मेरा बिलासपुर

हमने बिल और भाजपा ने किया बिजली हॉफ..पूर्व मंत्री का हमला…उजाड़ दिया हसदेव जंगल..जनता का किया एनकाउन्टर

बिलासपुर—कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मंत्री मोहन मरकाम अल्प प्रवास पर निजी कार्यक्रम में शामिल होने बिलासपुर पहुंचे। पत्रकारों से चर्चा के दौरान मोहन मरकाम ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा। मरकाम ने बताया कि प्रदेश की जनता मूलभूत आवश्यकताओं के लिए संघर्ष कर रही है। बिजली की गंभीर संकट पैदा हो गया है। किसान परेशान है। स्वास्थ्य व्यवस्था बुरी तरह से चरमरा गयी है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

बिजली बिल और राशन हाफ

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष,पूर्व मंत्री मोहन मरकाम निजी प्रवास पर बिलासपुर पहुंचे। इस दौरान उन्होने पत्रकारों से संवाद किया। मोहन मरकाम ने सवाल जवाब के दौरान बताया कि भाजपा की सरकार बनते ही छत्तीसगढ़ की व्यवस्था चरमरा गयी है। जनता अपने प्राथमिक आवश्यकताओं के लिये तरस रही है। कांग्रेस की सरकार ने बिजली बिल हॉफ किया। भाजपा सरकार बिजली हाफ दे रही है। भीषण गर्मी में सरप्लस वाले राज्य में बिजली की गंभीर समस्या है। मोहन मरकाम ने बताया कि बच्चे,वृद्ध ,बीमार, किसान आमजन बहुत परेशान है। हमारी सरकार 10 किलो राशन देती थी अब भाजपा सरकार ने आधा कर दिया है।

नक्सली बताकर एनकाउन्टर

मरकाम ने बताया कि भाजपा सरकार बस्तर के जल, जंगल,जमीन को अपने मित्रों को देना चाह रही है। ग्रामीणों को नक्सली बता कर एनकाउन्टर किया जा रहा है । भाजपा की सरकार बनते ही हँसदेव आरण्य उजाड़ा जा रहा है। कोयला और अन्य संसाधनों को उद्योग पति मित्रो को दिया जा रहा है। जंगल उजड़़ने से मानव -हाथी संघर्ष बड़ गया है। कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष ने बताया कि बस्तर की जनता गरीब है ,इसलिए केंद्र सरकार उनकी भावनाओं को नजरअंदाज कर रही है।

भूल गए 400 पार

एक सवाल मरकाम ने कहा कि चुनाव से पहले प्रधानमंत्री जी 400 पार बोल रहे थे। अब 400 पार का नारा भूलकर असंसदीय भाषा मे उतर आए हैं। प्रधानमंत्री पद  गरिमा को गिराया जा रहा है। प्रधानमंत्री के भाषणों को अंतरराष्ट्रीय मंच पर देखा-सुना जाता है। भाषा की शुचिता को हमेशा बनाये रखना चाहिए।

दस साल..वादा एक भी नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोल रहे है कि विपक्ष की सात पीढियो का हिसाब लिया जाएगा।  दुर्भाग्य है कि 2014 में नरेंद्र मोदी ने 15-15 लाख देने का वादा किया। हर साल दो करोड़ नौकरी का वादा किया। स्विस बैंक से कालाधन लाने के साथ भ्रष्टाचार को मिटाने की बात कही। लेकिन दस सालों में कोई काम नही  किया।

इंडिया गठबंधन की सरकार

मोहन मरकाम ने कहा कि प्रजातन्त्र में विश्वास पर देश चलता है। किसी विषय को लेकर लगातार सन्देह की आवाज बुलंद हो तो बात को सुनना चाहिए। जनता की शंका का समाधान होना चाहिए। ईवीएम मशीन आज विकसित राष्ट्रों में प्रचलन में नही है। लेकिन भारत में ईवीएम से चुनाव हो रहा है। मरकाम ने दावा किय इस बार देश में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने जा रही है।

                   

Back to top button
close