17 नवंबर से हाईकोर्ट की तीन डबल बेंच और 12 सिंगल बेंच शुरू

बिलासपुर।कोरोना संक्रमण के चलते पहले लॉकडाउन के बाद से बंद हाईकोर्ट में प्रत्यक्ष सुनवाई दीपावली अवकाश के बाद 17 नवंबर से शुरू होगी। हाईकोर्ट में 3 डबल बेंच और 12 सिंगल बेंच गठित किए गए हैं। इसी दिन से जिला व सत्र न्यायालय तथा अन्य अधीनस्थ न्यायालयों में कामकाज शुरू हो रहा है।हाईकोर्ट में केस नंबर के हिसाब से जमानत के मामले ऑड ईवन फार्मूले से सुने जाएंगे। ऑन नंबर वाली जमानत की अर्जियां जस्टिस प्रशांत मिश्रा सुनेंगे तथा ईवन नंबर वाले जमानत केस जस्टिस मनींद्र मोहन श्रीवास्तव की कोर्ट में सुने जायेंगे। हाईकोर्ट में तीन डबल बेंच सुनवाई करेगी। इनमें एक डबल बेंच चीफ जस्टिस पी. रामचंद्र मेनन व पार्थ प्रतीम साहू की, दूसरी जस्टिस प्रशांत मिश्रा व जस्टिस रजनी दुबे की तथा तीसरी डबल बेंच जस्टिस मनीन्द्र मोहन श्रीवास्तव व जस्टिस विमला सिंह ठाकुर की होगी। अर्जेंट सुनवाई के लिये मेंशनिंग की स्लिप रजिस्ट्रार जनरल को दी जायेगी, जो उचित बेंच में केस को प्रेषित करेंगे।

ज्ञात हो कि इस समय अत्यावश्यक मामलों की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिंग से की जा रही है। जिला सत्र न्यायालय बिलासपुर, दुर्ग व रायपुर में उच्च न्यायिक सेवा के अधिकतम 5 कोर्ट तथा निचली कोर्ट ने 7 कोर्ट एक साथ रोटेशन के हिसाब से सामान्य सुनवाई के लिए खुलेंगे। जिन स्थानों पर तीन या उससे कम अदालतें हैं वहां सभी कोर्ट खुलेंगे। अन्य स्थानों पर उच्च न्यायिक सेवा के 50 फीसदी कोर्ट तथा 50 फीसदी ही लोवर कोर्ट रोटेशन के अनुसार खुलेंगे। जमानत और रिमांड के मामलों में दोपहर 2 बजे के बाद भी कोर्ट खुले रहेंगे, अन्य सभी न्यायालयों का काम दोपहर 2 बजे तक ही चलेगा। यदि न्यायालय क्षेत्र कंटेनमेंट जोन अथवा रेड जोन घोषित किया जाएगा तो सामान्य कामकाज इसके हटने के बाद होगा। कोरोना प्रोटोकॉल का सभी न्यायालयों में सख्ती से पालन किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *