पत्नी ने लगाया आरोप..क्रोध में आकर कुल्हाड़ी से किया वार..उमाबाई ने तोड़ा दम..आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर— कोटा थाना क्षेत्र के बेलगहना चोकी स्थित बड़े बर्र गांव में हत्या के लिए जिम्मेदार आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार पति पत्नी में पैसों के विवाद को लेकर विवाद हुआ। और क्रोध में आकर पति ने पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। पूछताछ के बाद आरोपी के खिलाफ विधिवत अपराध दर्ज किया गया। आरोपी को न्यायिक रिमाण्ड पर जेल दाखिल कराया गया है।
 
                 पुलिस जानकारी के अनुसार 23 नवम्बर को बहु ने पुलिस को बताया कि शायद ससुर ने अपनी पत्नी को मौत के घाट उतारा है। रिपोर्ट में बहु ने बताया कि 22 नवम्बर की रात्रि करीब 8 बजे ससुर और सास के बीच पैसे को लेकर विवाद हुआ। ससुर जोगीराम ने पैसों की मांग की..लेकिन सास उमा बाई ने देने से इंकार कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों में झगड़ा शुरू हो गया। सुबह सास की लाश मिली। प्रार्थिया ने बताया कि शायद जोगी राम ने हू धारदार हथियार से हमला कर उमाबाई को मौत के घाट उतारा है।
 
        प्रार्थिया  की रिपोर्ट पर पुलिस ने अपराध दर्ज किया। मामले की जानकारी अधिकारियों को दी गयी। पुलिस कप्तान के निर्देश पर एडिश्नल एसपी रोहित झा ने थाना प्रभारी को तत्काल कार्रवाई का आदेश दिया। 
 
     पतासाजी के दौरान 25 नवम्बर को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर संदेही जोगीराम यादव उर्फ सोनू को हिरासत में लिया। संदेही ने उमाबाई की हत्या को कबूल किया। आरोपी ने बताया कि पत्नी उमा बाई से पैसे मांगा। लेकिन देने से इंकार कर दिया। उसने आरोप लगाया कि पैसे चुरा कर ससुराल वालों को देता है। गुस्से में आकर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। जिससे उमा बाई की मौके पर ही मौत हो गयी।
 
     कबूलनामा के बाद पुलिस ने आरोपी जोगी राम यादव को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा है। मामले में चौकी प्रभारी अजय वारे,थाना प्रभारी सकरी प्रसाद सिन्हा,प्रधान आरक्षक की भूमिका सराहनीय भूमिका रही।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *