सुने..हड़ताल के प्रभाव पर क्या बोले कलेक्टर.. बताया ..हड़तालियों को ऐसे मिलेगा कटौती का वेतन

बिलासपुर—कलेक्टर बिलासपुर सौरभ कुमार ने बताया कि निश्चित रूप से हड़ताल का सामान्य काम काज पर प्रभाव पड़ा है। हमने गतिविधियों पर नजर बना कर रखा है। खासकर इमरजेन्सी सेवाओं पर व्यवस्था के तहत किसी प्रकार का कोई असर नहीं आने दिया जा रहा है। वेतन काटना या रेगुलर करना कलेक्टर का नहीं शासन का अधिकार क्षेत्र है।
              कलेक्टर सौरभ कुमार ने बताया कि कर्मचारी हड़ताल है। कुछ कर्मचारी हड़ताल पर हैं। कुछ नहीं है। वर्ग तीन और दो के कर्मचारी काम काज पर है। कुछ नहीं भी हैं। हड़ताल में एकरूपता नहीं है। कई शाखाओं में काम चल रहा है कई शाखाओं में हड़ताल के चलते काम काज प्रभावित भी हो रहा है।
              इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए प्रयास किया जा रहा है कि जो जनआवश्यक हितों से जुड़ा है और त्वरित सेवा में आते हैं..संविदा कर्मचारियों से काम लिया जा रहा है। अति जरूरी जनहित के काम को देखते हुे मूल कर्मचारी हड़ताल पर रहते हुए भी सहयोग कर रहे हैं। आज का तो पता नहीं लेकिन दूसरे दिन 30 प्रतिशत कर्मचारी हड़ताल पर थे।
                   पिछले महीने पांच दिवसीय हड़ताल के बाद कर्मचारियों का वेतन काटा जा रहा है। लेकिन कलेक्टर कार्यालय कर्मचारियों का वेतन पूरा दिया गया। कुछ कर्मचारियों को वेतन कटौती से बचने प्रमाण पत्र भी दिखाया है। कलेक्टर ने कहा किसी को भी हड़ताल अवधि का वेतन नहीं दिया गया है। वेतन रेगुलराइज करने का अधिकार शासन को है। राज्य शासन के आदेश पर ही वेतन कटा है..और बाद में शासन के ही आदेश पर रेगुलराइज किया जाएगा। कटे हुए वेतन को कर्मचारियों के वेतन में जोड़ा दिया जाएगा।
                          वेतन को लेकर अभी क्या स्थिति है के सवाल पर सौरभ कुमार ने कहा बहरहाल जो भी होगा उसे देखा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *