छल, झूठ, धोखा कांग्रेस की पुरानी आदत..भाजपा नेताओं ने किया बिजली दर बृद्ध का विरोध..कहा भूपेश सरकार ने प्रदेश को बना दिया अराजकगढ़

बिलासपुर—-भारतीय जनता पार्टी नेताओं ने बिजली मूल्य वृद्धि और बिजली कटौती के खिलाफ राज्यस्तरीय धरना प्रदर्शन कर सरकार का घेराव किया। बिलासपुर में कांग्रेस सरकार के खिलाफ नेहरू चौक मे  धरना प्रदर्शन किया गया। धरना के बाद भाजपा नेताओं ने  राज्यपाल के नाम कलेक्टर बिलासपुर को ज्ञापन भी दिया।
 
             भाजपा नेताओं ने नेहरू चौक में धरना प्रदर्शन के दौरान आम जनता को संबोधित किया। नेता प्रतिपक्ष छत्तीसगढ़ विधानसभा धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार चुनाव से पहले  जनता से किए गए वायदे को पूरा नहीं कर रही है जनता से छल कर झूठे वायदें कर सरकार तो बन गयी। लेकिन बीते ढाई सालों में किसी भी वादे पर अमल नहीं किया गया।
 
         धरमलाल कौशिक ने कहा कि बिजली बिल हाफ किए जाने की घोषणा के बाद भी बिजली बिली कम नहीं किया गया। उल्टा बिजली दरों में वृद्धि कर जनता की कमर तोड़ी जा रही है। बिजली दरों में की गई वृद्धि को यदि सरकार वापस नहीं लेती है तो भारतीय जनता पार्टी निरंतर संघर्ष करेगी। सराकर की रीति नीति का भांडा फोड़ेगी। कौशिक ने कहा कि यदि बिजली दरों में वृद्धि को सरकार तत्काल वापस नहीं लेती है तो सरकार को आगाह करने और चेतावनी देकर शांति पूर्ण आंदोलन प्रदर्शन करेंगे। कोरोना काल के कारण वैसे भी जनता की आर्थिक हालत पस्त है।
 
                   पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने धरने को संबोधित किया। अमर अग्रवाल ने भूपेश सरकार पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होने कहा कि जब-जब कांग्रेस की सरकार रही है जनता को परेशान होना पड़ा है।  चाहे अविभाजित मध्यप्रदेश या छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के खिलाफ भाजपा अनेक मुद्दों को लेकर सड़क की लड़ाई लड़ी है। 1998 में जब मध्यप्रदेश में थे तब हम लोगो ने विधायक रहते हुए भोपाल के विधानसभा में बिजली की अघोषित कटौती और मूल्य वृद्धि को लेकर आंदोलन किया था। उस दौरान छत्तीसगढ़ में कई-कई घंटो बिजली कटौती होती थी। जबकि छत्तीसगढ़ से ही बिजली बडी तादात में पैदा की जाती है। बावजूद  इसके कांग्रेस ने हमेशा छत्तीसगढ़ की जनता के साथ भेदभाव किया है।
 
               अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश की जनता के साथ वादा खिलाफी कर प्रताड़ित कर रही है। यदि प्रदेश सरकार बढाई गई बिजली दामों को वापस नहीं लेती और अघोषित बिजली कटौती बंद नहीं करती है भाजपा सरकार के खिलाफ आक्रमक लडाई को पूरी तरह तैयार है।
 
                        धरना प्रदर्शन को भाजपा प्रदेश महामंत्री ने भी संबोधित किया। महामंत्री ने कहा कि प्रदेश भर में जिला मुख्यालयों में भाजपा भूपेश सरकार के निर्णय के खिलाफ आंदोलन करेगी। भूपेश सरकार प्रदेशवासियों को ठगने का काम कर रही है।
 
         मस्तूरी विधायक डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी ने कहा कि सरकार ने 10 लाख बेरोजगारों को प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देने का वायदा किया था। ढाई वर्षो बाद भी एक भी बेरोजगार को बेरोजगारी भत्ता नही दिया गया। बिजली पानी, सड़क आदि के मुद्दे पर सरकार असफल रही है। जिस प्रदेश में बिजली, सड़क, पानी व्यवस्था ध्वस्त हो जाय वह प्रदेश कभी विकसित नहीं हो सकता।
 
                 बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने प्रदेश की भूपेश सरकार को घेरते हुए कहा कि प्रदेश की जनता के साथ जो भेदभाव कर रही है। बिजली उत्पादन में सरप्लस है बावजूद इसके महंगी बिजली प्रदेश की जनता को दी जा रही है। सरकार ने सिर्फ एक काम किया..वह काम कर्ज में प्रदेश को डुबाना है। भूपेश बघेल सरकार ने 36 हजार करोड़ रूपये का कर्ज लिया है। लेकिन कहीं भी विकास कार्य नहीं हो रहा है। 
 
             सभा को भाजपा जिलाध्यक्ष ने भी संबोधित किया। उन्होने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने विद्युत उपभोक्ताओं को बिजली बिल हॉफ के बजाय विद्युत दरों में वृद्धि कर लोगों की कमर तोड़ दी है । कांग्रेस सरकार को जन सरोकार से कोई मतलब नहीं है। पूर्व सांसद लखनलाल साहू ने कहा कि भूपेश सरकार ने जो सपने प्रदेश की जनता को दिखाए थे। आए दिन हत्याए, डकैती, बलात्कार, लूटमार छत्तीसगढ़ की पहचान बन गयी है। प्रदेश की जनता खौफ के साए में जीने को मजबूर है।
 
                राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय ने भूपेश सरकार को झूठी और लबरा सरकार बताया। हर्षिता ने कहा कि जन घोषणा पत्र में जो भी वायदे प्रदेश की जनता से किए गए थे। ढाई वर्ष हो गए एक भी पूरे नहीं हुए हैं। उल्टे प्रदेश को कर्ज में लादकर प्रदेश की जनता को धोखा दिया जा रहा है। राज्य सरकार ने बिजली दरों में जो वृद्धि की है यदि वापस नहीं लिया गया तो भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरकर लडाई लडेगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *