24 जिलों में ऑरेंज अलर्ट..UP,MP,हिमाचल सहित कहां-कहां बारिश की संभावना? IMD ने जारी किए अलर्ट

Shri Mi
4 Min Read

भोपाल: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को देश के कई राज्यों में बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग के अनुसार, उत्तरी पश्चिमी बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र की वजह से पूर्वी और उत्तरी भारत में अगले दो दिनों तक अच्छी बारिश हो सकती है। इसके साथ ही शनिवार को मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के 24 जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के बड़े हिस्से में अब भी बारिश जारी है।भारत मौसम विभाग के भोपाल केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी पी के साहा ने कहा कि यह अलर्ट रविवार सुबह तक के लिए है। साहा ने कहा कि जबलपुर, रीवा, सतना, अनूपपुर, उमरिया, डिंडोरी, कटनी, नरसिंहपुर, मंडला, सागर, टीकमगढ़, विदिशा, सीहोर, राजगढ़, बैतूल, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, धार, देवास, आगर-मालवा, अशोक नगर और शिवपुरी जिलों के अलग-अलग स्थानों पर भारी से भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। 

उन्होंने कहा कि इसके अलावा भोपाल, इन्दौर और चंबल सहित राज्य के दस संभागों में से अधिकांश में बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। उन्होंने बताया कि आगर-मालवा जिले के सुसनेर में शनिवार सुबह 08.30 बजे तक गत 24 घंटे में पश्चिमी मध्य प्रदेश में सबसे अधिक 211 मिमी बारिश हुई, जबकि इस अवधि में पूर्वी मध्यप्रदेश के उमरिया शहर में सबसे अधिक 170.5 मिमी बारिश हुई।

मौसम विभाग द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, 25 जुलाई (रविवार) से उत्तर पश्चिम भारत में बारिश की गतिविधियां बढ़ सकती हैं। वहीं 25 से 28 जुलाई के दौरान उत्तराखंड में भारी से बहुत भारी बारिश होने की आशंका है। 26 से 28 जुलाई के बीच हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जबकि 27 और 28 जुलाई को पंजाब और पूर्वी उत्तर प्रदेश में झमाझम बारिश के आसार हैं। वहीं, 27 और 28 जुलाई को हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा होने की भी संभावना है। 

IMD के अनुसार, दिल्ली सहित उत्तराखंड और पश्चिम उत्तर प्रदेश में 25 से 27 जुलाई के बीच जोरदार बारिश हो सकती है। 25 जुलाई तक दिल्ली में छिटपुट वर्षा का दौर जारी रहेगा, लेकिन 26 तारीख से बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी। 25 और 26 जुलाई को उत्तराखंड और पश्चिम उत्तर प्रदेश में व्यापक बारिश की संभावना है। वहीं, 23 से 25 जुलाई तक पूर्वी और इससे सटे मध्य भारत में जोरदार बारिश हो सकती है। 25 जुलाई के बाद इस क्षेत्र में मॉनसूनी गतिविधियां कमजोर होंगी।

महाराष्ट्र में भारी बारिश, जनजीवन प्रभावित

महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश कहर बरपा दिया है। भारी बारिश और लैंडस्लाइज के कारण महाराष्ट्र के कुछ इलाकों में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है और कई लोगों की मौत भी हो चुकी है। मौसम विभाग के मुताबिक, महाराष्ट्र समेत पश्चिमी तट पर कुछ इलाकों भारी से बहुत भारी बारिश के साथ व्यापक रूप से बारिश होने की संभावना है। हालांकि धीरे-धीरे कोंकण, गोवा और आंतरिक महाराष्ट्र समेत पश्चिमी तट पर वर्षा की तीव्रता में कमी आएगी।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close