नाराज लोगों ने कहा…हम बाम्बे में नहीं..बाम्बे आवास में रहते हैं..पानी नहीं-बिजली नहीं-सड़क भी नहीं..सरकार बताए..कहां फरियाद करें

बिलासपुर—कोनी स्थित बाम्बे आवास के लोगों ने पुलिस कप्तान और कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर मूलभूत सुविधाओं को लेकर फरियाद किया है। पीड़ितों ने स्थानीय बेलतरा विधायक रजनीश सिंह को भी पत्र लिखना बताया। आक्रोशित बाम्बे आवास के लोगों ने बताया कि ऐसा लगता है कि हमारा आवास बिलासपुर का हिस्सा ही नहीं है। यहां ना तो पानी की व्यवस्था है और ना ही सफाई की। सड़क तो है नहीं। पुलिस व्यवस्था भी नहीं है। ऐसा लगता है कि प्रशासन ने हमें पूरी तरह से जानवर समझ लिया है। यदि हमारी गुहार को नहीं सुना गया तो अब हमारे सामने सिर्फ भूख हड़ताल या उग्र प्रदर्शन के अलावा कोई दूसरा रास्ता नही है।
 
                  कोनी थाना क्षेत्र के बाम्बे आवास के लोग भारी संख्या में पुलिस कप्तान और कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। प्रदर्शन करने पुरूषों के साथ महिलाएं भी पहुंची। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि कई बार हमने अपनी पीड़ा को कई मंच पर जाहिर किया है। लेकिन हर बार परिणाम शून्य ही रहा।
 
                                 पीड़ितों ने बताया कि बाम्बे आवास तखतपुर विधानसभा का हिस्सा है। स्थानीय विधायक को भी अपनी समस्या को लेकर पत्र लिखा है। लेकिन चुनाव के बाद उन्होने आज तक दर्शन ही नहीं दिया। पीड़ितों दुखी होकर बताया कि हमारा क्षेत्र कभी गांव हुआ करता था। अब बिलासपुर नगर पालिक निगम क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 67 कहलाता है। सफाई के नाम पर निगम की गाड़ियां यह पहुंचती ही नहीं। साफ पानी नसीब में नहीं है। घर तो है लेकिन नाली का कहीं अता पता नहीं है। नियमित सफाई की व्यवस्था नहीं होने से आवास के लोगों को स्थिति बद बदतर हो गयी है। इतनी गंदगी है कि लोग यहां आना भी पसंद नहीं करते हैं।
 
                          नाराज बाम्बे आवास के लोगों के अनुसार दिन तो सूरज की रोशनी में कट जाता है। रात होते ही क्षेत्र में घुप अंधेरा छा जाता है। स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था तो है नहीं…पक्की सड़क तो दूर यहां किसी जमाने में बनी कच्ची सड़क की स्थिति ठीक नहीं है। जबकि नेशनल हाइवे चंद कदम से दूर से गुजरता है।
 
                                   स्ट्रीट  लाइट नहीं होने से हमेशा लूट पाट और हत्या की आशंका बनी रहती है। अंधेरे का फायदा उठाकर नशेड़ी और असामाजिक तत्व लूटपाट और मारपीट की घटना को जब तब अंजाम भी देते रहते हैं। की बार शिकायतों के बाद भी हमारी समस्याएं खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर हम अब अपनी समस्या लेकर कहां जाएं।
 
          ग्रामीणों ने कहा आज सभी लोग कलेक्टर से पक्की सड़क, स्ट्रीट लाइट और साफ पानी की मांग करने आए हैं। इसके अलावा पुलिस कप्तान से गुहार करते हैं है कि क्षेत्र में अपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगान के लिए बाम्बे आवास के पास पुलिस सहायता केंद्र की स्थापना की जाए। साथ ही शाम 6 बजे से रात 12 बजे तक नियमित पुलिस पेट्रोलिंग की भी व्यवस्था की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *