पूर्व मंत्री ने कहा..प्रदेश में असंगठित अपराध का बोलबाला ..खतरे में स्मार्ट सिटी योजना.पीएम की अगुवाई में देश का तेजी से हुआ विकास..दुनिया ने भी माना नेतृत्व का लोहा

बिलासपुर— पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने फेसबुक लाइव कार्यक्रम के दौरान जनता को बताया कि राज्य सरकार के टालमटोल रवैये से स्मार्ट सिटी परियोजना खतरे में है। केन्द्र सरकार देश में सुशासन और कानून व्यवस्था को लेकर पूरी तरह से गंभीर है। प्रधानमंत्री नेगृहमंत्रियों के बैठक में वन नेशन वन यूनिफार्म की बात कह स्पष्ट भी कर दिया है। अमर ने कहा कि प्रधानमंत्री की अगुवाई में देश ना केवल तेजी से विकस कर रहा है। बल्कि सामाजिक और आर्थिक मोर्चे पर मजबूती के साथ उभरा है।
 
                     शनिवार को फेसबुक लाइफ कार्यक्रम में जनता को संबोधित किया। अपनों से बात लाइव कार्यक्रम में पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से देश का तेजी के साथ विकास हो रहा है। प्रधानमंत्री की अगुवाई में देश का सांस्कृतिक वैभव एक बार फिर स्थापित हो रहा है। पिछले दिनों अध्यात्म नगरी उज्जैन में 832 करोड रुपए की लागत से महाकाल कॉरिडोर योजना का प्रधानमंत्री ने लोकार्पण किया। उत्तराखंड के चार धाम गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ, बद्रीनाथ धाम के अधोसंरचना विकास के लिए 34 सौ करोड़ रुपए का निवेश का एलान किया। गौरीकुंड से यमुनोत्री तक रोपवे मार्ग के निर्माण को हरी झण्डी दिखाया। अयोध्या स्थित रामलला दरबार में 15 लाख दीपों का प्रज्ज्वलन किया गया। करतारपुर गुरुद्वारा साहिब का धार्मिक पर्यटन के लिए खोला जाना भारतीय सांस्कृतिक पुनरुत्थान के जीवंत प्रमाण है।
 
वन नेशन वन पुलिसिंग की तारीफ
 
                             अमर अग्रवाल ने कहा सुशासन एवं कानून व्यवस्था के लिए केवल राज्य ही जिम्मेदार नहीं है ,देश के संविधान के सहकारी संघवाद के ढांचे के अंतर्गत केंद्र और राज्यों के समन्वित प्रयास होने चाहिए। प्रधानमंत्री ने गृहमंत्रियों की बैठक में वन नेशन वन यूनिफार्म का फार्मूला देकर भारतीय पुलिसिंग को बेहतर बनाने का संकेत दिया है। 
 
असंगठित अपराध का बोलबाला
 
           फेसबुक लाइव कार्यक्रम में पूर्व मंत्री ने राज्य उत्सव की बधाई दिया। उन्होने बताया कि स्व.पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के  समग्र विकास की अवधारणा पर छत्तीसगढ़ राज्य का गठन हुआ। दुर्भाग्य है कि पिछले 4 साल में प्रदेश की जनता के साथ विकास के नाम पर धोखा हुआ है। सरगुजा से लेकर बस्तर राजनांदगांव जिले से रायगढ़-जशपुर अंचल तक सभी जिलों में संगठित और असंगठित अपराध का बोलबाला है।
 
बेकारी दूर नहीं होने वाली
 
                       अमर अग्रवाल ने कहा कि आंकड़ों से बेरोजगारी दर शून्य बताने से बेकारी दूर होने वाली नहीं है। ओलंपिक खेलों के नाम पर स्थानीय खेलों का कांग्रेसीकरण किया जा रहा है। कबड्डी जैसे खेल में प्रशासन की लापरवाही और अनदेखी से दो प्रतिभागियों की मौत हो जाना अत्यंत दुखद है। दूसरे प्रदेश में 50 लाख का बीमा देने वाली सरकार राज्य के खिलाड़ियों और प्रतिभागियों को सुविधाएं नहीं दे पा रही है।
 
आदिवासियों से धोखा
 
                  अमर अग्रवाल ने कहा छत्तीसगढ़ की सरकार आरक्षण के नाम पर आदिवासियों का शोषण कर रही है। आज राज्य में भर्ती तंत्र पूरी तरह विफल हो चुका है। 984 पदों पर सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा 4 वर्षों के बाद 6 नवंबर को आयोजित की जाने वाली थी। एक बार फिर आगे बढ़ा दी गई है। नौकरी के लिए लाखों बेरोजगारों के आवेदन जमा होना अपने आप में सरकार का युवाओं के साथ छलावे को प्रमाणित करता हैं।
 
योजना बन्द होने के कगार
 
          प्रदेश के पूर्व मंत्री ने स्मार्ट सिटी परियोजना की धीमी गति को लेकर राज्य सरकार पर अनदेखी का आरोप लगाया। उन्होंने ने कहा कि 2015 में राज्य के तीन शहर नवा रायपुर, रायपुर और बिलासपुर में स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत  2284 करोड़ रुपए के स्वीकृत हुई। कार्य समय पर अपूर्ण होने से बंद होने के कगार पर है। भाजपा नेता ने गोकुलधाम में गोधन न्याय योजना के अंतर्गत सैकड़ों डेयरियों से निकलने वाले हजारों किलो गोबर नालियों में रोज बहने को गौ संपदा के साथ अन्याय होना बताया। 
 
उन्होंने कहा शहर में बहतराई स्टेडियम अंडर 23 नेशनल ओपन एथलेटिक्स शामिल होने वाले खिलाड़ियों के लिए जिला प्रशासन व्यापक सुविधाएं मुहैया कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *