बजी घंटी..यूनिफार्म में बस्तों के साथ स्कूल पहुंचे बच्चे..अतिथियों ने तिलक लगाकर किया स्वागत

BHASKAR MISHRA
3 Min Read
बिलासपुर—-सरकार के फैसले के अनुसार 2 अगस्त को बिलासपुर जिले में स्कूल विधि विधान के साथ खोला गया। अलग अलग स्कूलों में अतिथियों ने बच्चों का तिलक लगाने के साथ माला पहनाकर स्वागत किया। स्वामी आत्मानन्द इंकलिश मीडियम स्कूल मंगला में अटल श्रीवास्तव, तारबाहर स्कूल में मेयर रामशरण यादव, लाला लाजपत राय स्कूल में नगर विधायक शैलेष पाण्डेय और चकरभाठा में राजेन्द्र शुक्ला के अलावा अरुण सिंह गचौन ने कोटा में स्कूल पहुंचने वाले बच्चों का अभिनन्दन किया। जिला पंचायत सदस्य राजेश्वर भार्गव ने मस्तूरी बच्चों को तिलक लगाया।
  
                     शासन के निर्देश पर 2 अगस्त को जिले में स्कूलों को खोला गया। यूनिफार्म में सजधकर सभी बच्चे बैग के साथ स्कूल पहुंचे। इस दौरान अतिथियों ने सभी बच्चों का तिलक लगातार माला के साथ स्वागत किया।
 
                  पर्यटन मंडल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने मंगला स्थित स्वामी आत्मानन्द इंगलिश मीडियम स्कूल में नव प्रवेशी बच्चों का अभिनन्दन किया। तिलक लगाने के साथ माला पहनाकर नौनिहालों का स्वागत किया।
 
              तारबहार सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल में मेयर रामशरण बच्चों के शाला प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में शिरकत किया। एक साल के लंबे इंतजार के बाद सोमवार को उमंग के साथ कांधे पर थैला लटकाए स्कूल पहुंचे सभी बच्चों का मेयर रामशरण यादव, सभापति शेख नजरूद्दीन ने आत्मानन्द इंगलिश हायर सेकेन्डरी स्कूल के बच्चों को तिलक लगाकर शाला में प्रवेश दिलाया। 
 
              इस दौरान सभी बच्चों को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने गाइडलाइन के अनुसा्र मास्क पहनाया गया। हाथों को बच्चों ने सेनेटाइज भी किया।
 
                                          लाला लाजपत राय इंगलिश मीडियम स्कूल के बच्चों को नगर विधायक शैलेष पाण्डेय ने स्कूल प्रवेश कराया। नगर विधायक ने सभी बच्चों का तिलक लगाकर स्वागत किया। माला भी पहनाया..उन्होने कहा कि बिना बच्चों के स्कूल का कोई महत्व नहीं होता है। एक बार फिर बच्चों  ने स्कूल पहुंचकर माहौल को खुशनुमा बना दिया है। बच्चों को इस दौरान कोरोना से बचने के लिए हमेशा मास्क लगाकर रखना होगा। बीच बीच में हाथों को बराबर सेनेटाइज कर कोरोना को हराना होगा।
              
                         जानकारी देते चलें कि शासन के निर्देश पर 2 अगस्त से स्कूलों के दरवाजे बच्चों के लिए खोल दिए गये हैं। शासन के आदेश के बाद सरकारी और निजी स्कूलों में 10 वीं से 12 वीं की कक्षाएं शुरू हो गई हैं। एक से 5 वीं तक के लिए पंचायत और पार्षदों की अनुमति से स्कूल खोले गए हैं।
 
                       हालांकि 6 वीं, 7 वीं, 9 वीं और 11 वीं की कक्षाएं संचालित नहीं की जा रही हैं। स्कूल खोलने से पहले कक्षा को अच्छी तरह से सैनिटाइजेशन किया गया है। बच्चों के सुरक्षा को भी ध्यान में रख कर शिक्षा विभाग स्कूलों का संचालन शुरू कर दिए है। बच्चों को माला पहनाकर और तिलक लगाकर अतिथियों ने स्वागत किया है।
TAGGED:
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close