भूपेश की समझ कम..कांग्रेस के पास मुद्दा नहीं……संजय

sanjay shrivastavaबिलासपुर— भारतीय जनता पार्टी प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने पत्रकारों से कहा कि नोटबंदी अभियान का देश ने समर्थन किया है। विपक्ष का विरोध नोटबंदी अभियान की तैयारियों को लेकर है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि यदि देश में चालिस प्रतिशत लोग भी कैशलेस खरीद फरोख्त करते हैं तो कालेधन पर अंकुश लग जाएगा। संजय ने कहा कि नोटबंदी अभियान में जनता को विपक्ष को कुछ ज्यादा ही परेशानी हुई है।नोटबंदी अभियान के दौरान मौत की खबर निराधार है। मरने वालों के प्रति हमारी संवेदना है। कहना गलत होगा कि मौत का कारण नोटबंदी है। नोटबंदी अभियान में हुई मौत की तुलना आजादी के दौरान लोगों के त्याग और सीमा पर तैनात फौजियों के बलिदान से नहीं किया जाए।

                                 रायपुर विकास प्राधिकरण चेयरमैन और भाजपा प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि नोटबंदी ने अभी तक किसी ने विरोध नहीं किया है। विपक्ष ने कालेधन के खिलाफ नोटबंदी अभियान की तरफदारी की है। उनका विरोध नोटबंदी अभियान के तरीकों को लेकर है। संजय ने बताया कि नोटबंदी अभियान से आतंकवाद,नक्सलवाद को झटका लगा है। हवाला व्यापारियों की कमर टूट गयी है। संजय ने बताया कि अभियान का असर उत्तरप्रदेश के चुनाव पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है। उत्तरप्रदेश में भाजपा की ही सरकार बनेगी।

               एक सवाल के जवाब में संजय ने कहा कि नोटबंदी अभियान के दौरान हुई मौत का कारण कुछ और हो सकता है । लेकिन नोटबंदी अभियान नहीं। ऐसे लोगों के प्रति हमारी पूरी संवेदना है लेकिन इनकी तुलना सीमा पर तैनात शहीद होने वाले जवानों से नहीं किया जाए। संजय ने कहा कि कांग्रेस के पास मुद्दों की कमी है। यदि ऐसा नहीं होता तो कांग्रेस पार्टी सत्ता में होती। कांग्रेसी केवल विरोध के लिए विरोध करते हैं। क्रेडिट कार्ड पर भूपेश के बयान पर संजय श्रीवास्तव ने कहा कि भूपेश की समझ कुछ कम है। इसलिए वे कुछ भी बोलते रहते हैं। नोटबंदी अभियान के बाद अर्थव्यवस्था पर सकारात्मकर प्रभाव दिखेगा जनता जानती है,हम भी जानते हैं। लेकिन कांग्रेस जानकर भी अन्जान है। क्योंकि उन्हें सत्ता की भूख है। इसलिए जनता को बरगलाने अनाप शनाप बयान दे रहे हैं। दो तीन साल में भारत भी कैशलेश विश्व बाजार का हिस्सा होगा।

                           रायपुर नगर निगम है ऐसे में वहां प्राधीकरण की क्या जरूरत है। क्या अन्य शहरों में कुछ ऐसी व्यवस्था होगी के सवाल पर संजय ने कहा कि प्राधिकरण विकास का अभिन्न हिस्सा है। निगम पर बहुत दबाव होता है। प्राधिकरण के पास जिम्मेदारियां बहुत है। रायपुर क्षेत्र में 63 गांवों के अलावा रायपुर शहर भी प्राधिकरण का अंग है। प्राधिकरण ने दलालों पर लगाम लगाया है। राजधानी का समुचित विकास के केन्द्र में प्राधिकरण की अहम् भूमिका है। सरकार को यदि लगता है कि बिलासपुर दुर्ग,रायगढ़ या अन्य किसी शहर में प्राधिकरण की जरूरत है तो गठन किया जाएगा । पहले भी बिलासपुर समेत कई शहरों में प्राधिकरण ने काम किया है। परिणाम भी ठीक ठाक देखने को मिला है।

            चुनाव के सवाल पर संजय ने कहा कि यदि विधानसभा और लोकसभा का चुनाव एक साथ हो तो बेहतर होगा। इस दिशा में प्रयास भी हो रहा है। विश्वादिनी पाण्डेय के बयान पर संजय ने कहा कि उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। प्रदेश अध्यक्ष ने मीडिया को बता दिया है कि आदिवासी महिलाओं पर विश्वादिनी का बयान उनके व्यक्तिगत हैं। पार्टी का निजी विचार से कोई लेना देना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *