वीर सपूत नेताजी को किया गया याद..कांग्रेस नेताओं ने कहा..पूरी दुनिया मानती है लोहा.. लेकिन मौकापरस्त राजनीति से बाज नहीं आ रहे

 
बिलासपुर—- ज़िला शहर और ग्रामीण कांग्रेस कमेटी ने 23 जनवरी को सुभाष चौक सरकंडा में सुभाष चन्द्र बोस की जयंती मनायी गयी। कांग्रेस नेताओं ने प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नेताजी के राष्ट्र के लिए किए गए योगदान को याद किया।
 
              इस अवसर पर शहर अध्यक्ष विजय पांडेय ने कहा कि सुभाष चन्द्र बोस नाम सच्चे देशभक्तों में अग्रणी है। हर परिस्थिति में देश को अंग्रेजो की गुलामी से मुक्त कराना चाहते थे। कांग्रेस के दो बार राष्ट्रीय अध्यक्ष भी बने। उन्हे विश्वास था कि देश को सशस्त्र आक्रमण कर आजाद कराया जा सकता है। उन्होंने जर्मनी और जापान के सैनिक सहयोग से अपनी सेना बनाय।
 
                     तत्कालीन अंग्रेज समर्थक भारतीयों में विरोध किया। अंग्रेजो पर आक्रमण कर पीछे खदेड़ा। आज भी कोहिमा युद्ध को दुनिया जानती है। उन्होने वीरता से लड़ा। लेकिन मौसम अनुकूल नही होने के कारण बहुत सैनिक बीमार हो गए।
       
        विधायक शैलेष पांडेय ने कहा कि तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा, दिल्ली चलो,जय हिंद ,जैसे नारा नेताजी ने ही दिया। महात्मा  गांधी को सबसे पहले बापू से सम्बोधन किया। नेताजी की मेधा को आजभी पूरी दुनिया लोहा मानती है। उन्होने भारत माता के मस्तक को हमेशा ऊंचा रखा।
 
             प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय, ज़फ़र अली ,विनोद साहू,अनिल सिंह चौहान ने कहा कि सुभाष चंद बोस का जन्म कटक में एक सम्भ्रांत परिवार में हुआ। पिता जगदीश चन्द जाने माने बैरिस्टर थे। लेकिन सुभाष के बाल मन मे अंग्रेजो के प्रति नफरत था। उन्होंने इंग्लैंड से आईसीएस की परीक्षा अच्छे अंको से पास किया। लेकिन मां की अनुमति से जॉइन नही किया । भारत आकर स्वतन्त्रता आंदोलन से जुड़ गए। 
 
         1939 तक कांग्रेस में रहे। फारवर्ड ब्लाक का गठन किया । अंग्रेजो को भगाने के लिए कई देशों से सम्पर्क किया। अंग्रेज उनके पीछे पड़ गए। लेकिन कभी हाथ नहीं आए। पूरी दुनिया के लिए नेता जी आज भी रहस्य हैं। लेकिन कुछ मौकापरस्त लोग अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने से बाज नहीं आते हैं। 
 
          कार्यक्रम में शहर अध्यक्ष विजय पांडेय,शहर विधायक शैलेष पांडेय,प्रवक्ता अभय नारायण राय,ज़फ़र अली, राकेश शर्मा,विनोद शर्मा,त्रिभुवन कश्यप,नसीम खान, जावेद मेमन,विनोद साहू,मोती ठारवानी,अनिल सिंह चौहान,सुभाष ठाकुर,सीमा घृतेश, आशा सिंह,तृप्ति चन्दा, रीता मजूमदार,स्वर्णा शुक्ला,पुष्पा शर्मा,अनिल पांडेय,रामदुलारे रजक ,हरमेंद्र शुक्ला,वीरेंद्र सार्थीब्रजेश साहू ,सुनिलजंगडे, मनोज शर्मा,काशी रात्रे,गजेंद्र श्रीवास्तव,राजेन्द्र वर्मा,रामचन्द्र क्षत्री,श्याम लाल चंदानी, नंद कुमार,उमेश कश्यप,राजेश ताम्रकर,लल्ला सोनी,भरत जुरयानी, सिकन्दर बादशाह,शंकर यादव,अनिल तिवारी,गणेश रजक,अन्नपूर्णा ध्रुव,कमलेश सोनी,अशोक यादव,भूपेंद्र शर्मा,पवन चन्द्राकर,हेमन्त दृघस्कर,सूर्यमणि तिवारी,राजेश यादव,महिपाल,देवेंद्र मिश्रा,जगदीश सोनी,जहूर अली,पूना कश्यप,रूपेश रोहिदास,इंद्र सिंह,छोटू मोइत्रा,अजय काले,चेतनदास ,नवीन वर्मा,रजत शर्मा,मुकेश धनगाय,रीमा गांगुली,करम गोरख,सूर्यकांत साहू,प्रशांत पांडेय,रामचरण धुरी समेत बड़ी संख्या में कांग्रेस जन शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *