बैठक में सख्त नजर आए मेयर..कहा समन्वय से करें काम..हर महीने होगी समीक्षा..काम से चाहिए लिखित सूचना

बिलासपुर—-महापौर रामशरण यादव की अध्यक्षता में नगर निगम बिलासपुर सीमांतर्गत विकास कार्यों के क्रियान्वयन समन्वय समिति की बैठक हुई। सभापति शेख नजीरुद्दीन, आयुक्त प्रभाकर पांडे, नगर निगम, बिजली विभाग, पीडब्ल्यूडी विभाग, जल संसाधन विभाग समेत सभी विभाग के अधिकारियों ने शिरकत किया। महापौर ने सभी संबंधित विभाग के अधिकारियों से कहा कि नगर निगम सीमा क्ष्ोत्र में कोई भी काम शुरु करने से पहले लिखित में निगम को जानकारी देना अनिवार्य है।
 
                  दृष्टि सभागार में आयोजित बैठक में मेयर ने बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि कही भी बिना सोचे समझे बिजली का खंभा ना लगाए। खंभा लगाने से पहले निगम को सूचना दे। फैसला होने के बाद ही कार्रवाई करे। महापौर  ने तिफरा ओवर ब्रिज के अधीक्षण अभियांता यूजिन तिर्की को निर्देश दिया कि ओव्हरब्रिज के  कार्य में तेजी लाएं। जल संसाधान विभाग के अधिकारी को देवरी खुर्द में पानी की समस्या करने को कहा। लोक निर्माण विभाग के अधिकारी को तोरवा पुराना पावर हाउस के आगे कल्वर्ट को नए सिरे से बनाने को कहा। 
 
       बैठक के दौरान सुधीर गुप्ता, मुख्य अभियंता, नगर पालिक निगम, जी.एस.ताम्रकार, अधीक्षण अभियंता, नगर पालिक निगम, नीलोत्पल तिवारी, अधीक्षण अभियंता, यूजीन तिर्की, अधीक्षण अभियंता, नगरीय प्रशासन एवं विकास के.आर.गंगेश्वरी, कार्यपालन अभियंता, लोक निर्माण विभाग, डी.के.बिसम, एस.डी.ओ. लोक निर्माण विभाग, आर.पी.शुक्ला, कार्यपालन अभियंता, जल संसाधन विभाग, खारंग संभाग, एम.के.मिश्रा, कार्यपालन अभियंता, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, भारत भूषण नेताम, कार्यपालन अभियंता, शहरी पश्चिम जोन, सीएसपीडीसीएल, सहित सभी जोन कमीशन संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थ्ति रहें। 
 
अरपा नदी के किनारे-किनारे नाला निर्माण
 
                 महापौर ने जल संसाधन विभाग के अधिकारी को कहा कि अरपा नदी के लोधीपारा शिवघाट सरकण्डा और पचरीघाट किलावार्ड में 2 बैराज का निर्माण कार्य जल संसाधन विभाग द्बारा किया जाना है। पूर्व में अरपा नदी में देवरीखुर्द के पास चेकडेम का निर्माण कार्य किया गया है, जिसमें नाले का पानी का जमाव होता है।  जिससे पानी प्रदुषित होता है। स्मार्ट सिटी योजना के तहत इंदिरा सेतु से लेकर शनिचरी रपटा तक दोनों ओर 18०० मीटर नाली के साथ-साथ सड़क का निर्माण कार्य कराया जायेगा। इंदिरा सेतु से शिवघाट में प्रस्तावित बैराज तक सड़क के दोनों ओर नाली निर्माण का कार्य कराया जावे। ताकि बैराज में नाले का पानी नदी में प्रवेश न हो। इस संबंध में जल संसाधन विभाग के कार्यपालन अभियंता द्बारा अवगत कराया गया कि उनका कार्य सिर्फ अरपा नदी में एनीकट का निर्माण कार्य किया जाना है।
 
  गर्मी से पहले देवरीखुर्द में पानी की समस्या दूर हो
 
महापौर रामशरण यादव ने निगम में शामिल नए क्षेत्रों में पेयजल व्यवस्था को लेकर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देशित किया कि नगर निगम सीमा में सम्मिलित 18 गावों के घरों में जल जीवन मिशन के तहत पेयजल कनेक्शन दिया जाना है। देवरीखुर्द में 2 टंकी पूर्व से बनी हुई है लेकिन पेयजल प्रदाय का कार्य नहीं हो पा रहा है। हर साल गर्मी के समय देवरीखुर्द में पेयजल की समस्या उत्पन्न होती है। इस संबंध में देवरीखुर्द हाउसिग बोर्ड के सम्पवेल से पानी सप्लाई के संबंध करे साथ ही इस संबंध में डिटेल प्लान, मरम्मत, टंकी,पाईप लाईन, डिस्ट्रीब्यूशन आदि के संबंध में विजिट कर गर्मी से पहले समस्या का समाधान करने के निर्देश दिये गये।
 
 सड़क के बीच के ट्रासफार्मर को अन्य स्थान पर शिफ्ट करें
 
महापौर रामशरण यादव ने अधिकारियों को निर्देश दिए की ग्रामीण क्षेत्रों में विशेषकर बहतराई, सिरगिट्टी में बांस लगाकर विद्युत कनेक्शन लिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत खम्भे न होने से बांस लगाकर विद्युत लेने पर दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है। महापौर ने कहा नगर के कई स्थानों पर ट्रांसफार्मर एवं विद्युत पोल सड़क के बीचो बीच स्थापित है जिसके कारण यातायात एवं आम नागरिकों को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है ऐसे ट्रासफार्मर एवं विद्युत पोलों को उचित स्थान पर जनप्रतिनिधियों से संपर्क स्थापित करते हुए शिफ्ट करने के निर्देश दिये। 
 
 जहां समस्या वहां के निजी भूमि से विद्युत खंभा हटाने के निर्देश
 
                महापौर ने कहा कि नगर के कई स्थानों पर स्ट्रीट लाईट लगातार जलते रहती है। साथ ही कई क्षेत्रों में स्ट्रीट लाईट के लिए विद्युत पोल नहीं है। जिसके कारण स्ट्रीट लाईट उपलब्ध नहीं हो पाया है। नगर निगम द्बारा विगत 6माह से इस समस्या का निदान करने सीएसपीडीसीएल को पत्र प्रेषित किया गया है।  जो अभी तक लंबित है। नगर निगम के पुराने क्षेत्रों एवं नये सम्मिलित क्षेत्रों में जहां स्ट्रीट लाईट हेतु लाईन/ खम्भे नहीं लगे है। ऐसे स्थानों पर स्ट्रीट लाईट की व्यवस्था करने हेतु सर्वे कराकर डिमांड नगर निगम को भेजने के निर्देश सीएसपीडीसीएल को दिये। साथ ही व्यापार विहार के कई स्थानों पर निजी प्लाटों में विद्युत के खम्भे लगा दिये गये है जिसके कारण भूमि स्वामी को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है ऐसे विद्युत खम्भों को परीक्षण कर यथोचित स्थान पर लगाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *