जब डीजीपी ने कहा..आप ही बदलेंगे पुलिस की नकारात्मक छवि..आपकी उपलब्धियों से सम्मानित होगा विभाग

रायपुर—- जीवन में ईमानदारी सबसे बड़ी पूंजी है। आपको असेट बनना है या लायबिलिटी यह आपकी जिम्मेदारी है। यह बातें प्रदेश के डीजीपी डीएम अवस्थी ने उप पुलिस अधीक्षकों को संबोधन के दौरान कही।
 
               पुलिस अधिकारी अपने नैतिक मूल्यों को बनाकर रखें। जीवन में ईमानदारी सबसे बड़ी संपत्ति है। आपको असेट बनना है या लायबिलिटी, ये आपको तय करना है। आपकी ईमानदारी समाज में मिसाल बननी चाहिये। यह बातें डीजीपी डीएम अवस्थी ने बुधवार को 2013 बैच के उप पुलिस अधीक्षकों से मुलाकात के दौरान कही।
 
                      अपने संबोधन में डीजीपी नए अधिकारियों को काम काज के टिप्स दिए। उन्होने कहा कि पुलिस के कंधों पर कानून सुरक्षा और समाज के हितों की बड़ी जिम्मेदारी है। आपके कार्य ऐसे होने चाहिये कि विभाग के साथ आपके परिवार को भी आप पर गर्व हो।
 
           डीएम अवस्थी ने कहा कि पुलिस का चरित्र गंगाजल की तरह पवित्र होना चाहिये। गंगाजल की ही तरह आपमें बुराईयों को ना आने दें। अपराधों की रोकथाम के साथ पुलिस अपना मानवीय चेहरा भी बनाकर रखें। आप जैसे युवा अधिकारी समाज में पुलिस की नकारात्मक छवि बदल सकते हैं।
 
                  अधिकारियों को रिचार्ज करते हुए डीजीपी ने बताया नागरिकों के बीच पुलिस के प्रति परसेप्शन बदलने की आवश्यकता है। कई अधिकारी बहुत ही ईमानदारी से कार्य कर रहे हैं। आपके अच्छे कार्यों की जानकारी भी लोगों को होनी चाहिये। जब ऐसा होगा तो आपकी कर्तव्यपराणायता से पुलिस विभाग की उपलब्धियों में नया सितारा जुड़ जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *