मेरा बिलासपुर

युवा कांग्रेस नेता जयंत ने निर्माण में सहयोग का उठाया बीड़ा..बुजुर्गों और ग्रामीणों से किया संवाद…कहा..गांव में रहती है देश की आत्मा

मगरमच्छ के लिए विख्यात मोंगरा तालाब...निर्माण में करेंगे सहयोग

बिलासपुर— कांग्रेस के युवा नेता  जयंत मनहर ने पिछले दो दिनों में मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के लोहर्सी क्षेत्र का भ्रमण किया।  फौदीपाली  के बुजुर्गों समेत ग्रामीणों से संवाद भी किया। मोगरा तालाब का भ्रमण कर ग्रामीणों को मंदिर निर्माण में हरसंभव का मदद का आश्वासन दिया। इस दौरान युवा,बुजुर्ग और किसानों ने अपनी बातों को जंयत मनहर के साथ संवाद किया। साथ ही समस्याओं को भी गिनाया। मनहर ने आश्वासन दिया कि ग्रामीणों की बातों को शासन प्रशासन तक पहुंचाएंगे। उन्होने बताया कि भूपेश सरकार ने हमेशा ग्रामीण जनजीवन को केन्द्र में रखकर काम किया है। मुख्यमंत्री का हमेशा से मानना रहा है कि जब तक गांव का विकास नहीं होगा..प्रदेश में खुशी की कल्पना अधूरी है। क्योंकि देश की आत्मा गाव में ही बसती है।
        पिछले दो दिनों में कांग्रेस के युवा नेता जयंत मनहर अपने समर्थकों के साथ मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के कई गांवों का भ्रमण किया। जयंत मनहर ने जगह जगह आयोजित कार्यक्रमों में शिरकत भी किया। लोहर्सी के ग्रामीणों के बुलावा पर पौदीपाली पहुंचक जयंत ने युवाओं, बुजुर्गों और किसानों से संवाद किया। सभी ने खुशियों के साथ अपनी जरूरतों को साझा भी किया। उपस्थित ग्रामीणों को जयंत मनहर ने बताया कि वर्तमान में छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री की सरकार है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने हमेशा गांव गरीब और किसानों को प्राथमिकता में लिया है। मुख्यमंत्री ने हमेशा यही संदेश दिया है कि जब तक गांव गरीब और किसानों का समग्र विकास नहीं होगा…तब तक सही मायने में छत्तीसगढ़ का विकास अधूरा है। यही वजह है कि सरकार गांव,गरीब और किसानों को केन्द्र में रखकर नीतियां बनाती है। नीतियों को लागू भी किया जा रहा है। यही कारण है कि आज प्रदेश का तेजी के साथ समग्र विकास भी हो रहा है।
 जयंत मनहर समर्थकों और ग्रामीणों के साथ मोगरा तालाब पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि तालाब के पास ही ठाकुर देवता मंदिर निर्माण का फैसाल सभी ने मिलकर किया है। जयंत ने कहा कि पुण्य काम में हमेशा वह जनमानस के साथ है। मंदिर निर्माण में यथोचित सहयोग भी करना चाहूंगा। उन्हें उम्मीद है कि मंदिर निर्माण में सभी लोग अपनी सहभागिता निभाएंगे।
मनहर ने बताया कि वह दिन भी याद है जब प्रदेश में मोगरा तालाब की हर जगह चर्चा होती थी। प्रदेश में मोंगरा तालाब को मगरमच्छ के निवास के रूप में जाना जाता था। इस दौारन डॉ. पी डी महंत, लक्ष्मण बैगा, उप सरपंच छोटू टंडन, पंच दशरथ साहू,  हरप्रसाद साहू,भागवत मल्होत्रा,रामेन्द्र कोशले,उदल यादव,अमृत लाल साहू,पुरन यादव और स्थानीय गणमान्य वरिष्ठ नागरिक भी मौजूद थे। 

शाहबाज ने बढ़ाया बिलासपुर सम्मान..रणजी टीम में बनाया स्थान..संघ समेत बधाइयों का लगा तांता
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS