति केन्द्र खोलना / सुदृढ़ करना प्रस्तावित है। इस दौरान जिला कलक्टर अनिल कुमार अग्रवाल, जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर सुदर्शन सिंह तौमर, उपखण्डाधिकारी धौलपुर अनूप सिंह सहित मीडिया कर्मी मौजूद रहे। 
अलवर ः श्रेष्ठ वित्तीय प्रबंधन से राज्य बना नजीर- शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला
अलवर के जिला प्रभारी मंत्री एवं शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला ने ‘राजस्थान में महंगाई से राहत’ थीम पर सर्किट हाउस में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढत वाला रहा है। इससे आमजन को पैसे की बचत होगी और उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी व राजस्थान आगे बढेगा। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के अच्छे वित्तीय प्रबंधन की बदौलत हमारी आर्थिक विकास दर 11.04 प्रतिशत रही, जिसके कारण राज्य तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि बचत के लिए राज्य सरकार तमाम योजनाएं लाई है जैसे हर परिवार को 25 लाख रुपए का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा, 30 हजार बच्चों को कोचिंग लेने हेतु अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से पूरी फीस का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा। राजीव गांधी स्कॉलरशिप योजना के तहत 500 बच्चों को विदेश में पढ़ने का मौका मिलेगा व पूरी फीस सरकार वहन करेगी। मनरेगा एवं इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना में 125 दिन का काम मिलेगा। इन्दिरा रसोई योजना में कोई व्यक्ति भूखा न सोये थीम पर 8 रुपए में भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है। इस बजट में 1000 नई इन्दिरा रसोई खोली जाने की घोषणा की गई है। ठेके पर अब कोई कर्मचारी नहीं रखे जाएंगे जो ठेके पर उन्हें सरकारी कम्पनी के तहत काम पर लिया जाएगा। पार्ट टाइम मानदेय कर्मियों जैसे आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका, कुक, फर्राश आदि को रिटायरमेंट पर 2-3 लाख रूपये का पैकेज दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि अलवर में विगत चार सालों में 103 महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोले गए और आवश्यकतानुसार और स्कूल खोले जाएंगे। 16 सरकारी महाविद्यालय खोले गए। भिवाडी में एडीएम कार्यालय, मालाखेडा, गोविन्दगढ में उपखण्ड कार्यालय खोले गए है। खैरथल में सैटेलाइट चिकित्सालय खोला गया व बहरोड में उपजिला चिकित्सालय को जिला चिकित्सालय में क्रमोन्नत किया गया। उन्होंने बताया कि अलवर में नया पुलिस जिला भिवाडी गठित किया गया। थानागाजी में पुलिस उपाधीक्षक कार्यालय खोला गया। अकबरपुर व बगड तिराहे में पुलिस थाने खोले गए। विगत चार वर्षों में 81 नए पशु चिकित्सा उपकेंद्र खोले गए। 9 पशु औषधालयों को पशु चिकित्सालयों में क्रमोन्नत किया गया। 12 पशु उपकेंद्रों को पशु चिकित्सालयों में क्रमोन्नत किया गया। इसी प्रकार अलवर में नए बजट 2023-24 में खेडलीगंज (कठूमर), बहादुरपुर एवं नारायणपुर में कन्या महाविद्यालय खोले जाएंगे, माचाडी (रैणी) में कृषि महाविद्यालय, मुबारिक (रामगढ) में राजकीय महाविद्यालय खोला जाएगा। अलवर नगर परिषद को नगर निगम में क्रमोन्नत किया जाएगा। भिवाडी उप जिला अस्पताल को जिला अस्पताल में क्रमोन्नत, खेरली-अलवर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को उप जिला अस्पताल में क्रमोन्नत किया जायेगा। जयपुर शहर, जयपुर ग्रामीण एवं अलवर विद्युत सर्किल को विभाजित कर 6 सर्किल बनाये जायेंगे। औद्योगिक इकाइयों को आगजनी की घटनाओं से बचाव हेतु केशवाना (नीमराणा) एवं खैरथल-अलवर में अग्निशमन केन्द्र स्थापित किये जायेंगे। कठूमर, थानागाजी एवं कोटकासिम (किशनगढ़ बास)-अलवर में खेल स्टेडियम बनाये जायेंगे। अलवर में वेद विद्यालय खोला जाना प्रस्तावित हैं। प्रसिद्ध लक्खी मेले भर्तृहरि/पाण्डूपोल-अलवर में सम्मिलित होने वाले यात्रियों को रोडवेज की साधारण एवं एक्सप्रेस बसों के किराये में छूट को 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने की घोषणा के साथ बजट में औद्योगिक क्षेत्र सलारपुर- अलवर को औद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित किया जायेगा। बाघों को बेहतर इको सिस्टम उपलब्ध कराने के लिए सरिस्का-अलवर टाईगर रिजर्व में कार्य करवाये जायेंगे। मचाड़ी-अलवर में राजा हेमू का पेनोरमा बनाया जायेगा। 
सवाई माधोपुर ः बढ़ती महंगाई का जवाब है इस बार का बजट-मंत्री श्री भजन लाल जाटव
महंगाई से राहत पर सवाई माधोपुर जिले  के प्रभारी मंत्री श्री भजन लाल जाटव ने सर्किट हाउस के सभागार में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि इस बार के बजट से आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। केन्द्र सरकार की नीतियों ने भारत की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है। इससे महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ती जा रही है। पेट्रोल, डीजल, गैस, सब्जी, दवाइयां, तेल, मसाले, कपड़े, जूते, सीमेंट समेत आम आदमी की जरूरत की सभी चीजें लगातार महंगी होती जा रही हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से तमाम योजनाएं लाई जा रही हैं जिससे आमजन के पास पैसा आए और बचत करने का मौका हो। हर परिवार को 25 लाख रुपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा , 30,000 बच्चों को कोचिंग लेने पर अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से पूरी फीस सरकार द्वारा वहन की जाएगी। मनरेगा एवं इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना में 125 दिन काम मिलेगा। इन्दिरा रसोई में 8 रुपये में भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है, अब 1000 नई इन्दिरा रसोईया खोली जाएंगी जो शहरी कस्बों में भी खुलेंगी। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने सवाई माधोपुर जिले को भी 2023 के बजट में कई महत्वपूर्ण सौगातें दी है जिनमें से गंगापुर सिटी  सहित 109 गांव के लिए अतिरिक्त पेयजल आपूर्ति हेतु 15 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। वहीं, त्रिनेत्र गणेश मंदिर रणथंभौर सवाई माधोपुर में गणेश धाम से मंदिर तक रोड निर्माण हेतु 20 करोड़ की घोषणा भी की है। खिरणी को नगर पालिका मलारना चौड़ में उप तहसील कार्यालय खोलने की भी घोषणा हुई है। बौंली एवं गंगापुर सिटी में खेल स्टेडियम का निर्माण व विकास कार्य करवाए जाएंगे, वहीं जिला मुख्यालय पर 100 व्यक्तियों की आवासीय क्षमता का विवेकानंद यूथ हॉस्टल बनेगा। गंगापुर सिटी में नई आईटीआई खुलेगी। बाटोदा में कृषि उपज मंडी तथा सवाईमाधोपुर विधानसभा क्षेत्र में अमरुद उत्कृष्टता केंद्र खोला जाएगा ।
श्रीगंगानगरः बजट में जिले को बहुत कुछ दिया – प्रभारी मंत्री
आपदा प्रबंधन एवं सहायता, प्रशासनिक सुधार और समन्वय, सांख्यिकी विभाग एवं नीति निर्धारण प्रकोष्ठ एवं जिला प्रभारी मंत्री श्री गोविंद राम मेघवाल ने कहा कि बजट 2023-24 में श्रीगंगानगर जिले को अनेक सौगातें दी गई हैं तथा यह बजट विकास के साथ-साथ आमजन को राहत देने वाला है। प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि गंगानगर क्षेत्र में सड़क विकास, शिक्षा, स्वास्थ्य, राजस्व,  के अलावा विभिन्न क्षेत्रों में अनेक घोषणाएं की गई हैं, ये सभी घोषणाएं जमीन पर उतरने से आमजन को भारी राहत मिलेगी। उन्होंने बताया कि बीरमाना (सूरतगढ़), लालगढ़ जाटान (सादुलशहर)-श्रीगंगानगर में राजकीय महाविद्यालय खोले जायेंगे। बुड्ढा जोहड़ (रायसिंहनगर) पदमपुर एवं चूनवाढ़ (सादुलशहर)-श्रीगंगानगर में कन्या महाविद्यालय खोले जायेंगे। ज्ञान ज्योति पीजी महाविद्यालय, श्रीकरणपुर-श्रीगंगानगर एवं शहीद भगतसिंह महाविद्यालय, रायसिंहनगर-श्रीगंगानगर को राजकीय महाविद्यालय में परिवर्तित किया जाना प्रस्तावित है। छात्राओं के लिए राजकीय महाविद्यालयों में छात्रावासों का निर्माण चरणबद्ध रूप से करवाया जायेगा। श्रीगंगानगर के राजकीय सहशिक्षा पॉलिटेक्निक महाविद्यालय में अभियान्ति्रकी शाखा प्रारम्भ की जायेगी। जिला कारागृहों में पुस्तकालय की स्थापना की जायेगी। विजयनगर में औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना की जायेगी। 8 करोड रूपये की लागत से गन्दे पानी की निकासी हेतु पद्मपुर में ड्रेनेज सिस्टम के कार्य करवाये जायेंगे। इस अवसर पर शिल्प एवं माटी कला बोर्ड के अध्यक्ष (राज्यमंत्री) श्री डूंगरराम गेदर, जिला कलक्टर श्री सौरभ स्वामी, जिला परिषद के सीईओ श्री मुहम्मद जुनैद, श्री प्रतीक जुईकर, एडीएम प्रशासन डॉ. हरीतिमा, एएसपी श्री सतनाम सिंह सहित अन्य मौजूद रहे।
सीकरः इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है-प्रभारी मंत्री श्रीमती रावत
सीकर में उद्योग, वाणिज्य, राजकीय उपक्रम, देवस्थान मंत्री एवं जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती शकुंतला रावत ने कार्यालय नगरपालिका खाटूश्यामजी में  संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया।
इस दौरान रावत ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार की नीतियों ने भारत की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है. इससे महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ती जा रही है। ऎसे में बचत के लिए राज्य में तमाम योजनाएं लाई जा रही हैं, जिससे आमजन के पास पैसा आए और बचत करने का मौका हो। महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। गरीब परिवारों को महंगाई से राहत देने के लिए प्रत्येक एनएफएसए परिवार को फ्री गेहूं के साथ एक किलो दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल एवं मसाले निःशुल्क दिए जाएंगे। प्रत्येक उज्ज्वला परिवार को गैस सिलेंडर 500 रुपये में उपलब्ध करवाया जाएगा। सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। किसानों को हर महीने 2000 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। बुजुगोर्ं, विधवाओं, अनाथों एवं दिव्यांगों की न्यूनतम पेंशन 1000 रुपये की जाएगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान में सभी कर्मचारियों को ओपीएस दिया जा रहा है। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जयपुर में आकर कहा कि ओपीएस बन्द कर देनी चाहिए। राजस्थान में 621 पेंशनर्स व उनके परिवारों को ओपीएस का लाभ दे दिया गया है। उन्होंने कहा कि बजट घोषणा में सीकर जिले में भी विभिन्न सौगातें दी हैं, जिनमें जिला मुख्यालय पर मिनी सचिवालय का निर्माण, सीकर सीटी में अतिरिक्त जिला कलक्टर कार्यालय रींगस (खण्डेला) में उपखण्ड अधिकारी कार्यालय खोला जायेगा। खण्डेला, अजीतगढ़ (श्रीमाधोपुर) में उप अधीक्षक कार्यालय, जाजोद (खण्डेला), गोकुलपुरा (सीकर) में पुलिस थाने खोले जायेंगे तथा धोद (खण्डेला) में पुलिस चौकी की स्थापना की जायेगी। वहीं, फतेहपुर नगरपालिका नगरपरिषद में क्रमोन्नत की जाएगी। धोद में कृषि उपज मण्डी की स्थापना, पशु चिकित्सा महाविद्यालय, पशुपालन प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना की जायेगी। प्रेसवार्ता में खण्डेला विधायक एवं किसान आयोग अध्यक्ष महादेव सिंह खण्डेला, फतेहपुर विधायक हाकम अली, बीसूका उपाध्यक्ष सुनिता गिठाला, जिला कलेक्टर डॉ. अमित यादव, पुलिस अधीक्षक करण शर्मा, अतिरिक्त जिला कलेक्टर राकेश कुमार, मुख्य कार्यकारी अधिकारी राकेश कुमार सहित जनप्रतिनिधिगण, जिला, ब्लॉक स्तरीय अधिकारी, प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडियाकर्मी उपस्थित थे।
प्रतापगढ़ः सरकार हर वर्ग के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है – प्रभारी मंत्री मीणा
राज्य मंत्री कृषि विपणन व सम्पदा (स्वतंत्र प्रभार) और पर्यटन व नागरिक उड्डयन विभाग और जिले के प्रभारी मंत्री श्री मुरारीलाल मीणा ने सर्किट हाउस, प्रतापगढ़ में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने आमजन के पैसे की बचत के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं, जिससे आमजन के पास पैसा आएगा और बचत करने का मौका मिलेगा। महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19 हजार करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। उन्होंने कहा की सरकार ने पिछले चार साल में बजट में प्रतापगढ़ जिले के लिए 90 से अधिक घोषणाएं की हैं। उन्होंने बताया कि जिले में मेडिकल कॉलेज, नलवा (धरियावद) में नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, दलोट के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कोे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में क्रमोन्नत किया जाना, जिला स्तर पर फूड सेफ्टी एंड ड्रग कण्ट्रोल ऑफिस की स्थापना, संस्कृत महाविद्यालय, वेद विद्यालय, राजकीय सहशिक्षा पॉलिटेक्निक महाविद्यालय में नॉन इंजीनियरिंग शाखा, अरनोद में 132 केवी का नवीन सबस्टेशन, पण्डावा में 33/11 केवी जीएसएस, इको-टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए रणिया मगरी में वन क्षेत्रों तथा समीप के क्षेत्र को सम्मिलित करते हुए एक लव-कुश वाटिका, अरनोद में पुलिस उप अधीक्षक कार्यालय, जिला कारागृह में पुस्तकालय की स्थापना, बाल एवं यौन अपराधों के पीड़ितों एवं अन्य संवेदनशील गवाहों को सुरक्षित वातावरण में गवाही की सुविधा उपलब्ध करवाने की दृष्टि से जिले में वल्नरेबल विटनेस डीपोजीशन सेंटर की स्थापना, प्रतापगढ़ के पीपलखूंट, छोटीसादडी एवं धरियावाद में औद्योगिक क्षेत्रों की स्थापना, अल्पसंख्यक बालिका छात्रावास की घोषणा की है। इस अवसर पर विधायक रामलाल मीणा और जिला कलक्टर डॉ. इन्द्रजीत यादव व जिला पुलिस अधीक्षक अमित कुमार के अलावा प्रधानगण, जनप्रतिनिधि एवं मीडियाकर्मी उपस्थित रहे।
भीलवाड़ाः राज्य बजट में महंगाई से राहत के कई उपाय- प्रभारी मंत्री
महंगाई से राहत पर भीलवाड़ा के प्रभारी मंत्री डॉ. महेश जोशी ने जिला कलेक्ट्रेट सभागार में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। डॉ. महेश जोशी ने बचत, राहत, बढ़त थीम पर प्रस्तुत ऎतिहासिक बजट के लिए माननीय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत का आभार प्रकट किया और बजट की मुख्य विशेषताओं के बारे में मीडिया को बताया कि इस बजट से आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। बेहतरीन वित्त प्रबंधन की बदौलत हमारी आर्थिक विकास दर 11.04 प्रतिशत है, जिसके कारण राज्य तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। गरीब परिवारों को महंगाई से राहत देने के लिए प्रत्येक एनएफएसए परिवार को फ्री गेहूं के साथ एक किलो दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल एवं मसाले निःशुल्क दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि डीएमएफटी से भीलवाड़ा जिले में अब तक लगभग 581 करोड़ की लागत से 686 विकास कार्य स्वीकृत किये गए हैं। जिनमें मुख्य रूप से 181 करोड़ की लागत से 119 सड़कों की स्वीकृति जारी कर सम्पूर्ण जिले में आधारभूत संरचना का विकास प्रगतिरत है। पेयजल सुविधाओं के विस्तार हेतु 70 करोड़ की लागत से 143 कार्य स्वीकृत किये जाकर लगभग 88 कार्य पूर्ण कर लिये गए हैं व शेष प्रगतिरत हैं। शिक्षा विभाग में 137 करोड़ की राशि स्वीकृत कर 212 विद्यालयों में नवीनीकरण व नवीन कक्षा-कक्ष निर्माण कार्य की स्वीकृति जारी की गई। राजकीय महाविद्यालय गंगापुर का निर्माण कार्य पूरा किया जाकर, 2 राजकीय महाविद्यालयों करेड़ा व जहाजपुर का निर्माण लगभग 10 करोड़ की लागत से वर्तमान में प्रगतिरत है। स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु नवीन चिकित्सा भवन निर्माण व चिकित्सा उपकरण क्रय किये जाने हेतु 107 करोड़ की स्वीकृति जारी की गई है। 55 लाख की लागत से सिलिकोसिस वैन क्रय की जाकर सिलिकोसिस मरीजों को मौके पर ही सिलिकोसिस जांच की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। 30 करोड़ की लागत से मांडल उप जिला चिकित्सालय की वित्तीय स्वीकृति जारी की गई है।  जिले में खेल गतिविधियों को प्रोत्साहन देने के लिए 31 करोड़ की लागत से सभी पंचायत समिति क्षेत्राधिकार में आदर्श खेल स्टेडियम के निर्माण की स्वीकृति जारी की गई है। जिसमें 5 पंचायत समितियों में वर्तमान में कार्य प्रगतिरत है। इस दौरान जिला कलक्टर श्री आशीष मोदी, जिला पुलिस अधीक्षक श्री आदर्श सिधू, सहाड़ा विधायक श्रीमती गायत्री देवी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) श्री ब्रह्मालाल जाट भी मौजूद रहे।
सिरोहीः बजट में हर वर्ग के हित का रखा ध्यान- प्रभारी मंत्री
महंगाई से राहत पर जिला प्रभारी मंत्री प्रभारी मंत्री महेन्द्र चौधरी एवं मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक संयम लोढा ने सिरोही सर्किट हाउस में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। प्रभारी मंत्री चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के अथक प्रयासों से इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है. यानी आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि हर परिवार को 25 लाख रुपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा। 30,000 बच्चों को कोचिंग लेने पर अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से पूरी फीस सरकार द्वारा वहन की जाएगी। ठेके पर अब कोई कर्मचारी नहीं रखे जाएंगे. जो ठेके पर हैं उन्हें सरकारी कंपनी के तहत काम में लिया जाएगा। पार्ट टाइम मानदेय कर्मियों जैसे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, कुक, फर्राश आदि को रिटायरमेंट पर 2-3 लाख रुपये का पैकेज दिया जाएगा। महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। गरीब परिवारों को महंगाई से राहत देने के लिए प्रत्येक एनएफएसए परिवार को फ्री गेहूं के साथ एक किलो दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल एवं मसाले निशुल्क दिए जाएंगे। प्रभारी मंत्री ने सिरोही जिले के लिए वर्तमान सरकार की उपलब्धियां, सिरोही जिले में प्रगतिरत मुख्य परियोजनाएं एवं वर्ष 2023-24 की बजट घोषणा में सिरोही जिले के लिए स्वीकृत कार्यो के बारें में विस्तृत रूप से जानकारी दी। विधायक संयम लोढा ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान जिले के लम्बित प्रकरणों के बारें में जानकारी लेकर संबधित अधिकारियों को त्वरित निस्तारण के लिए कहा। संवाददाता सम्मेलन में जिला कलक्टर डॉ. भंवर लाल, जिला पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता, अति. जिला कलक्टर कालूराम खौड समेत संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। 
झुंझुनूं ः जिले की प्रभारी मंत्री ममता भूपेश ने बताईं उपलब्धियां
जिले की प्रभारी मंत्री और महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा आमजन को महंगाई से राहत, बचत एवं बढ़त की थीम पर पेश किया गया बजट 2023-24 पूरी तरह आमजन को समर्पित रहा है। इस बजट के क्रियान्वयन का कार्य तेजी से चल रहा है। अधिकारियों को इस बजट को पूरी तरह लागू करने के निर्देश दे दिए गए हैं। वे शनिवार को सर्किट हाऊस में प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहीं थी। उन्होंने राज्य सरकार के कार्य का तुलनात्मक अध्ययन भी मीडिया के सामने रखते हुए कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राज्य सरकार की मंशा यही है कि आमजन को किस तरह बचत के साथ जोड़कर स्वास्थ्य, सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा सुनिश्चित कर राहत मुहैया करवाई जाए। वर्तमान राज्य सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों के चलते राजस्थान के आर्थिक हालात बेहतर हुए हैं, वर्तमान जीडीपी 11.04 पहुंच गई है और राज्य तेजी से विकास कर रहा है। प्रभारी मंत्री ने बताया कि 2019 से अब तक जिले के लिए हुई 110 बजट घोषणाओं में से 60 पर कार्य पूरा हो चुका है। शेष पर तेजी से कार्य हो रहा है। उन्होंने बताया कि 2019 से 22 तक की 48 घोषणाओं में से 23 का कार्य पूरा हो चुका है, शेष पर तेजी से कार्य हो रहा है। वहीं 2022-23 की 62 बजट घोषणाओं में से 36 पूरी हो चुकी हैं, शेष पर तेजी से कार्य हो रहा है।  इस दौरान जिला कलक्टर लक्ष्मण सिंह कुड़ी, पुलिस अधीक्षक मुदुल कच्छावा, जिप सीईओ जवाहर चौधरी, एडीएम जगदीश प्रसाद गौड़, बंजर भूमि एवं चारागाह विकास बोर्ड के राज्य सदस्य ताराचंद सैनी सहित जिला स्तरीय अधिकारी एवं प्रेस प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
डूंगरपुर ः राजस्थान को मिली नई दिशा, हर वर्ग का रखा खयाल- प्रभारी मंत्री 
महंगाई से राहत पर डूंगरपुर के प्रभारी मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। श्री भाटी ने बताया कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। उन्होंने कहा कि हर परिवार को 25 लाख रुपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा दिया जा रहा है। 30 हजार बच्चों को कोचिंग लेने पर अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से पूरी फीस सरकार द्वारा वहन की जाएगी। गरीब परिवारों को महंगाई से राहत देने के लिए प्रत्येक एनएफएस परिवार को फ्री गेहूं के साथ एक किलो दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल एवं मसाले निशुल्क दिए जाएंगें। प्रत्येक उज्ज्वला परिवार को गैस सिलेंडर 500 रुपये में उपलब्ध करवाया जाएगा। सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। उन्होंने डूंगरपुर जिले को बजट में मिली सौगातों के बारे में भी विस्तार से बताया कि गलियाकोट में राजकीय कन्या महाविद्यालय खोला जायेगा। डूंगरपुर के राजकीय सहशिक्षा पॉलिटेक्निक महाविद्यालय में नॉन इंजीनियरिंग शाखा प्रारम्भ की जायेगी। पुनाली एवं मझौला प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में क्रमोन्नत करने समेत पादरडी बड़ी एवं घाटी मौहल्ला में नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोले जायेंगे। चिकित्सा महाविद्यालय, बिछीबाड़ा में ट्रोमा सेन्टर की स्थापना की जायेगी। बेणेश्वरधाम मेले में सम्मिलित होने वाले यात्रियों को रोडवेज की साधारण एवं एक्सप्रेस बसों के किराये में छूट को 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने की घोषणा भी बजट में की गई है। प्रेसवार्ता के दौरान पूर्व सांसद ताराचंद भगोरा, राज्य अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन डॉ. शंकर यादव, डूंगरपुर विधायक गणेश घोगरा, जिला कलक्टर लक्ष्मी नारायण मंत्री, पुलिस अधीक्षक कुंदन कंवरिया तथा स्थानीय जनप्रतिनिधि और विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।
चूरू ः राज्य सरकार का बजट हर वर्ग को राहत देने वाला ः बृजेंद्र ओला
महंगाई से राहत पर राज्य के सभी जिलों में जिला प्रभारी मंत्री ने संवाददाता सम्मेलन मीडिया से संवाद किया। इसी क्रम में राज्य के परिवहन एवं सड़क सुरक्षा मंत्री एवं जिला प्रभारी मंत्री बृजेंद्र ओला ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा हाल ही में पेश किया गया बजट राज्य के हर वर्ग को राहत पहुंचाने वाला है। बजट में कोशिश की गई है महंगाई से त्रस्त लोगों को राहत मिले। इसी दृष्टि से राज्य के 76 लाख परिवारों को 500 रुपए में गैस सिलेंडर उपलब्ध कराने का फैसला किया गया है। 
प्रभारी मंत्री ने कहा कि राज्य के बजट में चिकित्सा, शिक्षा, ऊर्जा, चिकित्सा शिक्षा, सड़क सहित सभी क्षेत्रों में विकास के लिए घोषणाएं की गई हैं। बजट राज्य के विकास और कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की दृष्टि से मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने चूरू जिले से संबंधित घोषणाओं की जानकारी देते हुए बताया गया कि चौधरी कुम्भाराम आर्य लिफ्ट कैनाल के तारानगर क्षेत्र में शेष रहे 16 हजार हेक्टेयर में 100 करोड़ रुपये की लागत से स्पि्रंकलर सिंचाई सुविधा विकसित की जायेगी। राजगढ़-चूरू में 220 केवी के सब स्टेशन बनाया जायेगा। घड़सीसर (सरदारशहर)-चूरू में 132 केवी जीएसएस स्थापित किया जायेगा। पातालीसर, नाहरसरा, भानीपुरा (सरदारशहर) एवं कालेरान (सुजानगढ)-चूरू में 33/11 केवी जीएसएस स्थापित किये जायेंगे। सातड़ा-चूरू में सहायक अभियंता (विद्युत) कार्यालय खोला जायेगा। तारानगर में कृषि महाविद्यालय खोला जायेगा। राजगढ़ (सादुलपुर) एवं तारानगर-चूरू के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को उप जिला अस्पतालों में क्रमोन्नत किया जायेगा। सरदारशहर में ट्रोमा सेन्टर खोला जायेगा। प्रभारी मंत्री ने बताया कि राज्य में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 10 करोड रुपये की लागत से नॉन- पेचेबल/मिसिंग लिंक सडकों के निर्माण करवाये जायेंगे। सरदारशहर में खेल स्टेडियम बनाया जायेगा। राजगढ़- चूरू में एथलेटिक्स अकादमी शुरू की जायेगी। प्रेस वार्ता के दौरान जिला कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग, एसपी राजेश कुमार मीणा सहित संबंधित अधिकारी एवं मीडियाकर्मी मौजूद रहे।
अजमेर ः प्रभारी मंत्री श्री मालविया ने गिनाई सरकार की उपलब्धियां
महंगाई से राहत पर अजमेर के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री श्री महेन्द्रजीत सिंह मालविया ने कलेक्ट्रेट सभागार में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। श्री मालविया ने कहा कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। हर परिवार को 25 लाख रूपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा कवर दिया गया है। बच्चों के विदेश में पढ़ाई करने पर पूरी फीस राजीव गांधी स्कॉलरशिप द्वारा सरकार वहन करेगी। मनरेगा एवं इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना में 125 दिन काम मिलेगा। अब 1000 नई इन्दिरा रसोई खोली जाएंगी जो शहरी कस्बों में भी खुलेगी। उन्होंने कहा कि महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19 हजार करोड़ रूपये का पैकेज दिया गया है। उन्होंने बजट में अजमेर जिले के लिए की गई घोषणाओं की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि सरकार ने बजट वर्ष 2023-24 में अजमेर के लिए भी कई घोषणाएं की है। इनमें अजमेर जिला मुख्यालय पर आरपीएससी की भर्ती परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन परीक्षा केंद्र, आरपीएससी व कर्मचारी चयन आयोग में सुविधा संसाधन बढ़ाने के लिए 50 करोड़ रूपए, परीक्षाओं में बायोमेट्रिक हाजिरी, वन टाइम रजिस्ट्रेशन प्रणाली की घोषणा महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि संभागीय मुख्यालय के आईटीआई में रीमोटली पायलेटेड एयरक्राफ्ट और ड्रोन पायलट ट्रेड की स्थापना, किशनगढ़ आईटीआई में माइनिंग ट्रेड और महिला आईटीआई अजमेर में इलेक्टि्रक ट्रेड की शुरुआत होगी। राजीव गांधी सेंटर ऑफ एडवांस टेक्नोलॉजी केंद्र की स्थापना, राजस्थान सिटी ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन का गठन, अंतरराष्ट्रीय कन्वेंशन के लिए मीटिंग कॉन्क्लेव एग्जिबिशन सेंटर निर्माण व तीर्थ नगरी पुष्कर में अंतरराष्ट्रीय केम्प सिटी के रूप में विकसित करने के लिए 10 करोड़ रूपए की लागत से  डीपीआर बनेगी। उन्होंने कहा कि अभय कमांड सेंटर में 100 की बजाय 200 कॉल टॉकिंग क्षमता विकसित की जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने बजट रिप्लाई में भी अजमेर के लिए कई नवीन घोषणाएं की हैं। इस अवसर पर मसूदा विधायक श्री राकेश पारीक, पूर्व विधायक श्री रामनारायण गुर्जर, निवर्तमान अध्यक्ष श्री विजय जैन, जिला कलक्टर श्री अंश दीप, पुलिस अधीक्षक श्री चूना राम जाट भी उपस्थित रहे। 
नागौरः प्रभारी मंत्री राजेन्द्र यादव ने बताया बजट को ऎतिहासिक
महंगाई से राहत पर नागौर के प्रभारी मंत्री श्री राजेन्द्र यादव ने सर्किट हाउस में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। केन्द्र की भाजपा सरकार की नीतियों ने भारत की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है। गरीब और मिडिल क्लास परिवारों के सामने आज घर चलाना एक बड़ी चुनौती बन गया है। उन्होंने कहा कि बचत के लिए तमाम योजनाएं लाई जा रही हैं, जिससे आमजन के पास पैसा आए और बचत करने का मौका हो। साथ ही बढ़त के लिए ऎसी योजनाएं बनाई गई हैं, जिनसे राजस्थान आगे बढ़ता जाएगा। उन्होंने कहा कि नागौर जिले में उच्च शिक्षा के विस्तार हेतु बजट में कई घोषणाएं की गई हैं। नागौर में संस्कृत महाविद्यालय, लूणवां में महाविद्यालय, डेगाना में कन्या महाविद्यालय एवं मारवाड़ मूण्डवा में संस्कृत शिक्षा हेतु शास्त्री स्तर का महाविद्यालय खोला जाएगा। राजकीय सहशिक्षा पॉलिटेक्निक महाविद्यालयों में नॉन इंजिनियरिंग शाखा प्रारम्भ की जाएगी। डेगाना व लाडनूं में खेल स्टेडियम, नागौर में मल्टीपरपज इंडोर हॉल तथा विवेकानंद यूथ हॉस्टल के अलावा डीडवाना में जनाना हॉस्पिटल विंग की स्थापना और कुचामन में जिला अस्पताल सहित कई अहम घोषणाएं की गई हैं। परबतसर में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय खोला जाएगा। नावां में अतिरिक्त जिला एवं सेशन न्यायालय (कैम्प कोर्ट) खोले जाएंगे। पीलवा (परबतसर) व खींवसर में सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट न्यायालय खोले जाएंगे। 
उदयपुरः राज्य बजट में  अभूतपूर्व सौगातें, आमजन को राहत ः श्री जाट
जिले के प्रभारी मंत्री श्री रामलाल जाट ने सर्किट हाउस में शनिवार को संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा बजट में राजस्थान को दी गई सौगातों को विस्तार से बताया। साथ ही, उदयपुर जिले के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाओं एवं गत चार वर्षों में हुए विकास कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री गहलोत ने अपनी बजट घोषणाओं में उदयपुर को कई महत्वपूर्ण सौगातें दी हैं। जिले में सिंचाई एवं पेयजल आपूर्ति बेहतर करने के प्रयास किए गए हैं। डाया बांध में जल आवक बढ़ाने हेतु टीडी नदी पर 200 करोड़ रुपये की लागत से जावर एनिकट का निर्माण करवाया जायेगा। उदयपुर शहर को अतिरिक्त पेयजल आपूर्ति के लिए देवास-तृतीय एवं चतुर्थ बांधों का एक हजार 691 करोड़ रुपये की लागत से निर्माण करवाये जाने की घोषणा की है। 90 करोड रुपये की लागत से भुवाणा चौराहे से भुवाणा गांव तक ऎलिवेटेड रोड़ का निर्माण करवाया जायेगा तथा 10 करोड रुपये की लागत से उदयपुर शहर में आयड नदी पर हिरण मगरी सेक्टर 3 से मादडी इण्डस्टि्रयल एरिया को जोड़ने वाले ब्रिज के स्थान पर 4 लेन ब्रिज का निर्माण करवाया जायेगा। उदयपुर शहर की प्लानिंग, प्रबंधन एवं प्रशासन के लिए जीआईएस आधारित थ्रीडी सिटी परियोजना की घोषणा की गई है। साथ ही आगामी वर्ष में उदयपुर संभाग मुख्यालय पर राजीव गांधी सेंटर ऑफ एडवांस टेक्नोलोजी (आरकेट) केन्द्र खोला जाएगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि आरएनटी मेडिकल कॉलेज में सेंटर ऑफ एक्सिलेंस फॉर सिकल सेल डिसीज एवं मातृ विज्ञान संस्थान की स्थापना 30 करोड़ रुपये की लागत से की जायेगी। जिले में मोबाइल टेस्टिंग लैब स्थापित की जाएगी। कुल 153 करोड़ 11 लाख से चयनित सड़कों के विस्तार के कार्य किए जाएंगे। संभाग स्तर पर उच्च माध्यमिक विद्यालय में डिफेंस सर्विस प्रिपेटरी इंस्टीट्यूट की स्थापना करने की घोषणा। इस पर 35 करोड़ रुपये का व्यय प्रस्तावित है। 
राजसमंद ः योजनाओं ने बनाया राज्य को मॉडल स्टेट – श्री आंजना
महंगाई से राहत पर राजसमन्द के प्रभारी मंत्री उदयलाल आंजना ने जिला कलेक्ट्रेट सभागार में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। हर परिवार को 25 लाख रुपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा। 30,000 बच्चों को कोचिंग लेने पर अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से पूरी फीस सरकार द्वारा वहन की जाएगी। बजट 2023-24 की प्रमुख घोषणाओं की जानकारी देने के साथ ही उन्होंने राजसमन्द जिले के लिए की गई बजट घोषणाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। साथ ही, उन्होंने बताया की सरकार की पिछली 4 बजट घोषणाओं में जिले के लिए कुल 71 घोषणाएं की गई थी। इनमें से 31 घोषणाओं पर कार्य पूर्ण हो चुका है तथा 34 घोषणाओं का कार्य बहुत जल्दी पूर्ण हो जायेगा। उन्होंने बताया कि 6 घोषणाओं के कायोर्ं की स्वीकृति मिल चुकी हैं, जो जल्द शुरू किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पिछली बजट घोषणाओं का 92 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका हैं तथा 8 प्रतिशत कार्य प्रक्रियाधीन हैं।
बारांः सरकार जनसेवा के लिए प्रतिबद्ध- श्री पंकज मेहता
बारां में राजस्थान खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री पंकज मेहता ने सर्किट हाउस में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की विकास दर 11.04 प्रतिशत है जिसके कारण राज्य का तेजी से विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ‘‘कोई भूखा ना सोये’’ की संकल्पना को साकार किया है इन्दिरा रसोई के माध्यम से 8 रूपए में भरपेट भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है। साथ ही 1 हजार नई इन्दिरा रसोई शहरी कस्बों में खोली जाएगी। महंगाई से राहत प्रदान करने के लिए बजट में 19 हजार करोड़ रूपए का पैकेज दिया है। जिला प्रमुख उर्मिला भाया ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश सरकार जन-जन के कल्याण की प्रतिबद्धता से कार्य कर रही है। इस बजट में सरकार ने प्रदेश में सभी वार्गों को राहत प्रदान करते हुए विकास का मार्ग प्रशस्त किया है। उन्होंने कहा कि बारां जिले में मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज का निर्माण कार्य प्रारंभ हो गया है जिसका आमजन को लाभ मिलेगा। इसी क्रम में वर्तमान बजट के तहत सीसवाली में राजकीय महाविद्यालय खोला जाएगा। पॉलोटेक्निक महाविद्यालय बारां में केमिकल ब्राचं शुरू की जाएगी। साथ ही बजट के तहत उर्जा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, वन, कला व संस्कृति, कृषि, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, अल्पसंख्यक कल्याण, उद्योग, सड़कों व पुलों के निर्माण, संस्कृत महाविद्यालय शुरू करने एवं वेद महाविद्यालय खोला जाना प्रस्तावित है। अटरू में खेल स्टेडियम सहित आधारभूत विकास एवं कल्याण की कई घोषणाएं की गई है, जिसका लाभ आमजन को मिलेगा। इस अवसर पर महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के जिला संयोजक कैलाश जैन, जिला कलक्टर नरेन्द्र गुप्ता, एएसपी जिनेन्द्र कुमार जैन, एसडीएम दिव्यांशु शर्मा व प्रिन्ट व इलेक्ट्रॉनिक मीडियाकर्मी मौजूद रहे। 
हनुमानगढ़ः आमजन को महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा- श्री मेघवाल
महंगाई से राहत पर जिले के प्रभारी मंत्री, आपदा प्रबंधन एवं सहायता, प्रशासनिक सुधार व समन्वय, सांख्यिकी विभाग एवं नीति निर्धारण प्रकोष्ठ श्री गोविंद राम मंत्री ने कलक्ट्रेट सभागार में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है, यानी आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। इसी प्रबंधन की बदौलत हमारी आर्थिक विकास दर 11.04 प्रतिशत है, जिसके कारण राज्य तेजी से बढ़ रहा है। केंद्र सरकार की नीतियों के कारण आम आदमी की जरूरत की सभी चीजें लगातार महंगी होती जा रही हैं। इसलिए महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। रोजगार को बढ़ावा देने के लिए 1 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी जाएगी, युवाओं के लिए हर ब्लक पर सावित्रीबाई फुले रीडिंग रूम एवं डिजिटल लाइब्रेरी शुरू की जाएंगी, 1000 नए महात्मा गांधी राजकीय इंग्लिश मीडियम स्कूल खोले जाएंगे। जोमैटो, स्विगी, ऊबर, ओला जैसी इंटरनेट आधारित कंपनियों में कार्य करने वाले गिग वर्कर्स को शोषण से बचाने के लिए गिग वर्कर्स वेलफेयर बोर्ड एवं 200 करोड़ रुपये का गिग वर्कर्स वेलफेयर फंड बनाया जाएगा, इसके लिए गिग वर्कर्स वेलफेयर एक्ट लाया जाएगा। आईटी का इस्तेमाल करते हुए प्रत्येक पात्र व्यक्ति को उनकी पात्रता के अनुसार ही बिना आवेदन किए सामाजिक सुरक्षा पेंशन, सभी जरूरी सरकारी प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाए जाएंगे. साथ ही, पात्रता के अनुसार स्वतरू ही सरकारी योजनाओं का लाभ सुनिश्चित होगा। इस अवसर पर माटी कला बोर्ड राजमंत्री श्री डुगरराम गैदर, जिला कलक्टर श्रीमती रुक्मणि रियार, पुलिस अधीक्षक श्री सुधीर चौधरी, जिला प्रमुख श्रीमती कविता मेघवाल, नगरपरिषद सभापति श्री गणेशराज बंसल सहित जिला स्तरीय अधिकारी और अन्य उपस्थित रहे।
बांसवाड़ाः इस साल का बजट राहत, बचत वाला रहा है- प्रभारी मंत्री श्री भाटी
राज्य मंत्री ऊर्जा (स्वतंत्र प्रभार) जल संसाधन, इन्दिरा गांधी नहर परियोजना एवं जल संसाधन (आयोजना) विभाग श्री भंवर सिंह भाटी ने शनिवार को बांसवाडा कलेक्ट्रट सभागार में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। यानी आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। इसी प्रबंधन की बदौलत हमारी आर्थिक विकास दर 11.04 प्रतिशत है जिसके कारण राज्य तेजी से बढ़ रहा है। केन्द्र की भाजपा सरकार की नीतियों ने भारत की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है. इससे महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ती जा रही है। उन्होंने बताया कि बचत के लिए तमाम योजनाएं लाई जा रही हैं जिससे आमजन के पास पैसा आए और बचत करने का मौका हो। उन्होंने इस अवसर जिले के लिए बजट में की गई अहम घोषणाओं की जानकारी देने के साथ पिछले चार वर्षों में किए गए कार्यों की भी जानकारी दी।  इस अवसर पर जिला कलक्टर प्रकाश चन्द्र शर्मा, उप जिला प्रमुख श्री विकास बामनिया, नगरपरिषद के सभापति जैनेन्द्र त्रिवेद्वी, गांधी जीवन दर्शन समिति के संयोजक श्री रमेश पण्डया, सह संयोजक विकेश मेहता मौजूद थे। 
बूंदी ः आमजन को मिलेगी महंगाई से राहत, बजट ऎतिहासिक है- प्रभारी मंत्री श्री चांदना
महंगाई से राहत पर बूंदी में युवा मामले, खेल तथा सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री श्री अशोक चांदना ने जिला कलक्टे्रट सभागार में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। केन्द्र सरकार की नीतियों ने भारत की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है। इससे महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ती जा रही है। गरीब और मिडिल क्लास परिवारों के सामने आज घर चलाना एक बडी चुनौती बन गया है। खेल राज्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हर परिवार को 25 लाख रुपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा दे रही है जो बड़ी राहत है। श्री चांदना ने कहा कि पार्ट टाइम मानदेय कर्मियों जैसे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, कुक, फर्राश आदि को रिटायरमेंट पर 2-3 लाख रुपये का पैकेज दिया जाएगा। महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में सभी कर्मचारियों को ओपीएस दिया जा रहा है। निर्मला सीतारमण ने जयपुर में आकर कहा कि ओपीएस बन्द कर देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि राजस्थान में 621 पेंशनर्स व उनके परिवारों को ओपीएस का लाभ दे दिया गया है। इस दौरान जिला कलक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी, अतिरिक्त जिला कलक्टर मुकेश कुमार चैधरी, उपखण्ड अधिकारी सोहन लाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरीलाल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा प्रेस एवं मीडिया प्रतिनिधि मौजूद रहे।
जैसलमेरः बचत-राहत-बढ़त पर आधारित है बजट – प्रभारी मंत्री श्री चौधरी
राज्य के वन एवं पर्यावरण मंत्री व जैसलमेर के प्रभारी मंत्री श्री हेमाराम चौधरी ने शनिवार को जिला कलेक्ट्रेट परिसर में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा वर्ष 2023-24 के लिए की गई बजट घोषणाओं के संबंध में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने हर वर्ग को ध्यान में रखते हुए सर्वश्रेष्ठ एवं ऎतिहासिक बजट पेश किया है, जिससे आमजन को बहुत बड़ी राहत मिलेगी। जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री गहलोत ने राजस्थान को देश का सर्वश्रेष्ठ बजट दिया है। जिसकी हर स्तर पर तारीफ हो रही है। श्री चौधरी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा बचत के लिए विभिन्न योजनाएं लाई जा रही है राज्य सरकार द्वारा हर परिवार को 25 लाख रूपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रूपये का दुर्घटना बीमा कवर दिया गया है। प्रभारी मंत्री ने इस दौरान जिले के लिए की गई बजट घोषणाओं की विस्तार से जानकारी दी। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जिला कलेक्टर टीना डाबी, जिला पुलिस अधीक्षक भंवर सिंह नाथावत, बीसूका उपाध्यक्ष उम्मेद सिंह तंवर, अतिरिक्त जिला कलक्टर गोपाल लाल स्वर्णकार, उपखण्ड अधिकारी जगदीश सिंह आशिया के साथ  प्रेस प्रतिनिधि उपस्थित थे।
जोधपुर ः प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने दी बजट घोषणाओं की जानकारी
महंगाई से राहत पर जोधपुर जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने शनिवार को जिला कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने बचत, राहत व बढ़त थीम पर प्रस्तुत ऎतिहासिक एवं अपूर्व बजट के लिए माननीय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत का आभार प्रकट किया और मीडिया को बजट की प्रमुख विशेषताओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस साल का बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है. यानी आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। प्रत्येक उज्ज्वला परिवार को गैस सिलेंडर 500 रुपये में उपलब्ध करवाया जाएगा। सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। किसानों को हर महीने 2000 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। बुजुर्गों, विधवाओं, अनाथों एवं दिव्यांगों की न्यूनतम पेंशन 1000 रुपये की जाएगी। लम्पी महामारी से मारी गर्इं दुधारों गायों के लिए 40,000 रुपये प्रति गाय दिए जाएंगे। सरकारी भर्तियों के लिए युवाओं द्वारा एक बार रजिस्ट्रेशन करवाने के पश्चात भविष्य में कोई भी परीक्षा शुल्क नहीं लिया जाएगा। इस दौरान नगर निगम (उत्तर) महापौर श्रीमती कुन्ती देवड़ा, श्री नरेश जोशी श्री सलीम खान, जिला कलक्टर श्री हिमांशु गुप्ता और अतिरिक्त जिला कलक्टर (द्वितीय) श्री राजेंद्र डांगा भी मौजूद रहे।
बाड़मेर ः बजट में रखा सभी वर्गों का विशेष ध्यान – विश्नोई
राजस्थान के बजट 2023 पर श्रम, कारखाना एवं बायलर्स राज्यमंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री सुखराम विश्नोई द्वारा शनिवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागर में प्रेसवार्ता को संबोधित किया गया। इस दौरान नगर परिषद के सभापति दिलीप माली भी उपस्थित रहे। श्री विश्नोई ने राजस्थान बजट 2023-24 में बाड़मेर जिले से संबंधित गई घोषणाओं पर चर्चा करते हुए बताया कि बजट में सभी वगोर्ं का ध्यान रखते हुए माननीय मुख्यमंत्री महोदय श्री अशोक गहलोत द्वारा ‘‘बचत-राहत-बढ़त’’ ध्येय उद्देश्य को साकार किया है। राजस्थान में बढती महंगाई को ध्यान में रखते हुए उज्ज्वला योजना के तहत सभी परिवारों को 500 रूपये में एलपीजी सिलेण्डर, घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट तक मुफ्त बिजली, मुफ्त दवाइयां, बेहतर चिकित्सा सुविधा, महिलाओं को रोड़वेज में 50 प्रतिशत की छूट, युवाओं को वन टाईम रजिस्ट्रेशन पश्चात परीक्षा शुल्क में छूट एवं सामाजिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए न्यूनतम पेंशन एक हजार रूपये की घोषणा की है। इस दौरान प्रभारी मंत्री ने बाड़मेर जिले के लिए की घोषणाओं पर चर्चा करते हुए कहा कि जिले के विकास में कोई कमी नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि जिले में 1100 मेगावाट लिग्नाइट आधारित पावर प्लांट की स्थापना की जाएगी जिसके लिए 7700 करोड़ रुपए का व्यय किया जाएगा।
जिला स्तर पर फूड सेफ्टी एण्ड ड्रग कंट्रोल कार्यालय एवं रोड़ सेफ्टी टास्क फोर्स का गठन करने, जिले में ट्रोमा सेंटर खोलने, निर्माणाधीन चौहटन पुलिया के लिए 6.22 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि स्वीकृत की गई है। इस दौरान जिला कलेक्टर लोक बन्धु, अतिरिक्त जिला कलेक्टर सुरेन्द्रसिंह पुरोहित, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश विश्नोई, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरपतसिंह भाटी, बाड़मेर उपखण्ड अधिकारी समन्दरसिंह भाटी समेत विभागीय अधिकारी तथा प्रेस प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
कोटा ः बजट महंगाई से राहत देने वाला, प्रदेश विकास के पथ पर बढे़गा – यूडीएच मंत्री
स्वायत्त शासन व नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस साल का प्रदेश बजट बचत, राहत, बढ़त वाला रहा है। यानी आमजन को पैसे की बचत होगी, उन्हें महंगाई से राहत मिलेगी और राजस्थान आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि बेहतर वित्तीय प्रबंधन से आर्थिक विकास दर 11.04 प्रतिशत है, जिसके कारण राज्य तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि हर परिवार को 25 लाख रुपये का चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा एवं 10 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा के साथ साथ 30,000 बच्चों को कोचिंग लेने पर मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से पूरी फीस सरकार द्वारा वहन की जाएगी। उन्होंने कहा कि महंगाई से राहत देने के लिए इस बजट में 19,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि गरीब परिवारों को महंगाई से राहत देने के लिए प्रत्येक एनएफएसए परिवार को फ्री गेहूं के साथ एक किलो दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल एवं मसाले निःशुल्क दिए जाएंगे। प्रत्येक उज्ज्वला परिवार को गैस सिलेंडर 500 रुपये में उपलब्ध करवाया जाएगा। सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी। किसानों को हर महीने 2000 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी।  स्वायत्त शासन एवं नगरीय विकास मंत्री ने कहा कि कोटा में माईनिंग यूनिवर्सिटी, जिला कारागाहों में पुस्तकालयों की स्थापना भी की जायेगी। उन्होंने कहा कि बच्चों को मानसिक तनाव एवं अवसाद से बचाने के लिए साईकोलॉजिकल काउंसलिंग सेंटर प्रांरभ किया जायेगा। उन्होंने बताया कि विशेष योग्यजनों के लिए महाविद्यालय खोला जायेगा। उन्होंने कहा कि कोटा में नवीन प्रथम श्रेणी पशु चिकित्सालय, ऑनलाईन परीक्षा को सुविधायुक्त बनाने के लिए परीक्षा सेंन्टर, जिला मुख्यालय पर एक आईटीआई को सेंटर आफ एक्सीलेंस के रूप में विकसित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जिले में 30 करोड की लागत से अलनियां मध्यम सिंचाई परियोजना की शेष रही कच्ची नहर की लाईनिंग एवं जीर्णोद्वार के कार्य करवाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि जिले में ब्रिजलिया से माईक्रो लिफ्ट सिंचाई परियोजना के कार्य भी करवाये जायेंगे।
                   

Join Our WhatsApp Group Join Now

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close