इंडिया वाल

जब एक सीन में बेकाबू हो गए थे Vinod Khanna, डायरेक्टर के कट बोलने पर भी नहीं रुके

मुम्बई।बॉलीवुड की धक-धक गर्ल माधुरी दीक्षित ने अपनी लाजवाब एक्टिंग और डांस से बॉलीवुड में एक अलग पहचान बनाई है.  15 मई, 1967 को मुंबई में जन्मीं माधुरी ने 1984 में आई फिल्म ‘अबोध’ से करियर की शुरुआत की थी. हालांकि उन्हें पहचान अनिल कपूर के साथ आई फिल्म ‘तेजाब’ से मिली पर एक समय माधुरी अपनी एक फिल्म को लेकर काफी चर्चा में रहीं. उस फिल्म के एक इंटीमेट सीन को लेकर माधुरी को आज भी पछतावा है. 

दरअसल बॉलीवुड कलाकारों को फिल्मों में न केवल एक्शन, थ्रिलर जैसे सीन करने पड़ते हैं बल्कि कई फिल्म्स में उन्हें इंटीमेट सीन भी करने पड़ जाते हैं, जिसके लिए वो फेमस तो हो जाते हैं पर कई एक्ट्रेसस को इसे लेकर पछतावा भी होता है. ऐसे ही एक सीन ने बॉलीवुड में हड़कंप मचा दिया था जिसमें विनोद खन्ना (Vinod Khanna) और माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) थे.

21 अक्टूबर 1988 को रिलीज हुई फिल्म ‘दयावान’ (Dayavan) में विनोद खन्ना और माधुरी दीक्षित लीड रोल में थे. इस फिल्म के एक इंटीमेट सीन ने तहलका मचा दिया था. फिल्म की कहानी और गाने की जितनी चर्चा हुई उससे ज्यादा विनोद-माधुरी के रोमांटिक सीन की बातें हुई थीं. फिरोज खान (Feroz Khan) के निर्देशन में बनी ये फिल्म उस जमाने में खूब सुर्खियों में रही. 

माधुरी दीक्षित ने फिल्म ‘दयावान’ में ‘आज फिर तुमपे प्यार आया है’ सॉन्ग में विनोद खन्ना के साथ इंटीमेट सीन किये थे. उनके इस सीन को बॉलीवुड के हॉट किसिंग सीन में भी गिना जाता है, लेकिन इसकी शूटिंग करने के बाद माधुरी दीक्षित बहुत पछताई थीं और रोई भी थीं. इतना ही नहीं, वो फिरोज खान के सामने इसे हटाने के लिए गिड़गिड़ाई भी थीं, लेकिन सीन नहीं हटा था. कहा जाता है कि इस किस सीन को करते वक़्त विनोद खन्ना बेकाबू हो गए थे और माधुरी दीक्षित के होंठ को काट डाला था.

स्वाथ्य विभाग में विभिन्न पदों पर भर्ती,उपस्थिति के लिए सात मार्च तक की अवधि निर्धारित

बाद में विनोद खन्ना ने माधुरी से माफ़ी भी मांगी थी पर इस फिल्म में इंटीमेट सीन करने के लिए माधुरी दीक्षित की खूब आलोचना हुई थी. एक इंटरव्यू के दौरान माधुरी ने कहा था कि फिल्म ‘दयावान’ में उन्होंने जो किसिंग सीन किए, उसका उन्हें आज भी पछतावा होता है. 

माधुरी ने कहा, ‘जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं तो मुझे लगता है कि उस समय मुझे कहना चाहिए था- नहीं, मैं इसे नहीं करना चाहती. लेकिन तब मैं शायद ऐसा कहने में डर गई थी. मुझे लगा था कि मैं एक ऐक्ट्रेस हूं और डायरेक्टर ने इसे कुछ इस तरह से लिखा होगा कि इसे नहीं करना फिल्म के लिए गलत होगा. इस किसिंग सीन से फिल्म में कुछ भी खास नहीं हुआ पर मैंने फैसला किया कि अब मैं और किसिंग सीन कभी नहीं करूंगी.’आज भले ही बॉलीवुड में इंटीमेट और किसिंग सीन बहुत आम बात हो गई है, लेकिन एक वक्त था जब ये बहुत बड़ी बात मानी जाती थी. 

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS