खूंटे ने कहा-क्या है जोगी की औकात,बाप बेटों की होगी जमानत जब्त

Press PHOTO 01 Nov 16 2 IMG_20161101_124649बिलासपुर— जिन उद्देश्यों को लेकर छत्तीसगढ़ राज्य बना उस लक्ष्य से हम पिछले तेरह सालों में बहुत दूर हो चुके है। छत्तीसगढ केवल शासन प्रशासन और पूंजीपतियों का होकर रह गया है। किसान,गरीब,आदिवासी,दलित,सामान्य और नौजवान वर्ग बहुत परेशान है। सरकार ने किसानों को भारी छलावा किया। धोखा दिया है। भाजपा सरकार जनता के साथ वादा खिलाफी की है। प्रधानमंत्री भी इसमें शामिल हैं। चुनाव के समय बोनस और समर्थन मूल्य देने की बात कही गयी थी। वह सब कहां गया। आम जनता खून के आंसू रो रहा है। महिलाओं का बलत्कार हो रहा है। आदिवासियों को नक्सली बताकर मारा जा रहा है। एक गरीबों के लिए पैसे नहीं है। लेकिन प्रधानमंत्री के स्वागत में खजाना का मुंह खोल दिया गया। क्यों…आखिर क्यों…यह प्रश्न आज पत्रकारों से बातचीत के दौरान बिलासपुर कांग्रेस प्रभारी पीआर.खूंटे ने की।

                                  सोचने वाली बात है कि हर पंचायत से दस लोगों को जबरदस्ती प्रधानमंत्री के भाषण को सुनने के लिए ले जाया गया। शर्म की बात है। जेल भरो आंदोलन के बहाने कांग्रेस पार्टी प्रधानमंत्री का विरोध कर रही है या फिर राज्योत्सव का…जवाब में पीआर खूंटे ने कहा कि पहले एक दिन का राज्योत्सव मनाने का फैसला किया गया। बाद में पांच दिन का कर दिया गया। इसकी मुख्य वजह भाजपा का घटता जनाधार है। स्थानीय निकाय चुनाव में भाजपा की करारी हार हुई है। कांग्रेस को चुनाव में फायदा हुआ। दरअसल घटते जनाधार के कारण ही राज्योत्सव को पांच दिन का कर दिया गया। बताना चाहूंगा कि प्रधानमंत्री का जनाधार प्रदेश के मुखिया को काम आने वाली नहीं है। प्रदेश की जनता पर मोदी के सर्जिकल स्ट्राइक का जादू नहीं चलने वाला।  2018 चुनाव में कांग्रेस की ही जीत होगी।

               आपकी पार्टी से बड़े नेता बाहर हो गए हैं…जोगी जैसे बड़े आदिवासी नेता का दावा है कि 2018 में कांग्रेस को करारी हार मिलेगी और छजकां की सरकार बनेगी के सवाल पर…. खुंटे ने कहा कि जोगी कांग्रेस के बिना एक कदम भी नहीं चल सकता है। वह कभी भी कांग्रेस का बड़ा नेता नहीं था। आज भी नहीं है। जोगी ने भीतरघात कर कांग्रेस को बहुत नुकसान पहुंचाया है। कांग्रेस के अन्दर रहकर दुकानदारी करता था। जोगी के पार्टी से हटने पर कांग्रेस एक जुट हो गयी है। आरके राय को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। अब सियाराम की बारी है। पार्टी विरोधी गतिविधियों की कुण्डली हमारे सामने है…उन्हें भी पार्टी के बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।IMG-20161101-WA0352

                                                     विधानसभा चुनाव में छजकां की भूमिका पर खूंटे ने कहा कि बाप बेटों की कांग्रेस से अलग होकर कोई औकात नहीं बनती है। विधानसभा चुनाव में दोनों जमानत जब्त हो जाएगी। उन्होने कहा कि जोगी ने मुख्यमंत्री कार्यकाल में जमकर भ्रष्टाचार किया। खूब कमाया। आजकल वही पैसा भीड के रूप में दिखाई देती है। खूंटे ने कहा कि जोगी ना तो जनाधार वाला नेता था और ना ही आदिवासी नेता ही है। जोगी के सभा में भारी भीड़ के सवाल पर खूंटे ने कहा कि जोगी ने अपने मुख्यमंत्रित्व काल में भ्रष्टाचार से पैसा कमाया है। वही आज उसकी भीड़ दिखाई देती है। लाखों रूपए बांटकर जोगी अपनी सभा में भीड़ जुटाता है। जोगी की औकात नहीं है कि वह चुनाव जीत सके। जोगी जिस तेजी से ऊभरा था उसी गति से गिर रहा है। किसी माई के लाल में ताकत नहीं है कि जोगी को चुनाव जीता सके। दरअसल कांग्रेस के बिना जोगी की औकात शून्य है। अच्छा हुआ जोगी को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। वह पार्टी के अन्दर रहकर कारोबार करता था।

                                 खूंटे ने कहा कि हरिप्रसाद के बारे में जोगी और धरमजीत जानते ही कितना हैं। पहले अपनी औकात तो देखें। हरिप्रसाद हमारे बड़े नेता हैं। टीएस सिंह देव और भूपेश बघेल ने हरिप्रसाद के मार्गदर्शन में कांग्रेस को प्रदेश में मजबूत किया है। अब 2018 में कांग्रेस की सरकार भी इन्ही नेताओं के मार्गदर्शन में बनेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *