विजय केशरवानी ने कहा..सीतारमण ने पेश किया अडानी अम्बानी का बजट.. पूंजीपतियों के हाथों देश बेचने का एलान

बिलासपुर—केंद्र की मोदी सरकार के 2021 आम बजट को जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय केशरवानी  ने काफी निराश करने वाला है। सीतारमण के बजट से जाहिर हो गया है कि देश को अम्बानी और अडानी के हाथों गिरवी रखे जाने का प्लान मोदी सरकार ने बना लिया है।
 
                 विजय केशरवानी ने कहा कि सीतारमण के बजट में किसान, मजदूर, गृहिणी और आम जनता के लिए कुछ खास नहीं है।  पुराने बातों को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने दोहराया है। नया कुछ भी नहीं है।  सरकार का निर्णय कि वह आगे एयरपोर्ट, सड़कें, बिजली, रेलवे कॉरिडोर, वेयरहाउस, गेल, इंडियन आयल की पाइप लाइन और स्टेडियम बेचेगी..बहुत ही निंदनीय है।
 
           विजय ने कहा बताया कि केंद्र सरकार ने भारत के खजाने को पूरा खाली कर दिया है।  जिसके वजह से राष्ट्रीय सम्पत्ति को बेचना पड़ रहा है। पिछले 70-75 दिनों से अपने मांगों को लेकर किसान सड़कों पर बैठे हैं। उन्हें आशा थी कि बजट में कम से कम किसानों की मांगों को समझ कर उनके लिए कुछ न कुछ किया जाएगा।  लेकिन किसानों को भी बजट ने निराश किया।
 
            विजय ने कहा कि करोना काल के बाद देश की सबसे बड़ी समस्या अगर कोई है तो वह महंगाई है।  केंद्र सरकार को लगाम लगाने की जरूरत थी । आम जनता के लिए महंगाई पर कमी लाने वाली कोई भी घोषणा नहीं की गई है। पेट्रोल-डीजल के दामों पर भी लगाम लगाने वाला कोई ऐसा घोषणा नहीं हुआ है। आम जनता को उम्मीद थी कि टैक्स पर छूट मिलेगी लेकिन टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया है।
 
           केंद्र सरकार यह बजट कुल मिलाकर आम जनता के जेब में डाका डालकर अपने चंद उद्योगपति मित्रों को सहायता पहुंचाने वाला है।बजट के विरोध में विजय ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार भारत के जनता के लिए नहीं अपने उद्योगपति मित्रों के लिए काम कर रही है । सभी चीज को प्राइवेटाइजेशन कर जनता को कंगाल बनाना चाहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *