गिरफ्तार कांग्रेसियों ने कहा..जनता सिखाएगी सबक…भूमिपूजन कार्यक्रम के पहले सैकड़ों गिरफ्तार…कहा…यह कैसा विकास

बिलासपुर— कांग्रेस नेताओं ने आज प्लेनेटोरियम और व्यापार विहार में स्थित स्मार्ट सड़क भूमिपूजन के पहले कार्यक्रम का विरोध किया। इसके पहले मंत्री अमर अग्रवाल भूमिपूजन करने मौका पर पहुंचते। प्रदर्शन करने वाले सभी कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर तारबाहर थाना भेज दिया। इस दौरान कांग्रेसियों ने जमकर हंगामा मचाया। आक्सीजोन में पौधा काटे जाने का विरोध किया।
          व्यापार विहार में कांग्रेस नेताओं को स्मार्ट सड़क और भूमिपूजन का विरोध करना भारी पड़ा। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर अस्थायी जेल भेज दिया। विरोध कर रहे कांग्रेसियों ने बताया कि  मंत्री जी अपने मंसूबों को कामयाब करने मासूम पेड़ों की बलि चढ़ाने जा रहे हैं । मंत्री जी दिन में तारे दिखाने के लिए मासूम पेड़ों की बलि क्यों दे रहे हैं। क्या उनके पास तारामंडल के लिए कोई और जगह नहीं बची। जब हम सब पेड़ों की रक्षा करने पेड़ों की कटाई के विरोध करने पहुंचे, तो पुलिस को आगे कर गिरफ्तार कर तारबार थाना भेज दिया गया।
                     कांग्रेस प्रवक्ता शैलेश पांडेय,अटल श्रीवास्तव,नरेन्द्र बोलर,विजय केशरवानी और शैलेन्द्र जायसवाल ने बताया कि पहले लिंकरोड के पेड़ों की बलि चढ़ाया गया।  फिर व्यापार विहार, दयालबंद, मुंगेली नाका, कोनी मार्ग, रायपुर रोड, कोटा रोड के हजारों पेड़ों को मौत के घाट उतारा गया। जिसके कारण गर्मी में  शहर का तापमान  50 डिग्री पहुंच जाता है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि आज तक इन पेड़ों के बलि के बाद कितने पेड़ लगाए गए। स्थानीय विधायक और नगर निगम प्रशासन को बताना होगा।
               कांग्रेस नेता शैलेश और अटल ने बताया कि पिछले 20 सालों सालों से बिलासपुर का विकास तेजी से पिछड़ता जा रहा है। अब छत्तीसगढ़ का दूसरे सबसे बड़े शहर का नाम पांचवे छठवे में आने लगा है | अरपा परियोजना सिर्फ कागजों में सिमट चुकी है | ट्रांसपोर्ट नगर अब तक बसा नहीं, गोकुल धाम की डेयरियां शहर में संचालित हो रही है | लागत से तीन गुना ज्यादा पैसे में एक आडोटोरियम बनाया गया। भ्रष्टाचार की मोटी परतों से बिछाई गई सड़कों के ऊपर का डामर इस बार तो चुनाव तक भी नहीं चल पा रहा है | एक ही जगह के सौंदर्यीकरण को बार-बार उजड़ा जा रहा है। जनता के करोड़ों रुपये को बर्बाद किया जा रहा है | कांग्रेस के तीन साल के शासनकाल के बाद ना तो एक भी सड़क का चौड़ीकरण हुआ और ना ही शहर का दायरा बढ़ सका |
                 कांग्रेसियों ने कहा कि अब सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। मंत्री महोदय पेड़ों कि बलि चढ़ाकर दिन में तारा दिखाना चाह रहे हैं | यह तो समय पर ही पता चलेगा कि जनता किसकों तारा दिखाती है। कांग्रेस नेताओं के अनुसार शहर में प्लेनेटोरियम को स्मृति वन या उर्जा पार्क में आसानी से बनाया जा सकता था। लेकिन स्मृति वन और ऊर्जा पार्क बिलासपुर विधानसभा में नहीं आते हैं। इसका फायदा प्रतिद्वंदी को मिल जाता, इसलिए उन स्थानों का चयन नहीं किया गया । रायपुर आज चौथे मास्टर प्लान की और आगे बढ़ चुका है। बिलासपुर में एक मास्टर प्लान को लागू नहीं हो पा रहा है | क्या इसी को विकास कहते हैं।
                    जनता के पैसों को बर्बाद करने वालों को जनता सबक सिखाएगी। गिरफ्तारी और विरोध प्रदर्शन के दौरान जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेंद्र बॉलर, प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, प्रदेश प्रवक्ता शैलेश पाण्डेय, नेता प्रतिपक्ष शेख नज़रुद्दीन, महेश दुबे, शिवा मिश्रा, विजय पाण्डेय, राजेश पाण्डेय, शैलेन्द्र जायसवाल, पंच राम सूर्यवंशी, अखबार अली, जावेद मेनन, तैयब खान, निर्मल मानिकपुरी, रामा बघेल, कराम गोरख, अभय नारायण समेत सैकड़ों कांग्रेसी मौजूद थे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *