TS सिंहदेव के बयान से मची खलबली,डॉ. रमन ने कर दी तारीफ..कहा-किसानों के साथ छलावा कर रही सरकार

रायपुर।पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के उस बयान से हडक़ंप मच गया है जिसमें उन्होंने कहा कि अगली फसल के पहले अंतर की पूरी राशि किसानों को नहीं मिली, तो अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। पंचायत मंत्री के इस बयान को भाजपा ने पकड़ाऔर पूर्व मंत्री डॉ. रमन सिंह ने सिंहदेव की टिप्पणी को सरकार की चलाचली की बेला का अलार्म तक करार दिया। उन्होंने पंचायत मंत्री के बयान की तारीफ की है।पूर्व सीएम डॉ. सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की दगाबाजी, वादाखिलाफी और सियासी नौटंकियों का तो एक-न-एक दिन यही हश्र होना था। भाजपा लगातार जिन मुद्दों पर प्रदेश सरकार की आलोचना कर रही है, सिंहदेव के इस्तीफे की पेशकश से उस पर मुहर लग रही है। दरअसल, पंचायत मंत्री ने डिबेट में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के साथ बहस में यह कह दिया कि अगली फसल के पहले किसानों को अंतर की पूरी राशि नहीं मिलने पर अपने पद से इस्तीफा दे देंगे।CGWALL NEWS GROUP से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

श्री सिंहदेव ने कहा कि विपक्ष किसानों को लेकर राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है। लगातार दुष्प्रचार कर भ्रमित करने के काम कर रही हैं। 25 सौ रुपए प्रति क्विंटल की राशि की पहली किस्त दे दी गई है। दूसरी किस्त कैबिनेट में देने के लिए अगली फसल के पहले तय किया गया है, अगर इस समय तक किसानों के खाते में राशि नहीं जाएगी, तो वो पद से इस्तीफा दे देंगे। साथ ही सिंहदेव ने यह भी कहा कि यदि सरकार किसानों को अंतर की राशि का पूरा भुगतान कर देती है,तो क्या विपक्ष के जिम्मेदार नेता अपने पद से इस्तीफा देंगे।

उन्होंने कहा कि विपक्ष लोगों और किसानों को भ्रमित कर गुमराह करने की लगातार कोशिश कर रही है। कांग्रेस सरकार ने जो वादा किया है, उन सभी वादों को पूरी करने के लिए प्रतिबद्ध है. सरकार एक-एककर अपने वादों को पूरा कर रही है।

दूसरी तरफ, सिंहदेव के बयान पर पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने कहा कि किसानों के धान समर्थन मूल्य की शेष अंतर राशि के अब अगली फसल से पहले पूरे भुगतान की बात को लेकर प्रदेश सरकार में दूसरे नंबर की हैसियत रखने वाले मंत्री श्री सिंहदेव की यह पेशकश प्रदेश सरकार के राजनीतिक चरित्र के ताब़ूत की पहली और आखिरी कील साबित होगी। प्रदेश सरकार ने न किसानों के साथ न्याय किया, न शराबबंदी का वादा निभाया और न ही प्रदेश के शिक्षित बेरोजगारों के लिए रोजगार के कोई अवसर बाकी रखे। डॉ. सिंह ने कहा कि बेरोजगार युवकों को प्रदेश की भूपेश सरकार ने इस कदर हताशा के गर्त में धकेल दिया है कि वे अब आत्मदाह तक करने जैसा कदम उठाने को मज़बूर हो रहे हैं। यह प्रदेश सरकार के लिए चुल्लूभर पानी में शर्म से डूब जाने वाली स्थिति है।

किसानों के साथ कदम-कदम पर छलावा और धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए पूर्व सीएम डॉ. सिंह ने कहा कि TS सिंहदेव ने किसानों के साथ हुए अन्याय के खिलाफ आवाज उठाकर प्रदेश सरकार को सबक सिखाने का जो संकल्प व्यक्त किया है, भाजपा उसका स्वागत करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *