1964 से चल रहे स्कूल को बंद न किया जाए.. संसदीय सचिव यू डी मिंज़ से मिला फेडरेशन का प्रतिनिधि मंडल

जशपुरनगर । छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन,शाला प्रबंधन एवं विकास समिति तथा शिक्षक शिक्षिकाओं के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने संसदीय सचिव यू.डी. मिंज से मिलकर रखी अपनी समस्याएं रखीं।
उन्होने बताया कि कुनकुरी में सन् 1964 से संचालित विद्यालय शासकीय बालक उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय सलियाटोली में स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी माध्यम उत्कृष्ट विद्यालय प्रारम्भ होने के फलस्वरूप यहाँ पदस्थापित शिक्षिकाओं एवं कार्यालयीन कर्मचारियों को अन्यत्र स्थानांतरित करने का प्रस्ताव जिला शिक्षा अधिकारी,जशपुर द्वारा मंगाए जाने के कारण पिछले 56 वर्षो का गौरवपूर्ण इतिहास समेटे इस हिंदी माध्यम विद्यालय में अध्ययन कर रहे गरीब परिवारों के छात्रावासी एवं अन्य बच्चों के भविष्य पर प्रश्न चिन्ह उत्पन्न हो गया है। इस समस्या को लेकर छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन कुनकुरी के अध्यक्ष अरविंद कुमार मिश्रा, उपाध्यक्ष वाई.आर. कैवर्त, संगठन मंत्री अनिल कुमार सिंह,कोषाध्यक्ष सुधीर कुमार सिन्हा,शाला प्रबंधन एवं विकास समिति के अध्यक्ष रितेश नायक,संरक्षक सदस्य बेमताटोली सरपंच राजकुमारी लकड़ा,सदस्य उपसरपंच पंकज गुप्ता एवं विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने कुनकुरी विधायक एवं संसदीय सचिव यू.डी. मिंज के पास पहुंचकर अपनी बात रखी । उन्होने इस विद्यालय को बंद न होने देने के लिए पहल करने का अनुरोध किया।सबकी बातों को संसदीय सचिव ने विस्तार से सुना एवं स्पष्ट आश्वासन दिया कि इस विद्यालय को बंद नहीं होने देने हेतु वे संकल्पित हैं । उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी,जशपुर को तुरंत संदेश भिजवाया कि उनकी जानकारी के बिना उनके संसदीय क्षेत्र के किसी भी हिंदी माध्यम विद्यालय को बंद करने का प्रस्ताव न भेजा जाए।संयुक्त प्रतिनिधि मंडल ने संसदीय सचिव को तत्काल पहल करने पर हार्दिक धन्यवाद दिया।इसके पश्चात संसदीय सचिव ने उपस्थित कर्मचारियों से उनकी अन्य समस्याओं पर भी चर्चा कर उनके निदान हेतु तत्काल अधिकारियों को निर्देशित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *