मेयर ने बताया मुक्तिधाम में बनाएंगे विद्युत शवदाह गृह..एक करोड़ रूपए करेंगे खर्च..देंगे शानदार नया स्वरूप

बिलासपुर— मेयर रामशरण यादव ने बताया कि एक करोड़ की लागत से भारतीय नगर स्थित मुक्तिधाम का जीर्णोद्धार किया जाएगा। मुक्तिधाम के क्षेत्रफल का विस्तार भी किया जाएगा। साथ ही मुक्तिधाम में फाउन्टेन से लेकर फवारा और बैठने की व्वस्था विशेष रूप से की जाएगी।
 
              शहर में एक करोड़ की लागत से भारतीय नगर वार्ड स्थित मुक्तिधाम का जीर्णोद्धार किया जाएगा। नगर निगम ने कागजी प्रक्रिया पूरा कर लिया है। महापौर रामशरण यादव ने बताया कि मुक्तिधाम में उगे झाड़ियों की कटिग के साथ गैर जरुरी पेड़ की छटनी का आदेश दिया गया है। मुक्तिधाम में फाउंटेन, फवारा, बैठने के लिए बैंच, गार्डन और कई तहर के मूर्ती और पथवे का निर्माण कराया जाएगा।
 
             मेयर ने जानकारी दी कि प्रोजेक्ट में लगभग एक करोड़ रूपए खर्च होंगे। क्योंकि कोरोना काल में देखने में आया कि शव को जलाने में लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। इसलिए निगम ने फैसला किया है कि मुक्तिधाम में विद्युत शवदाह गृह भी बनाए जाएंगे। आने वाले दिनों में यहां गाय के गोबर से बनने वाले गो-काष्ट का भी मशीन लगाया जाएगा। जिससे लकड़ी की जगह गोबर से बने लकड़ी का उपयोग अंतिम संस्कार  में किया जाएगा।
 
                महापौर रामशरण यादव ने बताया कि सामान्यतः शवदाह में औसतन 4 क्विटंल लकड़ी का उपयोग होता है। लेकिन विद्युत शवदाहगृह के बाद लकड़ी की खपत 80 किलों हो जाएगा। मुक्तिधाम जीर्णोद्धार का काम शुरू कर दिया गया है।
 
असामाजिक तत्वों का जमावड़ा
 
                मेयर ने बताया कि भारतीय नगर मुक्तिधाम 10 एकड़ क्षेत्रफल में फैला है। उचित रखरखाव के अभाव में यहां जंगल जैसी स्थिति बन गयी है। अनावश्यक पेड़ो की डंगालों को छटनी करने का आदेश दिया गया है। झाड़ियों के उगने से मुक्तिधाम में हमेशा आसामाजिक तत्वों की उपस्थिति की शिकायत मिल रही थी। लेकिन चारो ओेर बाउंड्रीवाल कराने के बाद यहां असामाजित तत्वों के प्रवेश को पूरी तरह रोक दिया जाएगा।
 
बनेगी सड़क और रौशनी के लिए लगेेंगे खंभे
 
             महापौर रामशरण यादव ने बताया भारतीय नगर मुक्तिधाम परिसर के भीतर रिक्त जमीन को लैंड स्केपिग कर आकर्षक बनाया जाएगा। लोगों के बैठने के लिए बेंच,पीने के लिए पानी की व्यवस्था,पर्याप्त लाइट की व्यवस्था होगी। रंग रोगन करने के निर्देश भी दिए गए हैं। सरकंड़ा मुक्तिधाम की तरह यहां भी गार्डन बनाया जाएगा। रौशनी के लिए खंभें लगाए जाएगे और आकर्षक लाईट व्यवस्था होगी। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *