अन्तर्राष्ट्रीय बेवीनार में महिला विशेषज्ञों ने बताया.. महावारी में इस बात का रखना होगा ध्यान..स्वस्थ्य जीवन के लिए स्वच्छता को बनाना होगा मूल मंत्र

बिलासपुर–अटल बिहारी वाजपेयी ट्रस्ट अभाव फाउंडेशन के बैनर तले राष्ट्रीय स्तर पर 313वी वेबिनार का आयोजन 21 नवम्बर को किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि मणिपुर महिला आयोग की की अध्यक्ष डॉ.मेनम बिनोता ने शिरकत किया। कार्यक्रम में शामिल  मुख्य वक्ता स्त्री कैंसर रोग विशेषज्ञ समेत मुख्य अतिथि ने माहवारी स्वच्छता और स्वस्थ्य भारत विषय पर अपनी बातों को गंभीरता के साथ पेश किया।
 
              अटल बिहारी वाजपेयी ट्रस्ट अभाव फांउडेशन के बैनर तले राष्ट्रीय बेबीनार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रमुख वक्ता समेत मुख्य अतिथि और अन्य वक्ताओं ने माहवारी स्वच्छता और स्वस्थ्य भारत विषय पर प्रकाश डाला।
 
                                कार्यक्रम की मुख्यअतिथि मणिपुर महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. मेनम बिनीता ने कहा कि माहवारी में स्वच्छता बहुत ही अहम है। प्रधानमंत्री मंत्री के स्वच्छता कार्यक्रम का उल्लेख करते हुए उन्होने कहा कि सभी को किसी भी प्रकार की स्वच्छता को लेकर जागरूक होना होगा। क्योंकि स्वच्छता का सीधा संबध हमारे जीवन से है। इस प्रकार के कार्यक्रम अधिक से अधिक आयोजित होने चाहिए। खासकर महिलाओ को स्वास्थ्य पर ध्यान देने की जरूरत है। माहवारी के समय महिलाएं किस प्रकार का पेड उपयोग करती है।यह महत्वपूर्ण विषय है। उन्होने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र में 1 रुपए में लिए वाले पेड का भी उल्लेख किया।
 
              कार्यक्रम में शिरकत में कर रही प्रमुख वक्ता डॉ. रानी भट एमबीबीएस एमएस स्त्री केंसर रोग विशेषज्ञ बैंगलोर ने पीपीटी प्रेजेंटेशन किया। उन्होने बताया कि नार्मल माहवारी के बारे में बताया। उन्होने संभावित रिस्क के बारे में भी बताया। हिन्दू धर्म मे माहवारी पर धार्मिक विश्वास और व्यवहार पर जानकारी दी। माहवारी के दौरान गलत प्रकिया अपनाने पर प्रभाव के बारे में बताया। साथ ही विभिन्न पहलुओं पर भी प्रकाश डाला। कार्यक्रम के अन्त में प्रतिभागियों के सवालों का जवाब दिया गया।
 
                     बेबीनार में 173 प्रतिभागी शामिल हुए। इसमें 112 महिला प्रतिभागियों ने भी शिरकत किया। कार्यक्रम के अंत मे अतिथियों का आभार प्रदर्शन जी.पी. तिवारी अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी ट्रस्ट अभाव फाउंडेशन ने किया। कार्यक्रम का संचालन आद्या सिंह ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *