रामानुजगंज वन वाटिका में विशाल नर हाथी की लाश देख लोगों के उड़े होश

रामानुजगंज (पृथ्वीलाल केशरी) वन परीक्षेत्र रामानुजगंज अंतर्गत मितगई रोड में स्थित वन वाटिका में एक विशाल नर हाथी की लाश देख लोगों के होश उड़ गए। हाथी की मौत कैसे हुई है इस बात का पता अब तक नहीं चल सका है। रामानुजगंज वन वाटिका में एक विशाल नर हाथी की लाश देख लोगों के होश उड़ गए। हाथी की मौत कैसे हुई है इस बात का पता अब तक नहीं चल सका है। घटना की जानकारी मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच चुकी है। अधिकारी पीएम के बाद ही हाथी की मौत का कारण स्पष्ट होने की बात कह रहे है।

गौरतलब है कि बलरामपुर रामानुजगंज जिले में हाथियों का आतंक चरम पर है और आए दिन होने वाले जान व माल के नुकसान के कारण हाथियों व इंसानों के बीच द्वन्द जैसी स्थिति बनी हुई है। अपनों की मौत व नुकसान से ग्रामीणों में आक्रोश है वही हाथियों को बार बार खदेड़ने और उन्हें परेशान करने से हाथी भी आक्रामक हो चुके है। वहीं वन अधिकारियों एवं कर्मचारियों हाथियों से लोगों को सुरक्षित रखने व स्थिति नियंत्रण में होने का दावा कर रहे है परन्तु आज सुबह रामानुजगंज वन परिक्षेत्र के रामानुजगंज वन वाटिका में एक विशाल नर हाथी की लाश ने वन विभाग के दावों की पोल खोल दी है।

जिस तरह से हाथी की मौत हुई है उससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि निश्चित तौर पर उसकी मौत करेंट की वजह से हुई है ऐसा उपस्थित जनों का मानना है।

नर दंतैल की मौत पर वन विभाग क्या कदम उठाता है ?

डीएफओ विवेकानंद झा का कहना है कि पीएम के बाद ही हाथी के मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा परन्तु बलरामपुर रामानुजगंज जिले में हाथी की मौत का यह पहला मामला नहीं है। मानव-हाथी द्वन्द में अब तक अनेकों हाथियों और उनके शावकों की मौत हो चुकी है परन्तु किसी भी मामले की जांच अब तक पूरी नहीं हो सकी है। अब देखना यह है कि इस नर दंतैल की मौत पर वन विभाग क्या कदम उठाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *