अत्याधुनिक तकनिकी पर डाला जाएगा प्रकाश..डॉ.प्रशांत ने बताया…सेमीनार में नामचीन डॉक्टरों का होगा जमावड़ा

बिलासपुर— बिलासपुर आर्थोपेडिक एसोसिएशन और सिम्स आर्थोपेडिक विभाग के बैनर तले 18 वां राज्य स्तरीय सालाना सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम का आयोजन 23 और 24 दिसम्बर को विभिन्न चरणों में होगा। प्रेसवार्ता में आयोजन समिति के सचिव प्रशांत द्विवेदी और अस्थि रोग के मशहूर चिकित्सक डॉ.विनोद तिवारी ने दी। डॉ.द्विवेदी और डॉ.तिवारी ने बताया कि चिकित्सा क्षेत्र में भी समय के साथ तकनिकी का विकास हुआ है। समस्याओं के साथ बेहतर इलाज के दरवाजे खुले हैं। लोगों को इसका फायदा भी मिल रहा है। दो दिवसीय सालाना कांफ्रेंस कार्यक्रम में देश और विदेश के नामचीन चिकित्सक और वैज्ञानिक व्याख्यान देंगे और शोधपत्र भी पढ़ेंगे। इसके अलावा अन्य रोचक कार्यक्रम भी पेश किया जाएगा। प्रयास किया गया है कि सेमिनार किसी वर्ग विशेष तक सिमट कर ना रहे जाए। कांफ्रेंस की प्रासंगिकता को जन जन तक पहुंचाए। इसलिए पोस्टर और क्विज कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया है।

                     प्रेसवार्ता में अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ.प्रशांत द्विवेदी और डॉ.विनोद तिवारी ने बताया कि एक निजी प्रतिष्ठान में दो दिवसीय सालाना सेमिनार कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। 23 और 24 फरवरी को आयोजित कार्यक्रम में देश और विदेश के नामचीन चिकित्सकों का जमावड़ा होगा। इस दौरान नामचीन हस्तियां चिकित्सका क्षेत्र में हो रहे तकनिकी विकास और अस्थि रोग के निदान की जानकारी देंगे। यूके समेत देश और प्रदेश के डॉक्टर अपने शोध का व्याख्यान भी करेंगे। डॉ.द्विवेदी ने बताया कि व्याख्यान का विषय एविडेन्स वेस मेडिसिन होगा। बताने का प्रयास किया जाएगा कि समय के साथ चिकित्सा क्षेत्र में तकनिकी का विकास कितनी तेजी से हुआ है। चंद दिन या चन्द घंटो में गंभीर से गंभीर अस्थि संबधित परेशानियों का इलाज कैसे संभव है।

           कार्यक्रम आयोजन समिति सचिव अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ.प्रशांत द्विवेदी ने बताया कि दो दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ मुख्य अतिथि नगर विधायक शैलेश पाण्डेय करेंगे। इस दौरान विशिष्ट अतिथि के रूप में ड़ॉ.राजेन्द्र साहू, मस्तूरी विधायक डॉ.कृष्ण मूर्ति बांधी, तखतपुर विधायक रश्मि सिंह और डायरेक्टर चिकित्सा डॉ. आदिले भी मौजूद रहेंगे।

                                24 फरवरी को पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया जाएगा। मुख्य अतिथि पद्मश्री दामोदर राजेश बापट विशिष्ट अतिथि डॉ.राजेन्द्र साहू,डॉ. सुनील खेमकर और मनेन्द्रगढ़ विधायक सिम्स के डीन डॉ.पी.के.पात्रा और अपोल के सीईओ डॉ.सजल सेन मौजूद रहेंगे।

                डॉ.प्रशांत ने बताया कि निवर्तमान अध्यक्ष डॉ.राजेन्द्र साहू, डॉ.सुनील खेमका को अस्थि रोग विशेषज्ञ संघ का अध्यक्षीय जिम्मेदारी भी देंगे।

             प्रेसवार्ता में  डॉ.विनोद तिवारी और अजय घटगे ने बताया कि सिम्स में राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान बोन मॉडल पर शल्य चिकित्सा की जानकारी दी जाएगी।

                            सम्मेलन में फैक्चर  इलाज,हडिड्या के संक्रमण, दूरबीन पद्धति से हड्डी जोड़ के इलाज बच्चों और बुजुर्गो में होने वाले अन्य अस्थि रोग विकारों के बारे में बताया जाएगा। साथ ही नई तकनिकी से होने वाले इलाज की जानकारी भी दी जाएगी।  प्रेसवार्ता में अपोलो के स्पाइन रोग विशेषज्ञ डॉ.जायसवाल और अभिषेक घटगे ने भी अपनी बातों को रखा।

               प्रेसवार्ता में बताया गया कि सिम्स मेडिकल कालेज पीजी छात्रों की भी कार्यशाला में भागीदारी होगी। इस दौरान क्विज और पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। सम्मेलन में नई नवीनतम उपकरणों की प्रदर्शनी भी लगायी  जाएगी।

आयोजन में स्थानीय और प्रदेश के चिकित्सकों के साथ देश विदेश को मिलाकर कुल 200 से अधिक चिकित्सक मौजूद रहेंगे। अपने अनुभवों को साझा भी करेंगे।

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...