सिरफुट्टवल और बिखराव से पीड़ित भूपेश सरकार चला रही प्रदेश में अघोषित आपात काल-अमर अग्रवाल

बिलासपुर-पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने 25 जून 1975 को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाये गये आपात काल को लोकतंत्र और मानवाधिकारों के खिलाफ काला अध्याय बताते हुए मीसाबंदियों को देश के लिए अनुकरणीय बताया। उन्होने कहा छ-ग- में अघोषित अपातकाल चल रहा है। नेशनल हेराल्ड मामले में गबन के आरोपी राहुल गांधी को बचाने के लिए छ.ग. की पूरी सरकार और विधायक जनता के हितों के लिए भेंट मुलाकात के ड्रामे को छोडकर दिल्ली मंे ईडी के सामने धरना दे रहे हैं और राज्य के किसान खाद, उर्वरक और बीज के लिए राज्य सरकार की ओर आस लगाये बैठे हैं।उनहोने कहा एतिहासिक अग्निपथ योजना को केवल दलगत राजनीति के  आधार पर विरोध करना विपक्ष की सुविधावीर बनाने की मानसिकता का पर्याय है।

अमर अग्रवाल ने पूछा 8 वर्षों में जो लोग बैंक खाते में 15 लाख दिये जाने पर कटाक्ष करते थे वो सरकार द्वारा युवाओ को 4 वर्षाें में 24 लाख दिये जाने पर युवाओं को दिग्भ्रमित कर रहे हैं। श्री अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश की सरकार को चाहिए कि भविष्य में छ-ग- में लौटने वाले अग्निवीरों के बेहतर नियोजन के लिए प्रदेश की पुलिस सेवा, प्रादेशिक सेना सशस्त्र बलों में अन्य राज्यों की तर्ज पर स्थान सुरक्षित करना चाहिए। श्री अग्रवाल ने कहा कि राज्य में भूपेश बघेल के नेतृत्व में अड़ंगेबाजी की सरकार चल रही है।

संघवाद की आलोचना करना संवैधानिक मर्यादाओं को ताक पर रखना, केन्द्रीय योजनाओं का नाम बदलकर राज्य के नाम से चलाना और सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वालों के विरूद्ध एफ-आई-आर- कराना राज्य सरकार की कार्यशैली बन गई है। श्री अग्रवाल ने कहा राज्य सरकार में बिखराव की स्थिति है किसानों,युवाओं, श्रमिकों और प्रदेश वासियों से किये गये वायदे पूरे करना तो दूर विधायक और मंत्रियों से किये वायदों से भी मुख्यमंत्री ने किनारा कर लिया है और अब इसी कारणों से उन्हें महाराष्ट्र की स्थिति का अंदेशा दिखाई दे रहा है,ऐसे हास्यास्पद है कि आदतन में पुनः केन्द्र सरकार पर स्वयं के दल में सिरफुटव्वल का ठीकरा फोड़ने में लगे हुए हैं।

श्री अग्रवाल ने कहा गुजरात दंगों पर माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ दर्ज याचिका खारिज किये जाने से दो दशकों से देश की जनता के सामने परोसा गया झूठ का सच सबके सामने आ गया है। मोदी जी के दृढ़ संकल्प और धैर्य के साथ देश की सभी वर्गों के समग्र विकास की मंशा का परिणाम है कि वैश्विक मंच पर भारत की साख दिनों दिन बढ़ रही है। रिफार्म, परफार्म और ट्रांसफार्म के मूल मंत्र पर देश के सुशासन में आठ वर्षों के दौरान ऐतिहासिक परिवर्तन हुए हैं और लोगों को भागीदार बनाने की इच्छा शक्ति के परिणाम देश की जनता को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों वित्तीय क्षेत्र में भुगतान मामले में भी भारत दुनिया का नं. 1 देश बन गया है। डिजिटल सशक्तिकरण के प्रयासों से व्यापार, वाणिज्य में विस्तार के साथ अधोसंरचना विकास के नये नये अवसर देश में उपलब्ध हो रहे हैं। हजारों स्टार्टअप कंपनियों में सौ से ज्यादा यूनिकार्न बन गये हैं। देश में बेरोजगारी की समस्या की हल के लिए सरकार ने डेढ़ वर्ष में 10 लाख भर्ती करने का संकल्प लिया है।

पूर्व मंत्री श्री अमर अग्रवाल ने आगामी राष्ट्रपति चुनाव के लिए झारखंड के पूर्व राज्यपाल द्रोपती मुर्मू को एनडीए का उम्मीदवार बनाये जाने पर हर्ष व्यक्त करते हुए महिला सशक्तिकरण एवं सरल समाज के दृष्टिकोण से लिया ऐतिहासिक निर्णय बताया। श्री अग्रवाल ने बढ़ते कोरोना मामले से सावधान रहने की जरूरत बताते हुए समुदाय के लोगों से टीकाकरण कराये जाने के लिए अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *