पार्टी और प्रदेश को जोगेरिया दीमक से बचाया…अटल

Er. Atal Shrivatstavaबिलासपुर— भूपेश बघेल पर लगाए गए अजीत जोगी के सभी आरोप अंत में गलत पाया गया है। जिस तत्परता से प्रदेश सरकार ने विधि के विपरीत जाकर बरसात में खड़ी फसल के बीच जमीन का सीमांकन कराया अब सब कुछ सामने आ गया है। अब सरकार को भी भूपेश बघेल को क्लिन चिट देना पड़ा है। क्योंकि भूपेश बघेल का राजनैतिक जीवन खुली किताब है। यह बातें पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने भूपेश बघेल को जमीन मामले में सरकार से क्लिन चिट मिलने के बाद कही।

                               अटल श्रीवास्तव ने बताया कि भूपेश का राजनैतिक जीवन कांच की तरह साफ है। अजीत जोगी के सारे आरोप गलत साबित हुए हैं। जोगी जैसे लोगों को जनता अच्छी तरह से वाकिफ है। क्लीनचीट मिलने पर संयुक्त बयान जारी कर पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव, जिला अध्यक्ष ग्रामीण राजेन्द्र शुक्ला ,शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, ने कहा कि हम मुख्यमंत्री से निवेदन करते हैं कि जितनी तत्परता भूपेश बघेल पर लगे आरोपों की जांच में दिखाई गयी है। कुछ ऐसी ही तत्परता अजीत जोगी के जाति, अमित जोगी के जन्म प्रमाण पत्र और अंतागढ़ टेप कांड सी.डी. जांच में भी कराएं। जनता के सामने जोगी की सच्चाई सामने आ जाएगी।

                       कांग्रेस नेता ने कहा कि भूपेश बघेल जनता के जनादेश पर विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं। घोटालों को उजागर कर रहे हैं। जनहित में भूपेश ने परिवर्तन का बीड़ा उठाया है। जाहिर सी बात है कि सरकार के मित्र मंडल नेताओं को तकलीफ हो रही है। समझना होगा कि काठ का हांडी बार बार नहीं चढती है। अजीत जोगी के साथ भी ऐसा ही कुछ है।

                                    कांग्रेसियों ने अमित जोगी के बयान को खिसयानी बिल्ली खम्भा नोंचे जैसा बताया है। अमित जोगी अपने पिता की सीट कांग्रेस पार्टी के चुनाव चिन्ह पर विधायक बने हैं। इसलिए अमित को कांग्रेस और भूपेश पर बोलने का नैतिक हक नहीं है। प्रदेश अध्यक्ष और पार्टी के खिलाफ बोलने से पहले अमित को नया जनादेश लेना होगा।

                        कांग्रेसियों के अनुसार जोगी के कारनामों से छत्तीसगढ़ की जनता भली-भांति परिचित है। साल 2018 चुनाव में छत्तीसगढ़ की आदिवासी, गरीब जनता हिसाब चुकता करने वाली है। कांग्रेस कोटे से विधायक बनने और पिता के नाम पर राजनीति करने वाले अंतागढ़ सीडी कांड के हीरो का परिणाम सामने आ जाएगा। अमित को मालूम होना चाहिए कि भूपेश ने ही प्रदेश और पार्टी को खोखला करने वाले जोगेरिया दीमक का इलाज किया है। बाहर होने के बाद अब जोगेरिया-जोगेरिया रट रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *