शराब दुकान सुपरवाईजर से लूटपाट के तीन आरोपी गिरफ्तार..आंख में मिर्ची झोंककर फरवरी में दिया था घटना को अंजाम..न्यायिक रिमाण्ड पर पहुंचे जेल

बिलासपुर— कोनी पुलिस ने फरवरी में शराब दुकान सुपरवाइजर से लाखों रूपए की लूट की गुत्थी को सुलझा लिया है। घटना में शामिल तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 20 हजार नगद समेत घटना में उपयोग हुए मोटरसायकल को भी जब्त कर लिया है।

                     कोनी पुलिस को मुखबीर से जानकारी मिली कि धूमा निवासी नितेश पटेल और शिवा पटेल इन दिनों कुछ ज्यादा ही रूपए खर्च कर रहे हैं। दोनों जमकर खरीदारी को अंजाम दे रहे हैं। मुखबीर की सूचना पर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया। और जानकारी आलाधिकारियों को दी।

                                    दोनों संदेहियों को कोनी पुलिस ने पकड़कर पूछताछ की। पहले तो दोनों ने गुमराह किया। लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर दोनो टूट गए। दोनो आरोपियों ने बताया कि फरवरी 2020 में दोनो ने तीसरे साथी रिखी निर्मलकर के साथ मिलकर लूटपाट को अंजाम दिया है।

              तीनो ने मिलकर कोनी शराब दुकान सुपरवाइजर को इंजीनियरिंग कालेज के पास आंख में मिर्ची डालकर लूटपाट को अंजाम दिया है। सुपरवाइजर से 1 लाख 69 हजार 930 रूपए लूटकर फरार हो गए।

                    पुलिस ने तीनों आरोपियों के पास से 20 हजार रूपए समेत घटना में उपयोग किए गए मोटरसायकल को जब्त किया है। तीनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 , 34 के तहत अपराध दर्ज करने के बाद गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेज दिया गया है।

             जानकारी देते चलें कि रमतला निवासी विनय सिंह पिता विनोद सिंह शराब दुकान का रूपया लेकर जा रहा था। तीनों आरोपियों ने सुपरवाइजर को 17 फरवरी 2020 की रात्रि करीब 11 बजे निशाना बनाया। आंख में मिर्ची पावडर झोंककर तीनों फरार हो गए। मामले में अपराध दर्ज होने के बाद पुलिस आरोपियों को तलाश रही थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *