जब अजीत जोगी के “ मितान ” से मिले सीएम भूपेश बघेल..

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ के मुख़्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को अमरकंटक दौरे के समय राज़मेरगढ़ भी पहुंचे। जो गौरेला – पेण्ड्रा – मरवाही ज़िले में है। यहां पर भूपेश बघेल की मुलाक़ात अन्य लोगों के साथ 96 साल के हरि सिंह से हुई । जो पूर्व मुख़्यमंत्री अज़ीत ज़ोगी के भी काफ़ी करीब़ी र

सीएम भूपेश बघेल ने राज़मेरगढ़ के तवाडबरा गाँव में लोगों से मुलाक़ात की । वे आँगनबाड़ी केन्द्र भी गए । वहां बच्चों के साथ बैठे । इसी तरह स्कूल ज़ाकर वहाँ भी बच्चों के साथ टाटपट्टी पर बैठे । गाँव में भूमिहीन किसानों को सहायता राशि का वितरण भी किया । इसी दौरान उनकी मुलाक़ात 96  साल के हरि सिंह कंवर से भी हुई । जिनकी पहचान पूर्व मुख़्यमंत्री अज़ीत ज़ोगी के मितान के रूप में है। उनके साथ भूपेश बघेल ने लम्बी बात की और हालचाल पूछा । पूरे इलाक़े में अपनी साफ़गोई के लिए मशहूर हरि सिंह ने बताया कि वे कई पार्टी में रह चुके हैं। एक बार जब अज़ीत जोगी से मुलाक़ात हुई तो उनसे सिर्फ़ इतना कहा कि अगर वे सड़क बनवा दें तो कांग्रेस के साथ ज़ुड़ जाएँगे। इस पर अज़ीत ज़ोगी ने एक करोड़ बावन लाख़  में सड़क बनावा दी । तब से वे कांग्रेस के साथ जुड़ गए थे । हरि सिंह ने भूपेश बघेल के साथ मुलाक़ात पर ख़ुशी जताई और कहा कि वे ख़ुद उनसे मिलने आए हैँ। उन्होने छत्तीसगढ़ सरक़ार की गौठान योज़ना की तारीफ़ भी की ।

हरि सिंह काफ़ी पहले गौरेला जनपद पँचायत के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। वे मरवाही के आदिवासी नेता भँवर सिंह पोर्ते के भी करीब़ी रहे। भूपेश बघेल से उनक़ी इस मुलाक़ात के दौरान गौरेला के कांग्रेस नेता अशोक शर्मा, छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, बिलासपुर महापौर रामशरण यादव, कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय सहित कांग्रेस जन उपस्थित थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *