डॉ.रमन सिंह ने कहा…कर्ज विकास के लिए लिया जाता है…इसके लिए नहीं..रोजगार और महंगाई के सवाल पर कही यह बात

Editor
3 Min Read

बिलासपुर—केन्द्रीय बजट अब तक का सर्वश्रेष्ण बजट है। आधारभूत संरचना के विकास पर आज तक ऐसा समावेशी और सर्वस्पर्षी बजट पेश नहीं किया गया। आने वाले तीन सालमें  47 लाख लोगों को रोजगार के नाम पर आर्थिक सहायता मिलेगी। यह बातें  बिलासपुर प्रवास पर  केन्द्रीय आम बजट पर पत्रकारों से चर्चा के दौरान भाजपा नेता पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कही। रमन सिंह ने इस दौरान केन्द्रीय वित्त मंत्री सीतारमण के बजट का बचाव करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने सभी पक्षों को कुछ ना कुछ दिया है। 

Join Our WhatsApp Group Join Now

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने केन्द्रीय बजट को लेकर बिलासपुर में पत्रकारों से संवाद किया। उन्होने सीधे तौर पर बजट पर तीखे सवालों का जवाब नहीं दिया। लेकिन प्रदेश सरकार को आड़े  हाथ लेने का कोई भी मौका नहीं छोड़ा। रमन सिंह ने बताया कि अमृतकाल का बजट 2047 में विकसित भारत का बुनियाद बनेगा। 

सवाल जवाब के दौरान रमन ने बताया कि अमृत काल का बजट सात महत्वपूर्ण बिन्दुओ पर आधारित है। अमृतकाल के बजट में समावेशी विकास,अन्तिम व्यक्ति तक पहुंच,अधोसंरचना का विकास,क्षमता विकसित करने शल उन्नयन का विकास..कृषि क्षेत्र का विकास, युवा शक्ति को रोजगार और वित्त क्षेत्र प्रमुख हैं। 

हेल्थ, एसटी,एसटी, शिक्षा,मनरेगा, महिला प्रोटेक्शन,मनरेगा का बजट कम करने, बजट में रोजगार और महंगाई का जिक्र नहीं किया गया। आखिर इसे अमृतकाल का बजट कहें या मित्रकाल का। सवाल के जवाब में रमन सिंह ने बताया कि आधारभूत संरचना के विकास में रोजगार का सृजन होगा। इसके अलावा आने वाले तीन सालों के अन्दर सुचिता अभियान के तहत  47 लाख लोगों को आर्थिक सहयोग दिया जाएगा। 

पेट्रोलियम दामों की बृद्धि पर रमन ने कहा..इसका दाम  अन्तर्राष्ट्रीय मूल्यों से निर्धारित होता है। इसमें भारत सरकार का कोई दखल नहीं है। क्या यह बजट चुनावी है…सवाल पर रमन सिंह ने कहा कि बजट हमेशा चुनावी होता है। कोई भी सरकारदुबारा सरकार बनाने के लिए विकास बजट ही पेश करती है। 

एक अन्य सवाल पर रमन सिंह ने कहा कि लोन आधारभूत संरचना के विकास के लिए होता है। नरवा घुरवा बारी के लिए नहीं। पुरानी ट्रेन  को ठीक से चला नहीं पा रहे..आखिर बन्देभारत ट्रेन की जरूरत क्या है। रमन ने बताया कि वन्देभारत ट्रेन ठीक चल रही है। रेलवे का बजट साल 2014 से 13 गुना अधिक है। इससे ज्यादा क्या चाहिए। 

डोंगरगढ़ मुंगेली रेल लाइन शुरू करने के सवाल पर रमन ने बताया कि छत्तीसगढ़ की पांच महत्वपूरण योजना को हमारी सरकार ने पाइप लाइन में रखा था। लेकिन राज्य सरकार पैसा नहीं होने के कारण योजना को बन्द डिब्बे में डाल दिया। क्या महंगाई के लिए भी भूपेश सरकार जिम्मेदार है..रमन ने बताया कि राज्य सरकार का बजट आने के बाद ही कुछ कहूंगा।

close