VIDEO-अस्तित्व बचाने भाजपा में संघर्ष..कृषि मंत्री ने पूछा.बताएं.एकात्म परिसर में आज के प्रधानमंत्री के साथ क्या हुआ..बिना धोती पितृ पुरूष क्यों भागे..भू-माफिया भाजपा की मजबूरी

बिलासपुर—-अल्प प्रवास पर बिलासपुर पहुंचे कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा भाजपाई आज अस्तित्तव के संघर्ष के लिए तरस रहे हैं। उन्हें अस्तित्व बचाने के लिए अनाप शनाप बोलना ही होगा। भाजपा की गुटबाजी से हमें कोई लेना देना नहीं। क्योंकि हमें अच्छी तरह से मालूम है कि एकात्म परिसर में पितृ पुरूष को बिना धोती के जान बचाकर भागना पड़ा। इतना ही नहीं आज के प्रधानमंत्री को छिपकर जान बचाना पड़ा है। जल संसाधन मंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री ने कमिटमेन्ट किया है। इसलिए उन्हें चावल खरीदना होगा। पत्रकारों से बातचीत के दौरान चौबे ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्र के तीनों काले कानून पर स्टे लगा दिया है। किसानों की जीत हुई है। हमारी मांग है कि कृषि कानून को पूरी तरह से खत्म किया जाए।

किसानों की हुई जीत..कानून हो निरस्त

                               कृषि एवं जल संसाधन मंत्री आज बिलासपुर पहुंचे। छत्तीसगढ़ भवन में पत्रकारों से बातचीत की। कृषि मंत्री ने बताया कि करीब दो महीने से दिल्ली की सीमा पर आन्दोलन कर रहे किसानों की जीत हुई है। सुप्रीम कोर्ट ने तीनो काले कृषि कानून को स्टे कर दिया है। केन्द्र सरकार को मुंह की खानी पड़ी है। अब जाहिर हो गया है कि कानून से ऊपर कोई नहीं होता है। हमारी मांग है कि तीनों काले कानून को पूरी तरह से  निरस्त किया जाए। 

केन्द्र सरकार की अडंगा नीति

           सवाल जवाब के दौरान कृषि मंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार की अडंगा नीति के बाद भी अभी तक हमने 72 लाख मीट्रिक टन खान खरीद चुके हैं। हमने 90 लाख मीट्रिक टन खरीदने का लक्ष्य रखा है। हम यह लक्ष्म समय से पहले ही हासिल कर लेंगे।

प्रधानमंत्री ने किया लिखित वादा

                   धान का उठाव नहीं किया जा रहा है। ना ही चावल का उठाव हो रहा है। सवाल के जवाब में कृषि मंत्री ने कहा कि केन्द्र की अंडंगा नीतियों के चलते सब कुछ हो रहा है। प्रधानमंत्री ने लिखित कमिटमेन्ट किया है। जाहिर सी बात है कि उन्हें लेना ही पड़ेगा। यदि ऐसा नहीं किया गया तो आगे की आगे को सोचेंगे। हमें क्या कदम उठाना चाहिए।

धरमलाल कौशिक पर निशाना

            धरमलाल कौोशिक ने कहा कि पुराना चावल का कोटा अभी तक जमा नहीं किया गया। पहले पुराना चावल की ही आपूर्ति राज्य सरकार करे। कृषि मंत्री ने सवाल के जवाब में कहा कि नवम्बर में चावल जमा करना था। आज जनवरी हो गया है। इसका भी जवाब उन्हें देना चाहिए।

वर्ल्ड फ्लू का एक भी मरीज नहीं

                  वर्ल्ड फ्लू के सवाल पर कृषि मंत्री ने बताया कि बलरामपुर, बालोद समेत कई जिलों में टेस्ट हुआ है। अभी तक एक भी मरीज वर्ल्ड फ्लू का नहीं मिला है। सरकार एतिहातन कदम उठा चुकी है।

           चन्द्रशेखर साहू ने कहा कि प्रदेश सरकार माफियों ने बंधक बना लिया है। जवाब में कृषि मंत्री ने बताया कि यह उनका अपना अनुभव हो सकता है।

 जान बचाकर कौन भागा..कहां छिपे थे आज के प्रधानमंत्री

               सौदान सिंह के हटते ही भाजपा में गुटबाजी दिखाई देने लगी है। निशाना कांग्रेस पर साधा जा रहा है। रविन्द्र चौबे ने बताया कि हमें उनके दल की गुटबाजी से क्या लेना देना। लेकिन हमें अच्छी तरह से मालूम है कि एकात्म परिसर से भाजपा के पितृ पुरूष को बिना धोती के जान बचाकर भागना पड़ा। भाजपा नेता को शायद पता ही होगा कि आज के प्रधानमंत्री को भी जान बचाने के लाले पड़ गए थे। जान बचाने के लिए उन्हें छिपना पड़ा था।

अस्तित्व के लिए भाजपा का संघर्ष

               सरकार पर आरोप लगाए जाने के सवाल पर कृषि मंत्री ने कहा कि भाजपा नेताओं को अस्तित्व का खतरा है। उन्हें अपना अस्तित्व बचाने के लिए बयान तो देना ही पड़ेगा। और बाकी उनके बारे में हमें कुछ नहीं कहना है।

बैराज स्थल देखने आया

                  अरपा भैंसाझार परियोजना के सवाल पर जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने बताया कि जांच रिपोर्ट आने के बाद उचित कदम उठाया जाएगा। उन्होने बताया कि अरपा नदी के शिवघाट और पचरी घाट में प्रस्ताविज बैराज का मौका मुआयना करने आया हूं। कुछ दिनों पहले ही मुख्यमंत्री ने भूमि पूजन और शिलान्यास किया है। बैराज बनने के बाद बिलासपुर की रौनक बढ़ने के साथ ही कई समस्याएं खत्म होगी। इसी दौरान उन्होने कहा कि हमने टेम्स का सपना किसी को नहीं दिखाया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *