WhatsApp इन ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करना बंद कर सकता है,देखें अपना OS

whatsappनईदिल्ली।वॉट्सएप ने कहा है कि इस महीने के आखिर तक करोड़ों वॉट्सऐप यूजर्स का यह मैसेंजर ऐप बंद हो जाएगा।दरअसल वॉट्सऐप खुद को लगातार अपडेट कर रहा है। वॉट्सऐप ने पिछले साल भी कुछ फोन्स में वॉट्सऐप को बंद करने की बात की थी लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया था। वॉट्सऐप जिन ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करना बंद कर देगा उनमें नोकिया सिंबियन एस60, नोकिया एस 40, विंडोज 7.1, ब्लैकबेरी, ब्लैकबेरी 10, आईफोन 3जीएस,एंड्रॉयड 2.2 और एंड्रॉयड 2.1 ऑपरेटिंग सिस्टम शामिल हैं। यानी ऐसे यूजर्स जिनके स्मार्टफोन में इनमें से कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम है, वो 30 जून, 2017 के बाद वॉट्सऐप नहीं चला सकेंगे।

                                           वॉट्सऐप के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह ऑपरेटिंग सिस्टम हमारे सभी फीचर्स को सपोर्ट नहीं करते हैं। यह हमारे लिए एक बहुत ही कठिन निर्णय था। लेकिन हम चाहते हैं कि सभी वॉट्सऐप के जरिए अपने दोस्तों और परिवार वालों से जुड़ने पर नए फीचर्स का भी फायदा उठाएं। वहीं कंपनी ने सलाह भी दी है कि यदि आप इनमें से कोई भी फोन इस्तेमाल कर रहे हैं तो अपना फोन बदल लें और ऐसा फोन ले लें जिसमें आप वॉट्सऐप का इस्तेमाल कर सकें। इन ऑपरेटिंग सिस्टम के अलावा अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम वाले यूजर्स को परेशान होने की जरुरत नहीं है। वॉट्सऐप के दुनिया भर में 100 करोड़ से ज्यादा यूजर हैं जिसमें से अब ब्लैकबेरी का यूजरबेस कंपनी खो देगी। वॉट्सऐप को रोजाना 340 मिलियन मिनट इस्तेमाल किया जाता है। वहीं रोजाना 55 मिलियन वीडियो कॉल्स भी किए जाते हैं।

                                           बता दें कि वॉट्सऐप ने हाल ही अपने आईफोन यूजर्स के लिए तीन नए फीचर लॉन्च किए थे। अब वॉट्सऐप एक नया फीचर लाने की तैयारी कर रहा है। वॉट्सऐप अब रिवोक फीचर लाने जा रहा है। यह फीचर पहले भी लीक हुआ था। रिवोक फीचर यानी भेजे गए मैसेज वापस लेने का ऑप्शन। अगर गलती से आपने किसी को मैसेज कर दिया और आपको गलती का अंदाजा हुआ तो वैसे ही आप इस ऑप्शन का यूज कर सकते हैं। व्हाट्सऐप इस साल के शुरुआत से ही रिवोकफीचर की टेस्टिंग कर रहा है। ताजा लीक में वॉट्सऐप के नए वर्जन में यह फीचर देखा गया है। हालांकि यह आम यूजर्स के लिए तो नहीं है, लेकिन जल्द ही यह सबको मिल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *