ब्राम्हण समाज ने कलेक्टर को फिर घेरा…बताया..अभी तक महिला को नही मिला न्याय…पढ़ें कलेक्टर ने क्या कहा..

Editor
3 Min Read

बिलासपुर— ब्राम्हण समाज समेत रतनपुर स्थित अन्य संगठनों के प्रतिनिधिमंडल कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर स्मरण पत्र पेश किया। प्रतिनिधिमंडल में शामिल प्रतिनिधियों ने बताया कि वादानुसार 48 घंटे पूरे हो चुके है। जल्द से जल्द झूठे मामले में दर्ज एफआईआर खत्म किया जाए। महिला को सम्मान के साथ जेल से बाहर निकाला जाए। साथ ही न्यायिक जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त कदम उठाया जाए। कलेक्टर ने प्रतिनिधिमंडल से बताया कि मामले में प्रक्रिया चल रही है। महिला को जरूर न्याय मिलेगा।

Join Our WhatsApp Group Join Now

एक बार फिर 48 घंटे बाद ब्राम्हण समाज का प्रतिनिधिमंडल कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर घेराव किया। शांतिपूर्ण तरीके से अपनी चिंता को कलेक्टर सौरभ कुमार के सामने स्मरण पत्र के साथ पेश किया। प्रतिनिधिमंडल मे शामिल विवेक वाजपेयी, अरविन्द दीक्षित, सुशांत शुक्ला समेत अन्य सभी ने बताया कि वादानुसा्र 48 घंटे पूरे हो चुके हैं। पिछले मुलाकात में दो दिन का समय दिया गया था। रतनपुर मामले में महिला के खिलाफ दर्ज प्रकरण को वापस लिया जाए। साथ ही महिला को सम्मान के साथ जेल से रिहा किया जाए।

प्रतिनिधि मण्डल ने दुहराया कि रतनपुर थाना क्षेत्र स्थित महिला के खिलाफ भाजपा पार्षद ने साजिश के तहत धारा 377, 506, भा.द.वि. और  4,12 पाक्सों एक्ट के तहत् फर्जी अपराध दर्ज कराया। फर्जी अपराध दर्ज करने में थानेदार की भी भूमिका है। यद्यपि थानेदार को लाइन अटैच किया गया है। बावजूद इसके ना तो महिला को न्याय मिला है। और ना ही दोषियों के खिलाफ कार्रवाई हुई है। जिसके चलते ब्राम्हण सामाज समेत आम जनता में पुलिस प्रशासन के खिलाफ भयंकर आक्रोश है।

जानकारी देते चलें कि रतनपुर में विधवा महिला के खिलाफ नाबालिग के दैहिक शोषण के आरोप में पास्को एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया गया। मामले को लेकर ब्राम्हण समाज समेत रतनपुर के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही एक दिन रतनपुर बंद भी रखा। इस दौरान प्रशासन ने स्थानीय थानेदार को लाइन अटैच का आदेश दिया गया।

मामले में समाज के लोगों ने महिला पर दर्ज झूठे अपराध को हटाए जाने को लेकर कलेक्टर कार्यालय का घेराव किया। कलेक्टर ने आश्वासन दिया कि महिला के  साथ न्याय होगा। कलेक्टर ने प्रकरण को लेकर दो दिन का समय मांगा था। 48 घंटे बाद समाज के लोग शुक्रवार को कलेक्टर को स्मरण पत्र दिया। कलेक्टर ने एक बार फिर आश्वासन दिया कि महिला को न्याय मिलेगा। 

कलेक्टर से मुलाकात के बाद प्रतिनिधिमण्डल ने बताया कि न्याय नहीं मिलने की सूरत में आन्दोलन किया जाएगा। सूत्रों की माने तो पुलिस ने महिला के खिलाफ दर्ज प्रकरण और एफआईआर को वापस लेने का फैसला किया है।आने वाले 24 घंटों के अन्दर महिला को जेल से सम्मान के साथ रिहा कर दिया जाएगा। 

close