इंडिया वाल

Lohri Traditional Dishes: लोहड़ी के त्योहार पर इन खास व्यंजनों को बनाना होता है शगुन

Lohri Traditional Dishes-लोहड़ी का त्योहार अग्नि के देवता, उनकी पूजा और रबी की नई फसल कटने से जुड़ा है। लोहड़ी पर परम्परागत अलाव जलाने, ढोल की थाप पर नाचने, लोकगीत के साथ पतंग उड़ाने की भी परंपरा होती है। पंजाबी समुदाय का ये त्योहार देश भर में मनाया जाता है। इस दिन चावल के विभिन्न पकवान, मक्के की रोटी, सरसो का साग बनने की परंपरा होती हैं। इसके साथ ही कई अन्य व्यंजन लोहड़ी पर खास तौर से बनाए जाते हैं।

Lohri Traditional Dishes: लोहड़ी देश के कई अन्य हिस्सों में मनाई जाती है और हर राज्य में अलग-अलग नाम से इस त्योहार को मनाया जताा है। तमिलनाडु में पोंगल, असम में बिहू, आंध्र प्रदेश में भोगी और कर्नाटक, बिहार और उत्तर प्रदेश में इसे संक्रांति के नाम से जाना जाता है।

Lohri Traditional Dishes:इन सारे ही त्योहारों में गुड़, गजक, पॉपकॉर्न, लावा और तिल जैसे खाद्य पदार्थ खाने की विशेष परंपरा होती है और ये प्रकृति के इनाम होते हैं,क्योंकि इस मौसम में इसे खाना बेहद सेहतमंद होता है। इस दिन कई तरह के व्यंजन बनाने का भी रिवाज है। आज हम आपको बता रहे हैं लोहड़ी पर बनने वाले कुछ खास व्यंजनों के बारे में।

सरसों का साग और मक्की की रोटी
सरसों का साग, मक्के की रोटी और ऊपर से मक्खन, ये नाम सुनकर ह किसी के भी मुंह में पानी आ जाए. पंजाब-हरियाणा और दिल्ली के कई इलाकों में सर्दी के मौसम में यह सब बनना आम बात है. लेकिन यह साधारण कॉम्बो लोहड़ी पर बनने वाले व्यंजनों में से एक है। लेकिन यह सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला और सबसे प्रसिद्ध पंजाबी व्यंजन है ।लोग एक बार तो सरसों का साग और मक्के की रोटी खाना चाहते हैं. यह सर्दियों का एक ऐसा स्वादिष्ट व्यंजन है जिसे हर कोई पसंद करता है ।

सिर्फ इन लोगों को दी जा रही है गैस सब्सिडी, सरकार ने बताया

तिल की बर्फी
Lohri Traditional Dishes:लोहड़ी-सक्रांति पर तिल खाने का अच्छा शगुन होता है। बहुत से लोग तिल की चिक्की बनाते हैं तो कोई तिल की बर्फी । इसे बाजार से लाने की बजाय आप घर पर बना सकते हैं। इसके लिए आपको तिल, घी, खोया और चीनी की जरूरत होती है। आपको बता दें कि तिल सर्दियों में खाने से शरीर की गर्मी बढ़ती है और आपको ठंड लगने के चांस कम होते हैं ।

ड्राई फ्रूट और गुड की चिक्की
चिक्की सिर्फ पंजाब ही नहीं बल्कि पूरे उत्तर भारत में मशहूर है और सर्दियों के मौसम में खासतौर पर खाई जाती है। आप गुड और मुंगफली से गुडपट्टी बना सकते हैं या फिर सभी ड्राई फ्रूट्स को गुड में मिलाकर ड्राई फ्रूट चिक्की बना सकते हैं। ठंड में शाम को चाय के साथ चिक्की खाकर मजा आ जाता है। लोहड़ी पर भी बहुत से घरों में चिक्की बनाई व बांटी जाती है ।

गुड़ का हलवा
गुड का भी भारतीय घरों में बहुत महत्व है। खासकर हरियाणा-पंजाब में गुड को शौक से खाया जाता है और चाय, चिक्की, चावल और हलवा तक में डाला जाता है. आप घी, सूजी और गुड़ को मिलाकर टेस्टी गुड बनाया जाता है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS