पुलिस खुलासा..कहीं जल्दबाजी तो नहीं.प्रतिबंधित लाखों की कोडिन बरामद..तीन आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर—पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने खुलासा किया कि पुलिस ने भारी मात्रा में प्रतिबंधित कोडीन सिरप बरामद किया है। तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया  है। आरोपियों के कब्जे से 1000 नग कोडिन सिरप समेत कार और मोटरसायकल जब्त किया गया है। बरामद कोडीन की कीमत करीब डेढ़ लाख रूपयों से अधिक है। आरोपियों से कार मोटरसायकल समेत सात लाख से अधिक सामान को बरामद किया गया है। तीनों आरोपियों के खिलाफ नारकोटिक की धाराः- 21, 22 के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय के हवाले किया गया है। 
 
पकड़े गए आरोपियों के नाम
 
1) मनीष साहू पिता राधेश्याम साहू उम्र 21 वर्ष सा0 सदर बाजार जिला जांजगीर चांपा,
2) शुभान खान पिता सुलेमान खान उम्र 20 वर्ष सा0 मस्जिद मोहल्ला जिला जांजगीर चांपा,
3) प्रणव दत्त पाण्डेय पिता स्व० गोविंद माधव पाण्डेय 45 वर्ष सा० बलौदा जांजगीर चांपा
 
भारी मात्रा में प्रतबंधित सिरप बरामद
 
                पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने बिलासागुड़ी में भारी मात्रा में प्रतिबंधित कोड़िन बरामद किए जाने का खुलासा किया। उन्होने बताया कि मुखबीर से जानकारी मिली कि दो व्यक्ति  बजरंग काम्प्लेक्स के पीछे ईमलीपारा रोड से अवैध कोडिन युक्त कफ सिरप बिकी का परिवहन कर रहे हैं। पुलिस टीम ने सूचना के बाद तत्काल मौके पर पहुंच घेराबन्दी के बाद वाहन समेत दो व्यक्तियों धर दबोचा। दोनो ने अपना नाम मनीष साहू और शुभम खान बताया। दोनो आरोपियों ने बताया कि वह जांजगीर चांपा के रहने वाले है। दोनों के पास से चेकिंग के दौरान 200 नग प्रतिबंधित कोडिन बरामद किया गया है।
 
            पुछताछ के दौरान दोनों ने बताया कि सिरप बलौदा निवासी प्रणव दत्त पाण्डेय से खरीदा है। उनके पास खरीदी बिक्री बिल भी है। कार में और भी कफ सिरप रखा है। महाराणा प्रताप चौक स्थित  ग्राहकों को देना है। पुलिस टीम ने तत्काल आरोपीयों के निशानदेही पर महारणा प्रताप चौक ओव्हर ब्रिज के नीचे  कार क्रमांक सीजी 11 ए जी 6232 को देखा। पुलिस को देखते ही कार चालक भागने का प्रयास किया। लेकिन उसे समय रहते उसे धर दबोचा गया। पछताछ के दौरान कार सवार ने अपना नाम बलौदा जिला जांजगीर निवासी प्रणव दत्त पाण्डेय बताया। तलाशी के दौरान कार से कुल 200 नग प्रतिबंधित कोडिन युक्त कफ सिरप बरामद किया गया।
 
            पकड़े गए आरोपी ने सिरप को उत्तराखण्ड देहरादून से ट्रांसपोर्ट कर लाना बताया। अलग अलग ग्राहकों को बिक्री किए जाने की बात कही। इस तरह पुलिस ने तीनों आरोपीयों के कब्जे से 1000 नग कोडीन युक्त कफ सिरप कीमती 150000 रुपये समेत एक कार और मोटरसायकल को जब्त किया है। बरामद सामान की कीमत करीब सात लाख रूपयों से अधिक है। तीनों को न्यायिक रिमाण्ड पर न्यायालय के हवाले किया गया।
 
क्या जल्दबाजी में हुआ खुलासा
     
                 बहरहाल भारी मात्रा में प्रतिबंधित कोडिन बरामदगी के बाद पुलिस मे भारी उत्साह है। वहीं यह भी चर्चा है कि आखिर बिल और जरूरी दस्तावेज के बाद भी आरोपियों पर पुलिस कार्रवाई क्यों हुई।
 
                  सूत्र ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के पास से पुलिस ने खरीदी बिक्री किए जाने का दस्तावेज भी बरामद किया है। पकड़े गए व्यापारियों ने देहरादून में श्रीराम काम्पलेक्स स्थित साहिल ट्रैडर्स से डेढ लाख रूपयों की कोडिन सिरप खरीदा है। बिल में जीएसटीन के अलावा  वाटरमार्क भी है। यद्यपि गिरफ्तारी के दौरान आरोपियों ने समझाने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस कप्तान के अनुसार आरोपियों की खिलाफ सारे सबूत है। सभी पर एनडीपीएस का अपराध दर्ज किया गया। वहीं कार्रवाई को लेकर चर्चा भी है कि कहीं खुलासा में जल्दबाजी तो नहीं हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *