मेरा बिलासपुर

BJP प्रदेश प्रभारी माथुर ने कहा…नहीं गाड़ूंगा मुख्यमंत्री का खूंटा..हम राजनीति करने आए.. किसी से नहीं डरते…विपक्ष में दम है तो विधायक लाएं

70 साल तक सरकार गिराने और धारा लगाने के अलावा किया ही क्या..ओम माथुर

बिलासपुर— प्रदेश भाजपा छत्तीसगढ़ प्रभारी ओम माथुर ने कहा..मैं नहीं गाडूंगा मुख्यमंत्री के नाम खूंटा। मैने जयपुर में खूंटा गाड़ने वाली भी नही कही है। यदि विपक्ष में दम है तो विधायक लाकर बहुमत साबित करना चाहिए। आखिर विपक्ष ने 70 साल तक सरकार गिराने और धारा लगाने के अलावा किया ही क्या है। यह बातें भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही। ओम माथुर ने कहा कि भाजपा में लोकतंत्र है। और हम ना तो चुनौती से घबराते हैं और ना ही किसी से डरते हैं।

 प्रदेश भाजपा प्रभारी ओम माथुर ने कहा कि भाजपा का लोकतंत्र में विश्वास है। पार्टी के नेता हमेशा 12 महीने 24 घंटे सक्रिय रहते हैं। हमारे लिए चुनाव सामान्य बात है। संगठन की गतिविधियां हमेशा सुचारू रूप से चलती है। क्या भाजपा को विधानसभा चुनाव को लेकर किसी प्रकार का डर है। क्योंकि पार्टी विधानसभा की वजाय लोकसभा चुनाव की तैयारी कर रही है। माथुर ने बताया कि आप की जानकारी गलत है। बिना विधानसभा तैयारी के लोकसभा चुनाव लड़ना संभव नहीं है। कोरबा लोकसभा क्षेत्र के आठ विधानसभा के भाजपा नेताओं की कोर कमेटी की बैठक लेकर विधानसभा चुनाव का दिशा निर्देश दिया गया है। .

यहां कब गाड़ंगे मुख्यमंत्री के नाम का खूंटा

 जयपुर में विधायक के नाम का खूंटा तो गाड़ दिया है। अब छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के नाम का खूंटा कब गाड़ेंगे। माथुर ने कहा कि लोगों ने गलत अर्थ निकाला। हमने इस अर्थ में खूंटा गाड़ने की बात कहा ही नहीं है। चूंकि संघठन की गतिविधियों की उन्हें अच्छी जानकारी है। जमीन स्तर की गतिविधियों की उन्हें पता होता है। इसके बाद जो रिपोर्ट हम ऊपर रखते हैं..जाहिर सी बात है कि कोई काट नहीं सकता है।

चुनावी तैयारी:कलेक्टर - एसपी ने ली मीटिंग,अपराधियों और शराब तस्करों पर अभी से रहेगी नजर

                     आखिर मुख्यमंत्री के नाम का खूंटा कब गाड़ेंगे। माथुर ने दुहराया कि खूंटा गाड़ने की बात नहीं होनी चाहिए। यहां कौन मुख्यमंत्री बनेगा इसका फैसला कन्ट्रोल कमेटी को करना है। हां इतना जरूर है कि हम स्थिति परिस्थिति के अनुसार कभी बिना चेहरे का चुनाव लड़ते हैं। तो कभी चेहरे के साथ चुनाव लड़ते हैं।सब कुछ उच्चस्तरीय कमेटी से निर्धारित होता है।

दम हो तो विधायक लाकर दिखाए

    जहां आप बहुमत से आते है..निश्चित है कि वहां आपकी सरकार बनेगी। जहां बहुमत में नहीं है…उस राज्य में आपकी सरकार निश्चित रूप से बनेगी। यह कैसा लोकतंत्र है। कहें तो चार स्टेट का नाम गिनवा सकते हैं। माथुर ने बताया कि भाजपा लोकतांत्रित पार्टी है। यदि कांग्रेस या विपक्ष में दम है तो चार पांच विधायक लाकर दिखाएं। हम राजनीति करने आए हैं। विधायकों का आना जाना लगा रहता है। जब कांग्रेस पार्टी सरकार गिराती थी..धाराएं लगाती थी..इस बात को क्यों भूल रहे हो।

क्या भाजपा डर गयी

मुख्यमंत्री चेहरा एलान नहीं करने का मतलब भाजपा नेता डर गए है। माथुर ने बताया कि डरने और चुनौती से घबराने का सवाल ही नहीं उठता है। हम दो सदस्य थे..और आज हमारी बहुमत की सरकार है। भारत के ज्यादातर हिस्से में भाजपा की सरकार है। हमने बताया ना कि मुख्यमंत्री के नाम का फैसला उच्चस्तरीय कमेटी करेगी।

क्या इस बार भी 65 प्लस

अमित शाह ने पिछले चुनावन में 65 प्लस का नारा दिया था। इस बार क्या है। माथुर ने बताया कि इंतजार करिए। हमने 265 का टारगेट दिया था। 325 के साथ सरकार बनाए। अभी प्रदेश का भ्रमण कर लेने दो.। संख्या बताएंगे और सरकार भी बनाएंगें।

उत्साह और उमंग से मनाया गया खनिक दिवस...सीएमडी ने किया कर्मवीरों का सम्मान..कहा..मिलकर बनाया रिकार्ड

76 प्रतिशत आरक्षण का समर्थन करेंगे

 क्या 76 प्रतिशत आरक्षण का भाजपा समर्थन करेगी। भाजपा प्रदेश प्रभारी ने बताया कि समय का इंतजार करना होगा। आपको पता चल जाएगा। उन्होने टिकट कटने के सवाल पर दुहराया कि आजकाल इसकी जिम्मेदारी पत्रकारों पर छोड़ दिया गया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS