कांग्रेस नेताओं ने कहा..घबरा गयी केन्द्र की तानाशाह सरकार..बेकसूर मजदूरों को भेजा गया जेल..प्रदेश अध्यक्ष को नजरबन्द

बिलासपुर— प्रदेश कांग्रेस विधि विभाग के नेताओं ने दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष को होम अरेस्ट किए जाने पर नाराजगी जाहिर की है। कांग्रेस विधि विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष विवेक तन्खा समेत छत्तीसगढ़ प्रदेश विधि विभाग प्रमुख संदीप दुबे, महामंत्री मोहन निषाद, सचिव एनके पटेल, दल्लु सिंह, सुशोभित सिंह, नरेश शर्मा, कमलकांत मिश्रा ने कहा कि दिल्ली की केन्द्र सरकार का दिमाग खराब हो गया है। कोरोना ने भाजपा नेताओं की मानसिक संतुलन को खराब कर दिया है। सरकार ने फरियादी मजदूरों को जेल में बन्द कर दिया है।

               विवेक तन्खा और छत्तीसगढ़ विधि प्रकोष्ठ के नेताओं ने दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष को नजरबन्द किए जाने पर नाराजगी जाहिर की है। तन्खा समेत कांग्रेस नेताओं ने कहा कि केन्द्र की तानाशाह सरकार संतुलन खो चुकी है। एक दिन पहले राहुल गाँधी ने मजदूरों दिल्ली की सड़क पर निकलकर बातचीत क्या की..सभी मजदूरों को जेल भेज दिया गया। 

            वहीं राहुल गांधी के साथ मजदूरों से मिलने गए दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार को दिल्ली पुलिस ने होम अरेस्ट कर लिया। संदीप दुबे ने बताया कि एक दिन पहले कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी दिल्ली की सड़कों पर अनिल कुमार के साथ अपने घर पैदल जा रहे मजदूरों से बातचीत की। राहुल गांधी ने इस दौरान मजदूरों के दुख और पीड़ा को साझा करने का प्रयास किया। इसके बाद राहुल गांधी ने सभी मजदूरों को दिल्ली के प्रयास से सभी मजदूरों को बस  से उत्तर प्रदेश सीमा तक छोड़ा गया। राहुल गांधी ने सभी मजदूरों के लिए खाने का इंतजाम भी किया। मजदूरों और बच्चों के लिए जूते चप्पल की व्यवस्था की। यह बात भाजपा नेताओं को पसंद नहीं आयी।

        केन्द्र सरकार के इशारे पर दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी के साथ मजदूरों से बातचीत करने के जुर्म में दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार को होम अरेस्ट किया। इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस ने उन सभी मजदूरों को जेल भेज दिया जिन्हें राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश की सीमा तक भेजा था।

        कांग्रेस नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि बिना किसी वजह से दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष को होम अरेस्ट किया जाना केन्द्र सरकार की घबराहट और तानाशाही को जाहिर करता है। पीड़ित मजदूरों को गिरफ्तार कर जेल जाना केन्द्र सरकार की संवेदनहीनता को प्रदर्शित करता है। बताना जरूरी है कि भारतीय जनता पार्टी सरकार की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है। देश की जनता तानाशाह सरकार की हरकतों को देख रही है। भाजपा सरकार को अब माफी नहीं मिलने वाली है।

            सवाल उठता है कि क्या परेशान हाल देश के नागरिकों की मदद और सहयोग करना अपराध है। यदि अपराध है तो कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता इस प्रकार के अपराध को बार बार करेंगे। चाहे भाजपा सरकार उन्हें फांसी पर ही क्यों ना चढ़ा दे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *