कोरोना और मंकीपॉक्स नहीं अब ये वायरस बढ़ा रहा टेंशन, जानिए क्या है लक्षण और बचाव के तरीके

कोरोना वायरस (Corona Virus) और मंकीपॉक्स (Monkeypox) के खतरे के बीच भारत में एक नए वायरस ने टेंशन बढ़ा दी है. केरल में नोरो वायरस (Norovirus) के 2 मामले सामने आए हैं. मामले सामने आने के बाद उन्हें निगरानी में रखा गया है. अभी दोनों की हालत स्थिर बनी हुई है. प्रशासन इन मामलों के सामने आने के बाद अलर्ट हो गया है. लोगों के सैंपल लेकर उनकी टेस्टिंग की जा रही है. 

दो बच्चों में सामने आए मामले  
राजधानी तिरुवनंतपुरम के विझिंजम इलाके नोरोवायरस के 2 मामलों की पुष्टि हुई है. केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज (Veena George) ने बताया कि दो बच्चों में मामले सामने आने के बाद स्थिति आकलन किया जा रहा है. फिलहाल दोनों बच्चों की हालत स्थित बनी हुई है. 

क्या है नोरो वायरस?
यह वायरस जानवरों से इंसानों में फैसले वाला वायरस है. यह वायरस गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बीमारी का कारण बनता है. इसमें पेट से जुड़ी बीमारियां सामने आती हैं. दूषित भोजन लेने के कारण लोग इसकी चपेट में आ सकते हैं. चिंताजनक बात यह है कि ये वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में फैस सकता है. एक ही व्यक्ति एक से ज्यादा बार भी इसकी चपेट में आ सकता है.  

नोरो वायरस (Norovirus) इंसानों के पेट पर अटैक करता है. इसमें आंतों में सूजन आ जाती है. इस वायरस के फैसले के बाद 
दस्त, उल्टी, पेट दर्द और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं. इसके साथ ही बुखार, सिरदर्द और शरीर में दर्द भी देखने को मिलता है. आमतौर पर यह वायरस सभी उम्र के लोगों को अपनी चपेट में ले लकता है. हालांकि सही इलाज मिलने के बाद 3 से  4 दिन में आप ठीक हो सकते हैं. 

कैसे करें बचाव?  
विशेषज्ञों का कहना है कि यह वायरस जानलेवा नहीं है लेकिन इसकी दवा भी अभी तक मौजूद नहीं है. डॉक्टरों के मुताबिक पानी खूब पीना चाहिए. इसके साथ ही जानवरों के संपर्क में आने से भी बचना चाहिए. डॉक्टर नोरो वायरस से बचाव के लिए साबुन और गुनगुने पानी से हाथों को अच्छी तरह धोने की सलाह दे रहे हैं. इसके अलावा फ्रेश खाना खाएं और अगर बीमार महसूस कर रहे हैं.  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *