TS सिंहदेव के इस्तीफ़े के बाद की हलचल,देखिए कहाँ लिखे जा रहे नारे…बाबा साहब जिंदाबाद…! आपका हर फैसला सर आँखों पर..

रायपुर/अम्बिकापुर।छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ कांग्रेस नेता टीएस सिंहदेव ने शुक्रवार को पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग से इस्तीफा दिया। हालांकि वह लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण चिकित्सा शिक्षा, 20 सूत्रीय कार्यान्वयन और वाणिज्य कर जीएसटी विभाग के मंत्री बने रहेंगे। दोपहर से उनके इस्तीफे को लेकर चर्चा थी। शाम लगभग सात बजे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम चार पन्ने का पत्र टीएस के ऑफिस से जारी किया गया। इसमें पंचायत विभाग से जुड़े कामों में लगातार हो रहे हस्स्तक्षेप और आपत्तियों के बावजूद हालात में सुधार नहीं होने का जिक्र उन्होंने किया है।

इधर टी एस के इस फैसले के बाद सोशल मीडिया में बाबा साहब जिंदाबाद ,बाबा साहब आपका हर फैसला सर आंखों पर जैसे कॉमेंट्स देखने को मिल रहे हैं। सोशल मीडिया फेसबुक पर एक यूजर राजेश मिश्रा ने लिखा कि स्वाभिमान और आत्म सम्मान से बढ़कर जीवन में कुछ नहीं होता आपने जो अभी दिया इसे बहुत पहले कर लेना चाहिए था।लव वर्मा ने लिखा कि आज छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनी है उसमें सबसे बड़ा योगदान टीएस बाबा का है अगर बाबा का चेहरा नहीं रहता तो छत्तीसगढ़ में कभी भी कांग्रेस की सरकार नहीं बनती। धर्मेंद्र कुमार पात्रे ने लिखा कि मुख्यमंत्री पाटन विधानसभा से खुद हारेगा स्कूल सफाई कर्मचारी संघ लगे हैं।

रेमू पाटनवार ने लिखा कि बाबा साहब मैं आपका फैन हूं तथा आपको छत्तीसगढ़ का सीएम देखने का उत्सुक हूं। मेरा पर्सनल विचार है मैं आपको अवगत कराना चाहता हूं कि आपके द्वारा घोषणा पत्र तैयार किया गया जो काफी प्रशंसनीय है। जिसे कुछ हद तक जमीनी स्तर पर लागू किया गया और जिसके कदम पर छत्तीसगढ़ में आज इतनी पूर्ण बहुमत की सरकार है ।और आज संविदा पर कार्यरत पंचायत स्तर कार्य कर रहे कर्मचारी के विरुद्ध बयान आना और उसके विरुद्ध कार्य करना आपको शोभा नहीं देता ।जो कि कर्मचारियों में रोष व्याप्त है और लगभग छत्तीसगढ़ में सारे कर्मचारी नाखुश है तथा बाबा साहब से निवेदन है कि कर्मचारी पक्ष में सफल कार्रवाई करें जिससे छत्तीसगढ़ में आपकी और छत्तीसगढ़ में पुनः सरकार आ सके धन्यवाद। संजय तिवारी कांपा ने लिखा कि साथ में रहकर डैमेज करने का प्रयास ,यह तो गलत है।रहा सवाल आत्मसम्मान का तो यह कदम सही है। राजा साहब जिंदाबाद।

लव वर्मा ने लिखा कि तब तक हम जो कहते थे कि घोषणापत्र के वायदे पूरे नहीं हुए आज यही सरकार के मंत्री कह रहे हैं और इस्तीफा दे रहे हैं।टीएस सिंहदेव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री ने पद से इस्तीफा दिया।घोषणा पत्र की घोषणा पूरी ना होने पर आप इस्तीफा कब देंगे मुख्यमंत्री जी।

टीएस सिंहदेव सरगुजा क्षेत्र के अंबिकापुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।वे राज्य में कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में से एक हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस्तीफे को लेजर कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से महाराजा साहब के पत्र के संबंध में जानकारी प्राप्त हुई है।लेकिन पत्र नहीं प्राप्त हुआ है। मेरा ऐसा मानना है कि मुख्यमंत्री जी को भी यह पत्र नहीं मिला है। पत्र मिलने पर आलाकमान से इस मसले पर चर्चा की जाएगी।

सिंहदेव वरिष्ठ मंत्री हैं। इस वजह से पंचायत विभाग छोड़ने के उनके फैसले से कांग्रेस की अंदरूनी राजनीति में हलचल मच गया है। इस विषय में श्री सहदेव का कहना है कि पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से चीजें चल रही थी यह तो एक दिन होना ही था।TS सिंहदेव द्वारा पंचायत विभाग की जिम्मेदारी छोड़ने की सूचना केंद्रीय नेतृत्व को भेजने की बात सामने आ रही है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि पंचायत विभाग की जिम्मेदारी छोड़ने की बात से सिंहदेव ने तो कह दी है लेकिन सरकार उनके पोर्टफोलियो में यह विभाग बरकरार रखेगी या फिर पंचायत विभाग उनसे वापस लेकर किसी और मंत्री को सौंपा जाएगा। भूपेश सरकार के गठन के साथ ही मंत्रिमंडल में स्वास्थ्य और वाणिज्य कर के साथ-साथ पंचायत विभाग की जिम्मेदारी दी गई थी। उधर भाजपा की ओर से देर शाम जारी बयान में कहा गया कि यह घटनाक्रम कांग्रेस की अंदरूनी कलह का परिणाम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *