पर्यटन मण्डल चैयरमैन ने कहा..खो़डरी संगम को करेंगे विकसित..बनाएंगे पुण्य और दर्शनीय स्थल

बिलासपुर— पर्यटन बोर्ड अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव खो़ड़री में आयोजित अरपा महोत्सव कार्यक्रम में शिरकत किया। इस दौरान अटल श्रीवास्तव में महोत्सव के उद्देश्यों पर खुशी जाहिर किया। उन्होने कहा कि नदी को हमारी संस्कृति और परम्पराओं में विेशेष दर्जा हासिल है। अरपा नदी के तट पर भी हमारी सभ्यता और संस्कृति का विकास हुआ है। हम सभी जानते हैं कि जल है तो कल है। और हमें कल के लिए जल के महत्व को समझना होगा। 
 
                       9 फरवरी को गौरेला पेण्ड्रा जिला स्तित खोडरी में अरपा महोत्सव और मेला कार्यक्रम में पर्यटन मण्डल अध्यक्ष अटल श्रीवास्त बतौर मुख्य अतिथि शिरकत किया। कार्यक्रम अध्यक्षता की जिम्मेदारी जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह चौहान ने निभाया। इस दौरान  अर्चना पोर्ते-सदस्य अनु.जनजाति आयोग, अभय नारायण राय प्रदेश प्रवक्ता प्रदेश कांग्रेस, महेश दुबे-सचिव प्रदेश कांग्रेस, संदीप शुक्ला-अध्यक्ष किसान कांग्रेस, राकेश सिंह महामंत्री, अमोल पाठक ब्लाक अध्यक्ष विशेष रूप से शामिल हुए। 
 
                           अटल ने अपने सम्बोधन में कहा कि  खोडरी में मलेनिया नदी, सोन नदी और अरपा नदी का संगम स्थल है। संगम स्थल में लगातार दो वर्षों से अरपा मेला का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम में शामिल होकर उन्हें खुशी मिली है। उन्होने कहा कि संगम स्थल को पर्यटन स्थल घोषित कराने का प्रयास किया जाएगा। खोडरी और लक्ष्मणधारा को जोड़कर दर्शनीय पर्यटनीय स्थल बनाया जाएगा।
 
               अटल ने उपस्थित लोगों को बताया कि जीपीएम जिला कलेक्टर से मा्मले में बातचीत भी करेंगे। इस दौरान चैयरमैन श्रीवास्तव ने अतिथि नेअरपा नदी का पूजा पाठ किया। प्रख्यात शिव मंदिर में मत्था टेकर खुशहाली का आशीर्वाद भी मा्ंगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *