कुलपति प्रो. चक्रवाल ने उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से की मुलाकात, बिरसा मुंडा पर खुद की संपादित पुस्तक की भेंट

बिलासपुर। गुरू घासीदास विश्वविद्यालय केन्द्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल ने आज देश के उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से भेंट की। कुलपति ने उन्हें पुष्पगुच्छ भेंट कर उप-राष्ट्रपति पद का दायित्व ग्रहण की बधाई दी।इस सौजन्य भेंट के अवसर पर प्रो. चक्रवाल ने उप राष्ट्रपति को स्वयं द्वारा संपादित पुस्तक महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं जनजातीय गौरव के प्रतीक भगवान बिरसा मुंडा के जीवन, स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में उनके महत्वपूर्ण योगदान एवं उच्च नैतिक आदर्शों को समर्पित पुस्तक ”बिरसा मुंडा- जनजातीय गौरव” की प्रति भेंट की।

कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल ने उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ को बताया कि भगवान बिरसा मुंडा के व्यक्तित्व एवं कृतित्व से जुड़े अल्प साहित्य को दृष्टिगत रखते हुए केन्द्रीय विश्वविद्यालय द्वारा जनजातीय क्रांतिवीर से जुड़े विषय पर शोध उपरांत 30 अलग-अलग लेखों को संकलित कर पुस्तक का समग्र स्वरूप प्रदान किया है। महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भागवान बिरसा मुंडा का जीवन पराक्रम और उच्च आदर्श नैतिक मूल्यों का संदेशों को युवा शक्ति तक पहुंचाने के लिए गुरु घासीदास विश्वविद्यालय़ कटिबद्ध है।

कुलपति प्रो. चक्रवाल ने विश्वविद्यालय की विभिन्न अकादमिक, शोध एवं अनुसंधान के क्षेत्र में हो रही प्रगति के विषय में विस्तार से जानकारी प्रदान की। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय में आदर्श खेल सुविधाओं के विकास को बढ़ावा देने के लिए एक हजार करोड़ रुपये की लागत से स्टेट ऑफ आर्ट फेसिलिटी हेतु प्रस्ताव तैयार किया गया है। जो आने वाले समय में छत्तीसगढ़ राज्य को खेलों के क्षेत्र में राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थापित करेगा।

उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने उम्मीद जताई कि गुरु घासीदास विश्वविद्यालय में चल रही विभिन्न अधोसंरचना विकास, शोध एवं खेल गतिविधियों विश्वविद्यालय को अकादमिक क्षेत्र में प्रखरता के साथ आगे बढ़ेगी। कुलपति प्रो. चक्रवाल ने उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से विश्वविद्यालय के विकास हेतु निरंतर मार्गदर्शन का अनुरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.